BREAKING NEWS

बिहार में 6 फरवरी तक बढ़ाया गया नाइट कर्फ्यू , शैक्षणिक संस्थान रहेंगे बंद◾यूपी : मैनपुरी के करहल से चुनाव लड़ सकते हैं अखिलेश यादव, समाजवादी पार्टी का माना जाता है गढ़ ◾स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी, कोविड-19 की दूसरी लहर की तुलना में तीसरी में कम हुई मौतें ◾बेरोजगारी और महंगाई जैसे मुद्दों पर कांग्रेस ने किया केंद्र का घेराव, कहा- नौकरियां देने का वादा महज जुमला... ◾प्रधानमंत्री मोदी कल सोमनाथ में नए सर्किट हाउस का करेंगे उद्घाटन, PMO ने दी जानकारी ◾कोरोना को लेकर विशेषज्ञों का दावा - अन्य बीमारियों से ग्रसित मरीजों में संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा◾जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता, शोपियां से गिरफ्तार हुआ लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू◾महाराष्ट्र: ओमीक्रॉन मामलों और संक्रमण दर में आई कमी, सरकार ने 24 जनवरी से स्कूल खोलने का किया ऐलान ◾पंजाब: धुरी से चुनावी रण में हुंकार भरेंगे AAP के CM उम्मीदवार भगवंत मान, राघव चड्ढा ने किया ऐलान ◾पाकिस्तान में लाहौर के अनारकली इलाके में बम ब्लॉस्ट , 3 की मौत, 20 से ज्यादा घायल◾UP चुनाव: निर्भया मामले की वकील सीमा कुशवाहा हुईं BSP में शामिल, जानिए क्यों दे रही मायावती का साथ? ◾यूपी चुनावः जेवर से SP-RLD गठबंधन प्रत्याशी भड़ाना ने चुनाव लड़ने से इनकार किया◾SP से परिवारवाद के खात्मे के लिए अखिलेश ने व्यक्त किया BJP का आभार, साथ ही की बड़ी चुनावी घोषणाएं ◾Goa elections: उत्पल पर्रिकर को केजरीवाल ने AAP में शामिल होकर चुनाव लड़ने का दिया ऑफर ◾BJP ने उत्तराखंड चुनाव के लिए 59 उम्मीदवारों के नामों पर लगाई मोहर, खटीमा से चुनाव लड़ेंगे CM धामी◾संगरूर जिले की धुरी सीट से भगवंत मान लड़ सकते हैं चुनाव, राघव चड्डा बोले आज हो जाएगा ऐलान ◾यमन के हूती विद्रोहियों को फिर से आतंकवादी समूह घोषित करने पर विचार कर रहा है अमेरिका : बाइडन◾गोवा चुनाव के लिए BJP की पहली लिस्ट, मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल को नहीं दिया गया टिकट◾UP चुनाव में आमने-सामने होंगे योगी और चंद्रशेखर, गोरखपुर सदर सीट से मैदान में उतरने का किया ऐलान ◾कांग्रेस की पोस्टर गर्ल प्रियंका BJP में शामिल, कहा-'लड़की हूं लड़ने का हुनर रखती हूं'◾

ISRO के नए अध्यक्ष बने डॉ एस सोमनाथ, विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र के रह चुकें है निदेशक

देश की अंतरिक्ष केंद्र संस्थान विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (वीएसएससी) के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ एस सोमनाथ ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) एवं अंतरिक्ष विभाग के सचिव के नए प्रमुख के तौर पर पदभार ग्रहण कर लिया है। उन्होंने यह पद डॉ.के.सिवान के सेवानिवृत होने के बाद संभाला है। डॉ सिवान का विस्तारित कार्यकाल शुक्रवार 14 जनवरी को खत्म हो गया था। इसरो की ओर से नए प्रमुख के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि डॉ सोमनाथ चार साल तक वीएसएससी के निदेशक रहे हैं और वह वलियामाला स्थित तरल प्रणोदन प्रणाली केंद्र (एलपीएससी) के निदेशक के रूप में भी ढाई साल कार्य कर चुके हैं। 

वर्ष 1985 में वीएसएससी में हुए थे शामिल 

इसरो के नए अध्यक्ष डॉ.सोमनाथ ने कोल्लम स्थित टीकेएम इंजीनियरिंग कॉलेज से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बी.टेक की डिग्री हासिल की है। उन्होंने बेंगलुरु स्थित भारतीय विज्ञान संस्थान से एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में संरचना, गतिशीलता और नियंत्रण में विशेषज्ञता तथा स्वर्ण पदक के साथ परास्नातक की डिग्री हासिल की। वह 1985 में वीएसएससी में शामिल हुए और पीएसएलवी के इंटरगेशन के प्रारंभिक चरणों में टीम के लीडर भी रह चुके हैं। डॉ सोमनाथ प्रक्षेपण यानों के सिस्टम इंजीनियरिंग के विशेषज्ञ हैं। उन्होंने पीएसएलवी और जीएसएलवी-एमके 3 प्रक्षेपण यान के पूरे आर्किटेक्चर जैसे स्ट्रक्चरल डिजाइन, स्ट्रक्चरल डायनामिक्स डिजाइन, सेपरेशन सिस्टम, वेहिकल इंटीग्रेशन और इंटीग्रेशन प्रोस्यूजर डव्लपमेंट में योगदान दिया।

कई अवार्ड से किए जा चुके है सम्मानित 

डॉ सोमनाथ ने एस्ट्रोनॉटिकल सोसाइटी ऑफ इंडिया ने ‘स्पेस गोल्ड मेडल’ से सम्मानित किया जा रहा है। इसके अलावा उन्हें इसरो से ‘मेरिट अवार्ड’ और ‘परफॉर्मेंस एक्सीलेंस अवार्ड’ मिला है तथा जीएसएलवी एमके के विकास के लिए ‘टीम उत्कृष्टता पुरस्कार’ भी हासिल हो चुके हैं। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने गत बुधवार को ही डॉ एस सोमनाथ को अंतरिक्ष विभाग का सचिव और अंतरिक्ष आयोग का अध्यक्ष नियुक्त किया था। कार्मिक मंत्रालय के एक आदेश में कहा गया है कि, उनका कार्यकाल नियुक्ति से तीन साल के लिए होगा। इसमें रिटायरमेंट के बाद उनका विस्तारित कार्यकाल भी शामिल है। डॉ सोमनाथ की पत्नी का नाम वलसाला है और वह जीएसटी विभाग में काम करती हैं। दोनों के दो बच्चे हैं और दोनों बच्चों ने इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री हासिल की है।