BREAKING NEWS

उत्तराखंड चुनाव: कांग्रेस की CEC बैठक में 70 सीटों पर होगा फैसला, जल्द जारी होगी उम्मीदवारों की पहली लिस्ट ◾श्रीलंका के तमिल नेताओं ने PM मोदी को लिखा पत्र, 13वें संशोधन को लागू करने की मांग की, जानें पूरा मामला◾UP: हाथरस पीड़ित का परिवार नहीं लड़ेगा विधानसभा चुनाव, कहा- पहले हमें इंसाफ दिलाओ◾UP चुनाव में JDU को नहीं मिला BJP का साथ, केसी त्यागी ने किया पार्टी के अकेले मैदान में उतरने का ऐलान ◾UP विधानसभा चुनाव: नेताओं को रिझाने के लिए कांग्रेस कर रही तरह-तरह के जतन ◾अखिलेश के चुनाव लड़ने पर BJP का तंज, नक़वी बोले-जुगाड़ से चल रही है विपक्ष का चौधरी बनने की जंग◾विश्व में कहीं खत्म नहीं हुआ कोरोना का आतंक, WHO ने ओमीक्रॉन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें क्या कहा? ◾World Corona: कोविड के वैश्विक मामलों में वृद्धि का दौर जारी, कुल संक्रमितों का आंकड़ा 33.35 करोड़ के पार◾BJP ने मुलायम परिवार में लगाई बड़ी सेंध, भगवा दल में शामिल हुईं अपर्णा यादव ◾उत्तराखंड और गोवा चुनाव: BJP की CEC बैठक में उम्मीदवारों के नामों पर लगेगी मुहर, सीटों पर होगी चर्चा ◾कोविड 19 के गहराते संकट से जल्द मिलेगी राहत! कोरोना की तीसरी लहर को लेकर SBI के शोध में बड़ा दावा◾UP Assembly Election : सपा प्रमुख अखिलेश यादव लड़ेंगे विधानसभा चुनाव◾today's corona case: बीते 24 घंटों में कोविड के मामलों में हुई वृद्धि, सामने आए 2 लाख 82 हजार से ज्यादा नए मरीज◾UP : कोरोना गाइडलाइंस उल्लंघन मामले में सपा को राहत, चुनाव आयोग ने हिदायत देकर छोड़ा◾कोरोना ने डाला गणतंत्र दिवस समारोह पर असर, जानिए कौन होगा इस बार मुख्य अतिथि? ◾उत्तर भारत में अभी ठंड से ठिठुरन का सिलसिला रहेगा जारी, तो दिल्ली-UP समेत इन राज्यों में बारिश की संभावना◾उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में SP के लिए प्रचार करेंगी ममता बनर्जी◾भाजपा का दामन थाम सकती हैं मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव - सूत्र◾गणतंत्र दिवस झांकी विवाद : राजनाथ ने ममता को बंगाल की झांकी न होने की बताई ये वजह !◾पंजाब : कांग्रेस के 4 नेताओं ने मंत्री को पार्टी से निकालने की मांग की, सोनिया गांधी को लिखा पत्र ◾

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मीटिंग में राजनीतिक प्रस्ताव पारित, जानें किन मुद्दों पर हुई चर्चा

आगामी पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा के चुनावों की आहट के बीच रविवार को यहां भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई । इस बैठक में एक राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया गया है, जिसको उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने पेश किया। इस प्रस्ताव का तमिलनाडु के बीजेपी प्रमुख अन्नामलाई ने अनुमोदन किया। राजनीतिक प्रस्ताव पर छह नेताओं ने अपनी बात रखी, जिनमें जी. किशन रेड्डी, मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह, केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर, गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत, केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शामिल हैं।

कौन-कौन रहा बैठक में मौजूद ?

पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी शामिल रहे। इस मीटिंग के दौरान सात राज्यों में होने वाले आगामी चुनावों की रणनीति के बारे में चर्चा हुई। बता दें कि अगले साल यानी 2022 में सात राज्यों- गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और गुजरात में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

राजनीतिक प्रस्ताव में 18 विषयों का जिक्र किया गया है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बीजेपी के राजनीतिक प्रस्ताव  के बारे में बताते हुए कहा, ‘राजनीतिक प्रस्ताव में कहा गया है कि 2004 से 2014 के दौरान जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद से संबंधित घटनाओं में 2081 मौतें हुईं। जबकि 2014 से सितंबर 2021 तक जम्मू-कश्मीर में केवल 239 नागरिकों की मौत हुई है।’ सीतारमण ने कहा कि जम्मू-कश्मीर अब विकास कार्यों की ओर बढ़ रहा है।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में किन मुद्दों पर हुई चर्चा?

(1) कोरोना वैक्सीनशन प्रोग्राम को लेकर विश्व में भारत की भूमिका पर चर्चा हुई।

(2) क्लाइमेट चेंज को लेकर भारत के कमिटमेंट पर COP26 में पीएम द्वारा रखी गई बात को सराहा गया।

(3) कम समय में 100 करोड़ कोरोना वैक्सीन लगाने की उपलब्धि पर चर्चा।

(4) कोरोना काल मे हेल्थ फैसिलिटीज को लेकर केंद्र सरकार के कामों की चर्चा।

(5) 80 करोड़ लोगों को मुफ्त भोजन, कोरोना से मृत लोगों के बच्चों के एडॉप्शन के मुद्दे पर भी चर्चा हुई।

(6) जॉब ढूंढने वालों की जगह जॉब पैदा करने के क्रम में भारतीय युवाओं की भूमिका और केंद्र की मदद पर चर्चा.

(7) जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद तेज हो रहे विकास के मुद्दे पर चर्चा.

(8) डिजिटल प्रोग्राम, स्वच्छ भारत, आयुष्मान भारत योजना जैसे कार्यक्रमों को जमीन पर उतरने की बात हुई।

(9) जनऔषधि योजना पर चर्चा।

(10) वोकल फॉर लोकल पर चर्चा।

(11) महिलाओं के नेतृत्व में विकास और उनको आगे बढ़ाने के कार्यक्रमों पर चर्चा।

(12) सोशल जस्टिस के कार्यक्रम की चर्चा।

(13) रक्षा क्षेत्र में बदलावों पर चर्चा।

(14) नेशनल पाम ऑयल मिशन पर चर्चा।

(15) MSP 5 गुना बढ़ाने पर चर्चा, कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर बनाने में एफपीओ की भूमिका पर चर्चा।

(16) सेवा ही संगठन पर चर्चा, जिसमें 10 लाख वॉलंटियर्स ने पार्टिसिपेट किया।

(17) पीएम के सेवा क्षेत्र में 20 साल पर चर्चा।

(18) आने वाले विधानसभा चुनावों पर चर्चा।

(19) आने वाले चुनावों में जीत के लक्ष्य पर चर्चा।

(20) पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी की परफॉर्मेंस पर चर्चा।

(21) पश्चिम बंगाल में हाल में हुई हिंसा पर चर्चा- कानून के जरिये लोगों को न्याय दिलाने के लिए कटिबद्ध।

(22) विपक्षी दलों के अवसरवादी रवैये पर और ट्विटर के जरिये निगेटिविटी फैलाने की कोशिश की निंदा हुई। क्योंकि विपक्ष पीएम द्वारा देश की छवि को सुधारने की कोशिश में बट्टा लगाने का प्रयास कर रहा है।