BREAKING NEWS

ट्रैक्टर रैली पर बोला SC- दिल्ली में किसे एंट्री देनी है, यह तय करना पुलिस का काम, बुधवार को अगली सुनवाई◾गुजरात को PM मोदी का एक और तोहफा, अहमदाबाद-सूरत मेट्रो प्रोजेक्ट का किया शिलान्यास◾कृषि कानून को लेकर 55वें दिन प्रदर्शन जारी, आंदोलन तेज करते हुए अन्नदाता आज मनाएंगे 'महिला किसान दिवस' ◾सूट-बूट वाले दोस्तों का कर्ज माफ करने वाली मोदी सरकार अन्नदाताओं की पूंजी साफ करने में लगी है : राहुल गांधी ◾देश में पिछले 24 घंटे में 13788 नए कोरोना मामलों की पुष्टि, 145 लोगों ने गंवाई जान ◾दुनियाभर में कोरोना का कहर बरकरार, मरीजों का आंकड़ा 9.5 करोड़ तक पहुंचा ◾पीएम मोदी आज अहमदाबाद मेट्रो के दूसरे चरण और सूरत मेट्रो रेल परियोजना का करेंगे भूमि पूजन ◾कृषि कानूनों और किसान प्रदर्शनों संबंधी याचिकाओं पर SC आज करेगा सुनवाई ◾आज का राशिफल (18 जनवरी 2021)◾पाकिस्तानी सेना ने पुंछ में LoC पर की गोलाबारी, भारतीय सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब !◾कोविड-19 : देश में दो दिन में 2.24 लाख लोगों को लगाया गया टीका, प्रतिकूल प्रभाव के 447 मामले आए सामने ◾शाह ने लोगों से अपील की - कोरोना टीकाकरण के खिलाफ अफवाहों पर ध्यान ना दें◾तांडव विवाद : सूचना एंव प्रसारण मंत्रालय ने अमेजन प्राइम वीडियो से मांगा स्पष्टीकरण ◾सिंघु बॉर्डर : 'किसान गणतंत्र दिवस परेड' में दिखेगी कई राज्यों की कृषि-दशा◾कोरोना के खिलाफ जंग में भारत का कड़ा प्रहार, 224301 लाभार्थियों को कोविड-19 का टीका लगाया गया : स्वास्थ्य मंत्रालय◾ममता के गढ़ में शिवसेना भी कूदी, संजय राउत ने कहा- हम जल्द ही कोलकाता पहुंच रहे हैं ◾अखिलेश ने योगी सरकार पर साधा निशाना, कहा- राज्य की स्वास्थ्य सेवाओं को आईसीयू में भर्ती कर दिया ◾मोदी सरकार ने पाकिस्तान के भीतर दो बार ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की, आतंकवादियों का किया खात्मा : शाह◾औरंगाबाद शहर का नाम बदलने को लेकर शिवसेना और कांग्रेस में हुई तीखी बहस◾पाक ने आक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका कोविड-19 टीके के आपातकालीन इस्तेमाल की दी मंजूरी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

TOP 5 NEWS 03 NOVEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें

1 - क्यों अहम है बिहार चुनाव, जानें कैसे बदल सकता है देश का सियासी समीकरण

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 : एनडीए के मुकाबले अगर बिहार में कांग्रेस, कम्युनिस्ट और राजद का महागठबंधन आगे निकलता है तो पूरे देश में भाजपा विरोधी दलों को एक मंच पर आने का रास्ता साफ होगा। भाजपा की एक चिंता यह भी है कि उसका अपना एनडीए अब घट रहा है। भाजपा नहीं चाहती है कि उसके खिलाफ देशभर में कोई ऐसा गठबंधन बने जो विभिन्न राज्यों के चुनाव और 2024 के लोकसभा चुनाव में उसके लिए खतरा बने। भाजपा नेतृत्व ने बिहार के चुनाव को केवल जीत तक सीमित नहीं रखा है, बल्कि वह इसमें विपक्षी गठबंधन की ताकत का भी आकलन कर रहा है। बता दें कि भाजपा को रोकने के लिए वहां भी भाजपा विरोधी दलों की एकता हो सकती है। तब समीकरण बदल भी सकते हैं। बिहार में कांग्रेस, कम्युनिस्ट और समाजवादी (राजद) ताकतें एक साथ चुनाव लड़ रही हैं। इनका एक साथ आना इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि देश के विभिन्न राज्यों में कांग्रेस तो प्रभावी है ही, कई राज्यों में कम्युनिस्ट दलों की भी प्रभावी भूमिका है। 

2 - कोरोना वैक्सीन : टीके से पहले आ सकती है कोरोना की दवा

सीएसआईआर द्वारा कोरोना की एक दवा के तैयार होने की संभावनाएं हैं, एमडबल्यू नाम की यह दवा दो चरणों के क्लिनिकल ट्रायल पूरे कर चुकी है और दवा नियामक ने इसे तीसरे चरण के परीक्षणों को मंजूरी प्रदान कर दी है। सीएसआईआर के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. राम विश्वकर्मा ने कहा कि दो चरणों के नतीजे उत्साहजनक रहे हैं, जिन्हें दवा नियामक के सामने रखा गया था। इसके बाद तीसरे चरण की मंजूरी मिल गई है। देश में करीब 300 लोगों पर यह परीक्षण जल्द आरंभ किए जाएंगे। एम्स, अपोलो समेत चुनिंदा अस्पतालों में इन परीक्षणों की तैयारी आरंभ की जा रही है। यदि तीसरे चरण के परीक्षण सफल रहते हैं तो अगले साल की पहली तिमाही में यह दवा भी बाजार में होगी। दूसरे चरण के परीक्षण में यह देखा गया है कि इसके सेवन से मरीज जल्द स्वस्थ हो रहे हैं। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के केस दिन-ब-दिन दुनिया भर में बढ़ते जा रहे हैं। अब तक इसकी दवा नहीं बन पाई है। 

3 - चुनाव का महामुकाबला आज, 1463 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला

चुनाव महामुकाबला मंगलवार को होगा। महामुकाबला इसलिए क्योंकि दूसरे चरण के तहत 3 नवम्बर को 94 सीटों पर बिहार की जनता अपना प्रतिनिधि चुनेगी। पहले चरण में 28 अक्टूबर को 71 सीटों पर मतदान संपन्न हो चुका है। इस तरह मंगलवार को होने वाले मतदान के साथ ही 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा के लिए 165 सीटों पर चुनाव लड़ने वाले प्रतिनिधियों की किस्मत भी ईवीएम में कैद हो जाएगी। दूसरे चरण में 2 करोड़ 86,11,164 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। आम चुनाव के दूसरे चरण में 17 जिलों की 94 सीटों के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच मंगलवार को मतदान होगा। इस चरण के चुनाव को लेकर सोमवार की शाम से ही सुरक्षाबलों एवं मतदानकर्मियों की टीम को बूथों के लिए रवाना कर दिया गया। निर्वाचन विभाग के अनुसार दूसरे चरण के चुनाव को लेकर संबंधित जिलों में 41,362 बूथों का गठन किया गया है। बता दें कि 1463 उम्मीदवार मैदान में है। 

4 - पीएम मोदी और जिनपिंग नवंबर में पांच बार वर्चुअल मंच पर होंगे आमने-सामने

सऊदी अरब की मेजबानी में होने वाली जी-20 बैठक इन पांचों शिखर सम्मेलनों में सबसे अहम होने वाली है। इस बैठक में सभी देश कोरोना के बाद वैश्विक अर्थव्यवस्था सुधार पर चर्चा करेंगे। इस महीने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग पांच बार अलग-अलग शिखर सम्मेलनों के वर्चुअल मंचों पर आमने-सामने होंगे। 10 नवंबर को रूस में होने वाली शंघाई सहयोग संगठन की बैठक से इस शृंखला का आगाज होगा। इससे पहले दोनों नेता जी-20 देशों के वर्चुअल सम्मेलन में अप्रैल में एक मंच पर आए थे। इसके अलावा 30 नवंबर को सरकार के प्रमुखों की बैठक एससीओ परिषद में भी दोनों नेताओं का आमना-सामना होने की संभावना है। बता दें कि 30 नवंबर की बैठक की मेजबानी खुद दिल्ली करेगा। सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पाकिस्तान को भी न्योता भेजेगी।  मोदी और जिनपिंग एससीओ बैठक के बाद 17 नवंबर को रूस में ही ब्रिक्स और 21 व 22 नवंबर को सऊदी अरब की मेजबानी में जी-20 देशों की बैठक में एक बार फिर वर्चुअल स्क्रीन साझा करेंगे। 

5 - गुर्जर आरक्षण : सबसे अहम नौवीं अनुसूची में प्रावधान को शामिल करना

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति और अशोक गहलोत सरकार के बीच 14 बिंदुओं पर सहमति बनी है। हालांकि, संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला इस वार्ता में शामिल नहीं हुए थे। वार्ता में गुर्जर नेता हिम्मत सिंह के गुट के प्रतिनिधियों ने भाग लिया था। इस बैठक में सरकार गुर्जरों को सरकारी नौकरियों में 5 फीसदी आरक्षण देने समेत कई प्रमुख मांगों पर राजी हो गई। मगर, 14 बिंदुओं पर जो सहमति बनी है, गुर्जर बैकलॉग में पांच फीसदी विशेष आरक्षण की मांग कर रहे हैं तो दूसरी तरफ जिस तरह से मराठा आरक्षण पर हाईकोर्ट का हथौड़ा चला है उसे देखते हुए केंद्र सरकार से गुर्जर आरक्षण को नौवीं अनुसूची में डालने की मांग की जा रही है। समझौते में कहा गया है कि राज्य सरकार द्वारा अति पिछड़ा वर्ग हेतु आरक्षण से संबंधित प्रावधान को नौवीं अनुसूची में शामिल करने के लिए केंद्र सरकार को 22 फरवरी, 2019 और 21 अक्तूबर 2020 को लिखा गया है। इस बारे में एक बार फिर केंद्र सरकार को लिखा जाएगा।