BREAKING NEWS

आज का राशिफल (15 अगस्त 2022)◾Independence Day : प्रधानमंत्री मोदी आज लाल किले की प्राचीर से फहराएंगे तिरंगा, सुरक्षा ऐसी व्यवस्था की परिंदा भी पर न मार सके◾J&K : कश्मीर में आतंकवादियों के घरों पर तिरंगा फहराया◾राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने ने राष्ट्र के नाम अपने पहले संबोधन में भारत की सफलता की कहानी पर प्रकाश डाला◾उपराष्ट्रपति ने स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को दी बधाई ◾PM मोदी 15 अगस्त को प्रमुख स्वास्थ्य परियोजनाओं की कर सकते हैं घोषणा◾ममता ने Modi सरकार पर साधा निशाना , कहा -गैर-राजग शासित राज्यों में सरकार गिराने की कोशिश कर रही है BJP◾हमने तरक्की की, पर कई देश भारत से आगे निकल गए भारत पीछे क्यों रह गया : AK◾जम्मू-कश्मीर : 'छड़ी-मुबारक' 'पूजन' और 'विसर्जन' के साथ वार्षिक अमरनाथ यात्रा का समापन◾राष्ट्रपति मुर्मू ने वीरता पुरस्कारों को मंजूरी दी; सेना के स्वान एक्सेल की सेवा को भी सराहा गया◾राजस्थान में दलित बच्चे की पिटाई करने के मामले में आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए : राहुल◾स्वतंत्रता दिवस से पहले पंजाब पुलिस ने दिल्ली पुलिस की मदद से बड़े आतंकी खतरे को किया नाकाम ◾स्वतंत्रता दिवस : दिल्ली से लेकर कश्मीर तक सुरक्षा के चाक चौबंद इंतज़ाम◾J&K : श्रीनगर के नौहट्टा इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ में एक पुलिसकर्मी घायल◾एकनाथ का ऐलान - ‘वास्तविक’ शिवसेना और भाजपा मिलकर महाराष्ट्र में निकाय चुनाव लड़ेंगे◾J&K : श्रीनगर में 1850 मीटर लंबा तिरंगा प्रदर्शित किया गया, अधिकारियों ने बताया इसे देश में सबसे लंबा झंडा ◾भाकपा ने कहा- सम्मानजनक प्रतिनिधित्व मिलने पर नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल में शामिल होंगे◾भारत ने दुनिया को लोकतंत्र की वास्तविक क्षमता का पता लगाने में मदद की: राष्ट्रपति मुर्मू◾Delhi: केजरीवाल ने कहा- ऊंचाई वाले 500 स्तंभों पर झंडा लहराने के साथ दिल्ली ‘तिरंगे का शहर’ बन गया◾मध्यप्रदेश : शहर की 80 फीसदी सरकार पर भी भाजपा का कब्जा ◾

Presidential Election 2022: राष्ट्रपति चुनाव के लिए तारीख का ऐलान, इस दिन मिलेगा देश को नया महामहीम

चुनाव आयोग (ECI) ने देश में 16वें राष्ट्रपति के चुनाव का एलान कर दिया है। दिल्ली के विज्ञान भवन में मीडिया से बात करते हुए चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान किया। मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार के मुताबिक 18 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान होगा। वहीं इसके लिए 15 जून को अधिसूचना जारी होगी। 29 जून को नॉमिनेशन की आखिरी तारीख है। मतदान 18 जुलाई को होगा और मतगणना 21 जुलाई को होगी।
 वोट देने के लिए 1,2,3 लिखकर पसंद बतानी होगी
 मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव को लेकर अधिसूचना जारी कर दी गई है। चुनाव में वोटिंग के लिए विशेष इंक वाला पेन मुहैया कराया जाएगा। वोट देने के लिए 1,2,3 लिखकर पसंद बतानी होगी। पहली पसंद ना बताने पर वोट रद्द हो जाएगा। मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है और नए राष्ट्रपति को 25 जुलाई तक शपथ लेनी है। ऐसे में यह जरूरी था कि नए राष्ट्रपति का चुनाव 24 जुलाई तक हो जाए।
वोट देने के लिए आयोग अपनी तरफ से पेन देगा
 राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन दिल्ली में ही हो पाएगा। दिल्ली के अलावा कहीं और जगह नॉमिनेशन नहीं होगा। मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार के मुताबिक नामित मेंमर्स (लोकसभा, राज्यसभा और राज्यों की असेंबली) वोटिंग के पार्ट का हिस्सा नहीं हैं। वोट देने के लिए आयोग अपनी तरफ से पेन देगा, जोकि मतपत्र सौंपते वक्त दिया जाएगा। इसी पेन से ही वोट डाला जाएगा। अन्य किसी पेन से वोट डालने पर मत अवैध करार दिया जाएगा। निष्पक्ष चुनाव के सवाल पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि यह पूर्णत: सीक्रेट बैलेट है। पेन की व्यवस्था है। वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गई है।
इस बार भी एनडीए आसानी से जीतने की स्थिति में
 बता दें कि 2017 में 17 जुलाई को राष्ट्रपति पद का चुनाव हुआ था, जिसमें रामनाथ कोविंद को चुना गया था। तब एनडीए के कैंडिडेट रहे रामनाथ कोविंद को करीब 65 फीसदी मत हासिल हुए थे। इस बार भी एनडीए आसानी से जीतने की स्थिति में है। हालांकि अब तक सरकार या फिर विपक्ष की ओर से कैंडिडेट का ऐलान नहीं हुआ है।  राष्ट्रपति को चुनने के लिए आम लोग वोटिंग नहीं करते। इसके लिए जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधि और उच्च सदन के प्रतिनिधि वोट डालते हैं। जैसे दोनों सदनों  (लोकसभा और राज्यसभा) के सदस्य राष्ट्रपति चुनाव में वोट डालेंगे।
लोकसभा एवं राज्यसभा के 776 सांसद और 4,120 विधायक हिस्सा लेंगे
इसके अलावा सभी राज्यों की विधानसभा के सदस्य भी राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग करते हैं। इसमें केंद्र शासित प्रदेश दिल्ली और पुडुचेरी की विधानसभा के सदस्य शामिल होते हैं।मतदान में लोकसभा एवं राज्यसभा के 776 सांसद और 4,120 विधायक हिस्सा लेंगे। 
कैसे होता है राष्ट्रपति का चुनाव?
भारत में राष्ट्रपति का चुनाव इलेक्टोरल कॉलेज सिस्टम के जरिए होता है, जिसमें सांसद और विधायक मतदान करते हैं। चुनाव आयोग की देखरेख में यह पूरी प्रक्रिया होती है। अब सवाल कि क्या होता है इलेक्टोरल कॉलेज? यह ऊपरी और निचले सदन के चुने हुए सदस्यों से मिलकर बनता है। साथ ही इसमें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश की विधानसभा के चुने हुए सदस्य भी शामिल होते हैं। आंकड़ों के लिहाज से बात करें, तो इस चुनाव में 4 हजार 896 मतदाता होंगे। इनमें 543 लोकसभा और 233 राज्यसभा सांसद, सभी राज्यों के 4 हजार 120 विधायक शामिल हैं।