करनाल : प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा कि जिस तरह भाजपा ने दलितो को दौड़ा-दोड़ा कर पीटा है ठीक वैसे ही प्रदेश की जनता भी चुनावो के दौरान भाजपा नेताओ को दौड़ा-दौड़ा कर पीटेगी। क्योंकि भाजपा के पाप का घड़ा अब भर गया है। इसलिए कांग्रेस भाजपा को श्राप देती है कि जिस तरह निर्दोषो को पीटा गया उसी तरह भाजपा नेता भी गांव-गांव पीटेंगे। उन्होने कहा कि चार सालो में जब भाजपा विकास के नाम पर कुछ नही कर पाई तो भाजपा ने देश में भाईचारा और एकता का माहौल बिगाडने के लिए देश में जातिवाद फैलाने की साजिश रच डाली। आरएसएस और भाजपा ने इसके लिए अपने प्रशिक्षित कार्यकत्र्ता तैयार किए हैं। वह आज लघु सचिवालय के सामने कांगे्रसियों द्वारा सामूहिक उपवास के दौरान दिए जा रहे धरने में बोल रहे थे। उन्होने भाजपा पर दलितो को कुचलने का आरोप जड़ते हुए कहा कि बाबा साहब ने दलित सामाज को एनके अधिकारो का कवच दिया था। ताकि उनके अधिकार सुरक्षित रहें। लेकिन भाजपा ने उनके अधिकार छीन लिए।

मोदी सरकार ने जानबुझकर गल्त तथ्य पेश किए। जिसके चलते उच्चतम न्यायालय ने अपना फैसला सुनाया। उन्होने कहा कि मोदी सरकार लोगो का सामाजिक उत्पीडऩ करके सामाज में जहर घोल रही है। मोदी सरकार ने विकास के नाम पर तो कुछ किया नहीं इसलिए फिर से जातिवाद और सामाजिक उत्पीडऩ का जहर घोल के चुनाव जीतना चाहती है। उन्होने कहा कि यदि भाजपा में दम है तो वह सार्वजनिक तौर पर तथ्य पेश करें। हरियाणा का जिक्र करते हुए कहा कि हरियाणा को मनोहर सरकार ने चार बार आग में झोंक दिया। दलितो के आन्दोलन के दौरान दो स्थानो पर गोलियां चलाई गई। एक षडयंत्र के तहत दलितो को सड़को पर दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया।

उन्होने कहा कि मनोहर सरकार ने भी विकास करने की बजाए विकास कार्याे का नाम बदलने का काम किया। हरियाणा की जनता सब देख रही है। चुनावो के दौरान भाजपा की मुर्दा सरकार उखड़ जाएगी। उन्होने सरकार के खिलाफ आन्दोलन करने वाले कर्मचारियो को अपना समर्थन देते हुए कहा कि वह भाजपा मुर्दाबाद के नारे न लगाए। क्योंकि जो पहले से ही मुर्दे हैं उन्हे मुर्दा कहने की क्या जरूरत है। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश सचिव पंकज पुनिया ने की थी। पुनिया ने कहा कि केंद्र और प्रदेश में निश्चित तौर पर कांग्रेस की सरकार बनेगी। राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री और अशोक तंवर प्रदेश के मख्यमंत्री बनेगें। इस अवसर पर डा. सुनील पवार, कृष्ण बसताडा, दीपा राणा, संतोष केरालिया, ज्ञान सहोता, कुलवंत कलेंर, मुनीश कामरा समेत दर्जनो कांग्रेसी मौजूद थे।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।

– हरीश चावला