BREAKING NEWS

PM मोदी की अपील पर करोड़ों भारतीयों ने दीये, मोमबत्ती, मोबाइल फोन की फ्लैशलाइट जलाई◾कोरोना के खिलाफ जंग में पूरा देश जगमगाया मोमबत्ती और दीपों से, लोगों ने दिया एकजुटता का सन्देश ◾कोविड 19 : कोरोना के खिलाफ एकजुट दिखा भारत, मोदी की अपील पर देशवासियों समेत कई बड़े नेताओं ने जलाए दीये ◾रक्षा प्रमुख अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने दिल्ली में कोविड-19 शिविर का किया दौरा◾उपराज्यपाल ने स्वास्थ्य विभाग को दिए निर्देश, कहा- ऐसे निजी अस्पतालों की करे पहचान जहां हो सके कोविड-19 का इलाज ◾स्वास्थ्य मंत्रालय : देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3,577 तक पहुंची, अब तक 83 लोगों की मौत ◾राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के लॉकडाउन तोड़ने का विडियो निकला फर्जी, झूठे दावे के साथ किया गया था वायरल ◾देश के 274 जिले कोरोना वायरस से प्रभावित, मृतकों की संख्या 79 पहुंची : स्वास्थ्य मंत्रालय ◾कोरोना संकट के मद्देनजर PM मोदी ने सोनिया, प्रणव सहित अन्य शीर्ष नेताओं से फोन पर की बात◾रिलीफ फ्लाइट से मलेशिया भागने की कोशिश कर रहे तबलीगी जमात के 8 संदिग्ध दिल्ली के IGI एयरपोर्ट पर धरे गए◾PM मोदी ने ट्वीट कर रात 9 बजे 9 मिनट के लिए देशवासियों को लाइट बंद करने की याद दिलाई ◾Coronavirus : दुनियाभर में 12 लाख से अधिक पॉजिटिव केस की पुष्टि, लगभग 65,000 लोगों की अब तक मौत◾कोरोना संदिग्ध ने दिल्ली AIIMS की तीसरी मंजिल से लगाई छलांग, पैरों में हुआ फ्रैक्चर◾जम्मू-कश्मीर में पिछले 24 घंटे में मुठभेड़ में सेना द्वारा मारे गए 9 आतंकवादी, जवाबी कार्यवाही जारी ◾दिल्ली स्टेट कैंसर इंस्टीट्यूट के 2 नर्सिंग स्टाफ कोरोना संक्रमित, अब तक कुल 6 मामले आए सामने◾PM मोदी की अपील पर आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए देश भर की लाइट होंगी बंद◾जमातियों का जमघट : देर रात इंडोनेशियाई की 5 महिला मौलवी सहित मस्जिद में छिपे 15 दबोचे गए◾कोरोना वायरस : देश में संक्रमितों की संख्या 3,300 के पार, 77 लोगों की मौत की पुष्टि ◾अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण मामलों की संख्या 3 लाख के पार हुई, इटली में 15362 लोगों की मौत ◾कोविड-19: दिल्ली में संक्रमण के मामले बढ़कर हुए 445, उनमें से 301 लोग हुए थे निजामुद्दीन के कार्यक्रम में शामिल ◾

36 मंत्रियों को 6 दिनों के भीतर कश्मीर भेजना घबराहट का संकेत : मनीष तिवारी

कांग्रेस ने केंद्र के 36 मंत्रियों को कश्मीर भेजने के सरकार के फैसले को घबराहट का संकेत करार देते बृहस्पतिवार को दावा किया कि अनुच्छेद 370 के विशेष प्रावधानों को खत्म करना एक बड़ी गलती थी और अब त्वरित उपाय काम नहीं आएंगे। पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी ने ट्वीट कर कहा, ''36 मंत्रियों को छह दिनों के भीतर जम्मू-कश्मीर भेजना सामान्य स्थिति का नहीं, बल्कि घबराहट का संकेत है। 

अनुच्छेद 370 को हटाना बड़ी गलती थी और कोई भी त्वरित उपाय काम नहीं आने वाला है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा, ''अमित शाह कहते हैं कि कश्मीर में सब कुछ सामान्य है। अगर ऐसा है तो 36 लोगों को दुष्प्रचार के लिए क्यों भेजा जा रहा है? ऐसे लोगों को क्यों नहीं भेजा गया जो दुष्प्रचार नहीं करें और वहां के हालात को समझ सकें। 

खबरों के मुताबिक, केंद्र सरकार के 36 मंत्री 18 से 25 जनवरी तक जम्मू और कश्मीर का दौरा करेंगे तथा सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर के लिए चलाई जा रही योजनाओं और कार्यक्रमों को आम लोगों के बीच पहुंचाएंगे। यह भी कहा जा रहा है कि सरकार कश्मीरी लोगों के बीच उन योजनाओं की जानकारी पहुंचाना चाहती है जिन्हें अनुच्छेद 370 के विशेष प्रावधानों को हटाने के बाद शुरू किया गया है।