BREAKING NEWS

कम्युनिस्ट विचारधारा में कन्हैया की नहीं थी कोई आस्था, पार्टी के प्रति नहीं थे ईमानदार : CPI महासचिव◾ पंजाब में लगी इस्तीफों की झड़ी, योगिंदर ढींगरा ने भी महासचिव पद छोड़ा◾कोलकाता ने दिल्ली कैपिटल्स को 3 विकेट से हराया, KKR की प्ले ऑफ में पहुंचने की उम्मीदें जिंदा◾कोरोना सार्वजनिक स्वास्थ्य चुनौती, केंद्र ने कोविड-19 नियंत्रण संबंधित दिशा-निर्देशों को 31 अक्टूबर तक बढ़ाया◾ क्या BJP में शामिल होंगे कैप्टन ? दिल्ली आने की बताई यह खास वजह ◾UP चुनाव में एक साथ लड़ेंगे BJP-JDU! गठबंधन बनाने के लिए आरसीपी सिंह को मिली जिम्मेदारी◾कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया कुमार, कहा- आज देश को बचाना जरूरी, सत्ता के लिए परंपरा भूली BJP ◾सिद्धू के इस्तीफे से कांग्रेस में हड़कंप, कई नेता बोले- पार्टी की राजनीति के लिए घातक है फैसला ◾नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे पर बोले CM चन्नी-मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं◾अमेरिका ने फिर की इमरान खान की बेइज्जती, मिन्नतों के बाद भी बाइडन नहीं दे रहे मिलने का मौका ◾उरी में भारतीय सेना को मिली बड़ी कामयाबी, पकड़ा गया पाकिस्तान का 19 साल का जिंदा आतंकी ◾पंजाब कांग्रेस में फिर घमासान : सिद्धू ने अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, BJP ने ली चुटकी ◾पंजाब: CM चन्नी ने किया विभागों का वितरण, जानें किसे मिला कौनसा मंत्रालय◾पंजाब के पूर्व CM अमरिंदर सिंह आज पहुंच रहे हैं दिल्ली, अमित शाह और नड्डा से करेंगे मुलाकात◾योगी के नए मंत्रिमंडल में 67% मंत्री सवर्ण और पिछड़े समाज से सिर्फ़ 29% : ओवैसी◾क्या कांग्रेस में यूथ लीडरों की एंट्री होगी मास्टरस्ट्रोक, पार्टी मुख्यालय पर लगे कन्हैया और जिग्नेश के पोस्टर◾कन्हैया के पार्टी जॉइनिंग पर मनीष तिवारी का कटाक्ष- अब शायद फिर से पलटे जाएं ‘कम्युनिस्ट्स इन कांग्रेस’ के पन्ने ◾PM मोदी ने विशेष लक्षणों वाली फसलों की 35 किस्मों का किया लोकार्पण , कुपोषण पर होगा प्रहार ◾जम्मू-कश्मीर : उरी सेक्टर में पकड़ा गया पाकिस्तानी घुसपैठिया, एक आतंकवादी ढेर ◾बिहार: केंद्र से झल्लाई JDU, कहा - हमलोग थक चुके हैं, अब नहीं करेंगे विशेष राज्य का दर्जा देंगे की मांग◾

कोरोना काल के बीच निर्मला सीतारमण ने अमेरिकी निवेशकों को दिया भारत में निवेश का आमंत्रण

विश्व में कोरोना काल के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने यूएस-इंडिया स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप फोरम (यूएसआईएसपीएफ) द्वारा आयोजित वैश्विक निवेशक गोलमेज सम्मेलन के दौरान सरकार द्वारा किए गए सुधार उपायों के आधार पर भारत में विकास और निवेश के अवसरों पर चर्चा की। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित गोलमेज में मास्टरकार्ड, मेटलाइफ, प्रूडेंशियल, एयर प्रोडक्ट्स, डेल, सॉफ्टबैंक और वारबर्ग पिंकस सहित कुछ सबसे बड़े विदेशी निवेशकों की भागीदारी देखी गई।

बुधवार को आयोजित इस कार्यक्रम ने निवेशकों को केंद्रीय वित्त मंत्री और भारत सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ संभावित निवेश के अवसरों पर चर्चा करने और चल रहे नीतिगत सुधारों की भूमिका पर विचार-विमर्श करने का अवसर प्रदान किया, जो भारत में अधिक आसानी से व्यापार करने में सक्षम होगा।

वित्त मंत्री ने कहा कि मैक्रो-इकनॉमिक स्टेबिलिटी, इंफ्रास्ट्रक्चर के नेतृत्व वाले आर्थिक विकास के अवसर, वित्तीय क्षेत्र में सुधार और वैश्विक आपूर्ति में एक मजबूत खिलाड़ी के रूप में स्थिति कुछ ऐसे तरीके हैं जिनसे भारत वैश्विक आर्थिक महाशक्ति के रूप में आगे बढ़ रहा है।

निवेशकों को दिए गए व्यापक संदेशों में रोज कोविड मामलों में महत्वपूर्ण गिरावट और महामारी के समय में सरकार द्वारा किए गए मजबूत राहत और सुधार शामिल हैं। मंत्री ने यह भी रेखांकित किया कि हाल के महीनों में आर्थिक सुधार में निरंतर मैक्रो-आर्थिक स्थिरता और लचीलापन और भारत को आत्मनिर्भर बनाने की दृष्टि है।

अपनी समापन टिप्पणी में, सीतारमण ने एक आत्मनिर्भर आधुनिक भारत के निर्माण के लिए एक समग्र दृष्टि के साथ आगे बढ़ने की बात कही, जो कि - इंटेंट, इंक्लूजन, इन्वेस्टमेंट, इन्फ्रास्ट्रक्चर और इनोवेशन द्वारा संचालित है। वित्त मंत्री ने कहा कि देश अमेरिकी निवेशकों के साथ दीर्घकालिक संबंध के लिए प्रतिबद्ध है और साल में दो बार मिलने का प्रस्ताव रखता है।