गोहाना : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष एवं विधायक सुभाष बराला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रतिनिधि के तौर पर बरोदा विधानसभा क्षेत्र को 38 करोड़, 67 लाख रुपये की विकास परियोजनाओं की नई सौगात देेते हुए कहा कि आज हरियाणा के हर क्षेत्र में एक राय बन रही है। यह राय है परिवारतंत्र बनाम लोकतंत्र। भाजपा सरकार ने प्रदेश की जनता को लोकतांत्रिक शासन प्रदान किया है। जनता ने परिवारतंत्र व लोकतांत्रिक सरकारों के बीच का अंतर देख लिया है और अब वे लोकतांत्रिक सरकार को मजबूती देने के पक्ष में है। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष रविवार को बरोदा हलके की जन विश्वास रैली में उपस्थित जनसमूह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व में पूरा प्रदेश लोकतांत्रिक सरकार के शासन में आये बदलाव को महसूस कर रही है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बिना किसी भेदभाव के हर क्षेत्र में विकास की नई कहानी लिखी है। बरोदा में भले ही भाजपा का विधायक नहीं है, इसके बावजूद मुख्यमंत्री ने यहां करीब 165 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की सौगात दी थी। ऐसा समस्त प्रदेश में किया गया है। मुख्यमंत्री ने कमान संभालते ही दो माह में प्रदेश के सभी जिलों का दौरा कर प्रदेश को समझने का कार्य किया। इसके बाद दो वर्ष के भीतर सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों का दौरा 200-200 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं की सौगात दी।

हरियाणा के परिवहन एवं आवास मंत्री कृष्णलाल पंवार ने कहा कि प्रदेश सरकार के चार वर्ष को लेखा-जोखा जनता को देने के लिए इस प्रकार के आयोजन प्रदेशभर में किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अपने चार वर्षों के कार्यकाल में प्रदेशभर में करीब 6000 घोषणाएं की हैं, जिनमें से 80 प्रतिशत पूर्ण हो चुकी हैं। शेष घोषणाओं पर कार्य चल रहा है। उन्होंने कमजोर वर्ग के लोगों का आह्वान किया कि वे किसी के बहकावे में न आयें। भाजपा के हाथों में ही उनके हित सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि किसान-मजदूर की भी सच्ची हितैषी भाजपा ही है। इसके अलावा उन्होंने परिवहन विभाग की नई योजनाओं की जानकारी दी। सांसद रमेश कौशिक ने अपने संबोधन में कहा कि आज देश-प्रदेश में सड़कों का जाल बिछाकर विकास का नया रास्ता खोला गया है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन, भाजपा के जिलाध्यक्ष डा. धर्मबीर नांदल, चेयरपर्सन मीना नरवाल, चेयरमैन नत्था सिंह सैनी, चेयरमैन कुलदीप नांगल, वाइस-चेयरमैन ललित बतरा, बलजीत मलिक, डा. ओमप्रकाश आत्रेय, आजाद सिंह नेहरा, रविंद्र दिलावर, डा. निशांत छौक्कर आदि गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

दूसरे का परिवार खत्म कर हमारी राजनीतिक लाभ लेने की कोई सोच नहीं : मुख्यमंत्री