BREAKING NEWS

सत्यपाल मलिक बोले- किसी दल में न शामिल होऊंगा और न ही चुनाव लड़ूंगा◾कार्यकर्ताओं से थरूर का वादा - बंद करूंगा एक लाइन की पंरपरा, क्षत्रपों को दूंगा बढ़ावा ◾कांग्रेस का अध्यक्ष मैं हूं? थरूर बोले- पार्टी को लेकर मेरा अपना दृष्टिकोण.... मैं हूं शशि पीछे नहीं हटूंगा ◾KCR द्वारा राष्ट्रीय पार्टी की औपचारिक घोषणा के बाद विमान खरीदेगा टीआरएस ◾अफगानिस्तान : धमाके में बिखर गए मासूमों के शरीर, काबुल के स्कूल में फिदायीन हमला ◾ अफगानिस्तान : धमाके में बिखर गए मासूमों के शरीर, काबूल के स्कूल में फिदायीन हमला ◾पंजाब : कांग्रेस ने भगवंत मान पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप, पूछा- क्या हुआ उन उपदेशों का ?◾CDS जनरल चौहान ने कार्यभार संभालने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से की मुलाकात ◾कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में नामांकन कर सबको चौंकाने वाले केएन त्रिपाठी कौन ? चुनाव को लेकर कितने गंभीर ◾इलाहाबाद HC ने मुख्यमंत्री योगी द्वारा दिए गए राजस्थान में आपत्तिजनक भाषण पर दायर याचिका को खारिज किया ◾खड़गे vs थरूर! कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर बोले मल्लिकार्जुन- मुझे पूरा विश्वास... मैं ही जीतूंगा◾कांग्रेस मुख्यालय में पहुंचे गहलोत, सचिन पायलट के समर्थकों ने की नारेबाजी◾Ankita Murder Case : अंकिता हत्याकांड में विशेष जांच दल को हाथ लगा बड़ा सबूत, SIT को मिला मोबाइल ?◾प्रमोद तिवारी का भाजपा पर तंज, कहा- अपनी आंख खोलो और देखो कांग्रेस में चुनाव होता है आपके यहां नहीं ◾हाथ पर हाथ धरी रह गई सपा, दफ्तर पर चल गया सरकार का बुल्डोजर◾गुजरात में बोले PM मोदी-21वीं सदी के भारत को देश के शहरों से मिलने वाली नई गति◾कौन होगा कांग्रेस का अध्यक्ष? गहलोत बोले- हम मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ खड़े, वह एक अनुभवी नेता है ◾कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव : थरूर, त्रिपाठी , खड़गे में कड़ा मुकाबला, असमंजस में बनी स्थिति साफ ◾SC ने संसद भवन के शेर की मूर्ति को लेके दायर याचिका कि खारिज, कहा- कानून का नहीं हुआ कोई उल्लंघन ◾रोचक बनी कांग्रेस अध्यक्ष की लड़ाई, खड़गे के समर्थन में उतरे गहलोत◾

आतंकियों को ढेर करने वाले कमांडो का गांव वालों ने किया जोरदार स्वागत

कमांडो मुबारिक अली का आज राजस्थान के झुंझुनूं जिले में उसके पैतृक गांव में लोगों ने जोरदार स्वागत किया। आपको बता दे कि कमांडो मुबारिक अली ने जम्मू & कश्मीर में सीने पर गोली लगने के बावजूद 3 आंतकवादियों को ढेर किया था ।

इन दिनों मेडिकल रेस्ट पर चल रहे मुबारिक अली ने बताया कि 30 जुलाई को सुबह सात बजे उनकी टीम पुलवामा के दहाब क्षेत्र में सर्च अभियान पर थी और नदी के किनारे गांव में एक घर के पास हलचल हुई। वे कुछ समझ पाते इतने में ही सामने से कुछ लोग फायर करते हुए भागने लगे।

मुबारिक ने उन पर फायर किया। इस दौरान आतंकियों की गोली मुबारिक के दाहिने हाथ से निकल कर पार हो गई। एक गोली उनके सीने पर लगी।

उन्होंने बताया कि बुलेट प्रूफ जैकेट पहनी होने के कारण गोली सीने के पार नहीं हो सकी। घायल होने के बावजूद मुबारिक ने एक हाथ से फायर करते हुए तीन आतंकियों को मार गिराया। पीछे चल रहे साथी जवानों ने इसकी सूचना यूनिट को दी। सेना के हेलीकॉप्टर से कमांडो मुबारिक को श्रीनगर के अस्पताल लाया गया।

माता हाजन आमीना बानो एवं पत्नी शहनाज बानो तथा देश के लोगों की दुआओं की बदौलत कमांडो मुबारिक अली ठीक हो गए। कमांडो के दो भाई सूबेदार सुभान अली दफेदार मोहम्मद रफीक भी सेना में हैं। कमांडो मुबारिक के पिता हाकिम अली किसान है।

कमांडो मुबारिक अली का विधायक नरेंद कुमार खीचड़ ने सम्मान किया। इस अदम्य साहस पर गांव के कायमखानी समाज ने मुबारिक खान की जांबाजी पर गर्व महसूस किया है। कमांडो मुबारिक अली 1997 में सेना की 16 ग्रेनेडियर में भर्ती हुए थे। बाद में 55 राष्ट्रीय राइफल्स में शामिल मुबारिक अली ने करगिल युद्ध में भी भाग लिया था। वे बताते हैं कि उनकी यूनिट करगिल के द्रास सेक्टर में तैनात थी।