रोहतक : सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि हरियाणा खेलों में नंबर वन पर था, लेकिन भाजपा ने उसे बैकफुट पर लाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि ये दुर्भाग्य है कि प्रदेश को भाजपा की ऐसी सरकार मिली है, जिसने विकास और जनहित तो दूर प्रदेश को हिंसा की आग में झोंकने का नया कीर्तिमान स्थापित किया है। प्रदेश की जनता भाजपा को बहुत करीब से देख चुकी है कि सरकार ने अगर कुछ किया है तो बस भाईचारा तोडऩे और लोगों को बांटने का काम किया है।

भाजपा सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान तीन बार हरियाणा को जलाने काम किया, तीन बार गोली चलवाई और तीन बार ही सेना बुलाना पड़ा। जिससे 75 बेकसूर लोगों कि जानें गई ऐसा प्रदेश के इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ था। रविवार को सांसद दीपेंद्र हुड्डा जनता कालोनी में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा की यह नीति रही है कि देश-प्रदेश और भाईचारे को तोड़कर व बांटकर राज करे, लेकिन जनता अब इनको समझ चुकी है, और मन बना चुकी है अगली सरकार कांग्रेस की होगी। कांग्रेस पृष्ठभूमि हमेशा भाईचारे को जोडऩे की रही है।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार से नई विकास परियोजनाएं मंजूरी की तो कोई उम्मीद नहीं है, अगर भाजपा सरकार कांग्रेस शासन की मंजूरशुदा परियोजनाओं पर ही काम पूरा कर दें तो यह भी गनीमत ही रहेगी। भाजपा में सकारात्मक प्रतिस्पर्धा की भावना और नियत नहीं है। सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस शासन काल में प्रदेश ने भाईचारे की नींव पर विकास के मामले में जो गति पकड़ी थी, अब पिछले चार साल में भाजपा सरकार ने उस पर ब्रेक लगा कर अब रिवर्स गेयर पीछे ले जाने का काम किया है। विकास और जनहित के काम पूरी तरह ठप हैं।

उन्होंने कहा प्रदेश में जिस प्रकार के हालात बन रहे हैं ऐसी संभावनाएं हैं कि लोकसभा के साथ ही प्रदेश के विधानसभा चुनाव करा दिये जाएं। सांसद ने कहा पिछले 4 सालों में प्रदेश का विकास थम गया है और लोगों को बिजली-पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं के लिए भी संघर्ष करना पड़ रहा है। भाजपा सरकार की नाकामी का रिजल्ट अब सबके सामने आ रहा है। लोगों को न तो बिजली मिल रही है और न ही पानी। जो सरकार आम लोगों को मूलभूत सुविधाएं नहीं दे पाये ऐसी सरकार से और कुछ बेहतर की उम्मीद करना ही समय बर्बाद करने जैसा है।

भाजपा सरकार अब अपने कार्यकाल के अंतिम वर्ष में है और अब सरकार को लोगों के सामने इन चार सालों में किये गये कामों का लेखा जोखा रखना पडेगा। सरकार को बताना पडेगा कि विकास और जनहित में क्या क्या काम किये गये हैं। इस अवसर पर विधायक रघुबीर सिंह कादियान, पूर्व विधायक भारत भूषण बत्रा, पूर्व मेयर रेणु डाबला, पार्षद गुलशन इसपुनियानी, समेराम खत्री, कदम सिंह अहलावत, देवेन्द्र भारत, दिलावर सिंह फोगाट, समेत अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

(मनमोहन कथूरिया)