झज्जर: कांग्रेस अध्यक्ष डा.अशोक तंवर ने बाबरी मस्जिद के 25 साल पुराने मामले की दोबारा सुनवाई होने पर कहा कि सच्चाई तो यह है कि सत्ताधारी भाजपा राजनीति को एक तरह से तुरूप का इक्का समझ रही है और इसी तुरूप के इक्के का इस्तेमाल कर वह राजनीतिक लाभ लेना चाहती है। डा. तंवर डा. भीमराव अम्बेड़कर के महापरिनिर्वाण दिवस पर झज्जर के सीताराम गेट मेंआयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करने उपरान्त मीडिया के लोगों से बातचीत कर रहे थे।

तंवर ने देश के सभी राजनीतिक दलों से भी इस मामले में राजनीति न करने का अनुरोध किया। उन्होंने बाबरी मस्जिद मामले में सर्वोच्च न्यायालय से देशहित में न्याय करने की अपील की। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के विदेशी दौरे पर तंज कसते हुए तंवर ने कहा कि सीएम का यह दौरा सैर सपाटे के लिए तो अच्छा है लेकिन सीएम के इस दौरे से हरियाणा में कुछ निवेश होने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि सीएम जनता के गाढ़े खून-पसीने की कमाई अपने सैर-सपाटे में खराब कर रहे है। इन सब बातों को हरियाणा की जनता देख रही है जिसका समय आने पर जनता दबाव देगी।

राहुल गांधी को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा उन्हें ओरंगजेब की संज्ञा दिए जाने पर बोलते हुए तंवर ने कहा कि इस बयान से मोदी जी की बोखलाहट साफ झलक रही है। इसे उन्होंने प्रधानमंत्री का राजनीतिक हलकापन करार दिया।
उन्होंने कहा कि सही फैसले लेने का अधिकारीकेवल मोदी जी के पास ही नही है। पूरी कांग्रेस पार्टी ने मिलकर ये फैसला लिया है।

लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक करें।

(विनीत नरुला)