फतेहाबाद : नोटबंदी के दो साल पूरे होने पर कांग्रेस पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर के नेतृत्व में पार्टी के पदाधिकारियों ने लघु सचिवालय के समक्ष धरना दिया। प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि इससे 15 लाख लोगों की नौकरी गई और जीडीपी एक फीसदी घटी। उन्होंने नोटबंदी को क्रूर षड्यंत्र बताया है। नोटबंदी के कारण लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बने पर देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत किया जाएगा। प्रदेशाध्यक्ष ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री के ‘सूट-बूट वाले मित्रों’ ने अपने कालेधन को सफेद करने का काम किया।

प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि भारत के इतिहास में आठ नवंबर की तारीख को हमेशा कलंक के तौर पर देखा जाएगा। दो साल पहले 2016 में प्रधानमंत्री मोदी ने देश पर नोटबंदी का कहर बरपाया। उनकी एक घोषणा से भारत की 86 फीसदी मुद्रा चलन से बाहर हो गई जिससे हमारी अर्थव्यवस्था थम गई। नोटबंदी के बाद 100 से अधिक लोगों की लाईनों में मौत हो गई। उन्होंने दावा किया कि मोदी सरकार ने नोटबंदी के समय जिन लक्ष्यों की बात की थी उनमें से एक भी लक्ष्य पूरा नहीं हो सका है और इसके उलट देश की जीडीपी में एक फीसदी की कमी आई।

धरने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डा. अशोक तंवर ने कहा कि इनेलो में छिड़ी जंग के बाद अभय चौटाला का नेता प्रतिपक्ष का पद जाना यह तय है। इनेलो विधायकों को अपने साथ बनाए रखने के लिए ही अभय चौटाला ने आज सिरसा में इनेलो विधायकों को बैठक में बुलाया है। अभय चौटाला दुष्यंत चौटाला द्वारा 17 नवम्बर को जींद में बुलाए गए सम्मेलन में इनेलो विधायकों को भाग लेने से रोकने के लिए उन्हें आज ही सिरसा से गोवा ले जा रहे है।

इस अवसर पर औमप्रकाश केहरवाला, पूर्व विधायक कुलबीर बैनीवाल, टेकचन्द मिड्डा, सुभाष बिश्नोई, दीपक भिरड़ाना, देवेन्द्र बबली, कृष्णा पूनिया, जिला मीडिया प्रभारी प्रवीन भिरड़ाना, समाजसेवी चौधरी हंसराज शहीदवाला, सुरजीत मैडल, जगजीत हुड्डा, भवानी सिंह, राजेश वर्मा, नगरपार्षद वजीर जाखड़, जग्गृ मिस्त्री, एडवोकेट सीता राम, कृष्ण लेगा, डा. पृथ्वीपाल शास्त्री, राजेश गांधी, विनोद बबली, रामतीर्थ बैनीवाल, भीम नारंग, संजीव बैनीवाल, कृष्ण कंबोज, कालू बरसीन, बलजीत बैनीवाल, पृथ्वी केहरवाला, गुरदीप चहल, ललित, मनोहर हम्बीरिया, जयवीर भरपूर, मंगतराम लालवास, देवराज हड़ौली, रमेश डांगरा, सतीश खटक, नत्थू राम भूना, जगदीश तनेजा, बनवारी लाल, नरेश बांगड़वा, जगदीश कटारिया, राजवीर सोनी, सतीश बागोरिया इत्यादि कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।

ईश्वर सिंह हरियाणा में शिक्षा की क्रांति लेकर आए : अशोक तंवर

– सुनील सचदेवा