महेन्द्रगढ़ : पूर्व मुख्यमंत्री चौ. ओम प्रकाश चौटाला के परिवार में छिड़े सियासी जंग पर शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने कहा कि ये चौटाला परिवार का निजी मामला है। उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात की उम्मीद है कि इस परिवार में समझौता हो जायेगा। उन्होंने हरियाणा में किसी अन्य राजनैतिक दल के गठन की संभावना को सिरे से खारिज कर दिया। शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने बुधवार को दिवाली के अवसर पर अपने महेन्द्रगढ़ स्थित आवास पर प्रैस से मिलन कार्यक्रम के दौरान कहा कि वे चौटाला परिवार को काफी नजदीक से जानते हैं। उन्होंने चौ. देवी लाल के साथ भी बतौर मंत्री काम किया और वे उनके साथ जेल में भी रहे।

उन्होंने कहा कि इस परिवार से उनकी नजदीकियां होने के कारण आज उन्हें इस बात की तकलीफ है कि इस परिवार में सियासी जंग चल रहा है। उन्होंने चौ. औमप्रकाश चौटाला को सुझाव दिया कि वे अपने परिवार को इकट्ठा बैठा कर उन्हें समझाये। श्री शर्मा ने एक सवाल के जवाब में केन्द्रीय राज्य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह एवं सांसद दुष्यंत चौटाला की भेंट के संबंध में कहा कि राजनीति में इस प्रकार की भेंटे होती रहती हैं। इसका कोई राजनैतिक मायना नहीं निकालना चाहिए।

उन्होंने एक अन्य प्रश्न के उत्तर में कहा कि हरियाणा में किसी अन्य राजनैतिक दल के गठन की संभावना नहीं है। अयोध्या में राम मंदिर विषय को लेकर शिक्षा मंत्री ने कहा कि अब मंदिर निर्माण में कोई विलम्ब नहीं होगा। उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि इससे करोड़ों लोगों की जनभावना जुड़ी है। अब मंदिर निर्माण हो कर रहेगा।

राम मंदिर समय की मांग : शर्मा

– सरोज यादव