BREAKING NEWS

संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ जामिया के छात्रों का उग्र प्रदर्शन, 3 बसों में लगाई आग◾गुवाहाटी में पुलिस गोलीबारी में घायल हुए 2 और लोगों की हुई मौत, अब तक 4 की गई जान◾नागपुर में बोले फडणवीस- सावरकर पर टिप्पणी के लिए माफी मांगें राहुल गांधी◾कांग्रेस ने नागरिकता कानून को लेकर बवाल खड़ा किया : PM मोदी◾महाराष्ट्र: प्रदर्शन के बाद PMC के जमाकर्ता हिरासत में, CM उद्घव ने मदद का दिलाया भरोसा◾नागरिकता कानून वापस लेने के लिए याचिका दायर करेगी BJP की सहयोगी असम गण परिषद◾वीर सावरकर पर बयान देकर मुश्किल में फंसे राहुल, पोते रंजीत ने की कार्रवाई की मांग◾सावरकर वाले बयान पर कांग्रेस पर हमलावर हुई मायावती, कहा- अब भी शिवसेना के साथ क्यों, यह आपका दोहरा चरित्र नहीं?◾नेपाल के सिंधुपलचौक में यात्रियों से भरी बस दुर्घटनाग्रस्त, 14 लोगों की दर्दनाक मौत◾भारतीय मुसलमान घुसपैठिए और शरणार्थी नहीं, डरना नहीं चाहिए : रिजवी◾निर्भया के दोषियों को फांसी देना चाहती हैं इंटरनेशनल शूटर वर्तिका, अमित शाह को खून से लिखा खत ◾पश्चिम बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन, कई स्थानों पर सड़कें अवरुद्ध◾नागरिकता संशोधन बिल में बदलाव को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने दिए संकेत◾अनशन पर बैठीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल हुईं बेहोश, LNJP अस्पताल में भर्ती◾CAB के खिलाफ प्रदर्शनों के बाद आज गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू में ढील◾झारखंड विधानसभा चुनाव: देवघर में प्रत्याशियों की आस्था दांव पर◾ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾

देश

केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक ने अनुच्छेद 370 को बताया जम्मू-कश्मीर का 'नासूर'

 shripad naik

 केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक ने बुधवार को कहा कि इस साल स्वतंत्रता दिवस समारोह के बड़े मायने हैं क्योंकि केंद्र ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 रूपी 'नासूर' का इलाज कर दिया है। रक्षा राज्यमंत्री ने कहा कि कश्मीर घाटी के निवासी असल मायने में अब स्वतंत्रता दिवस का जश्न मना सकेंगे और यह क्षेत्र देश के अन्य राज्यों के साथ समृद्ध होगा। 

केंद्र ने पांच अगस्त को घोषणा की थी कि अनुच्छेद 370 के तहत प्रदत्त जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को हटाया जा रहा है और उसने राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था। नाइक ने कहा कि यह मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के इस कार्यकाल के महत्वपूर्ण फैसलों में से एक है। 

आर्टिकल 370 पर बोले ओवैसी - सरकार को कश्मीरियों से नहीं, कश्मीर की जमीन से प्यार

उन्होंने कहा, "इस साल स्वतंत्रता दिवस अधिक महत्वपूर्ण है क्योंकि हमने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 रूपी नासूर का इलाज कर दिया है। हम कह सकते हैं कि कश्मीर के लोग अब असल मायने में स्वतंत्रता दिवस मना सकेंगे।" केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जम्मू कश्मीर हमेशा भारत का अभिन्न अंग था लेकिन पिछली सरकारों की गलत नीतियों के कारण यह विकास से वंचित रहा। 

उन्होंने कहा, "पूरे भारत की मांग थी कि अनुच्छेद 370 हटाया जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मांग को पूरा करने का वादा किया था और उन्होंने ऐसा कर दिखाया।" नाइक ने कहा कि जो लोग उस क्षेत्र में आतंकवाद पाल-पोस रहे थे उन्हें अब केंद्र सरकार के फैसले के बाद अपनी दुकानें बंद करनी पड़ेगी। उन्होंने कहा, "जम्मू कश्मीर देश के अन्य राज्यों के साथ समृद्ध होगा। यह अब पिछड़ा राज्य नहीं रहेगा।"