BREAKING NEWS

क्या दिल्ली में फिर बढ़ेगा लॉकडाउन? राज्य में कोरोना स्थिति की समीक्षा कर CM केजरीवाल कर सकते हैं घोषणा ◾देश में कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप बरकरार, लगातार चौथे दिन 4 लाख से अधिक केस की पुष्टि ◾भारत में क्यों हुआ कोरोना महामारी का भयावह विस्फोट, जानिए WHO द्वारा बताई गई यह वजहें ◾कौन बनेगा असम का मुख्यमंत्री ? आज विधायक दल की बैठक में BJP नए नेता की घोषणा करेगी ◾दुनिया में कोरोना मामलों की संख्या 15.72 करोड़ के पार, 32.7 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾आईएमए ने केंद्र से की मांग- देश में पूर्ण लॉकडाउन की जरूरत, स्वास्थ्य मंत्रालय को ‘जाग’ जाना चाहिए ◾अब तक महाराष्ट्र में कोरोना से 75 हजार से ज्यादा मौत, संक्रमितों की संख्या 50 लाख के पार ◾फड़णवीस ने CM ठाकरे को लिखा पत्र, कहा- बीएमसी कोरोना से हुई मौत के मामलों को छिपा रही है ◾महामारी में कालाबाजारी: दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर के नाम पर फायर एंस्टीग्यूशर बेचने का खेल◾कोरोना महामारी के संकट में प्रधानमंत्री मोदी की यूरोपीय संघ से अपील, वैक्सीन के पेटेंट पर दें छूट ◾वैक्सीन की भारी मांग को पूरा करने के लिए प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, कच्चे माल की आपूर्ति जरूरी : भारत बायोटेक◾महामारी के प्रकोप के चलते केरल और तमिलनाडु में लगा संपूर्ण लॉकडाउन, पूर्वोत्तर के राज्यों ने भी कड़े किए प्रतिबंध◾केंद्र सरकार का बड़ा फैसला : अस्पताल में भर्ती होने के लिए कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट अनिवार्य नहीं ◾क्या बंगाल BJP नेतृत्व में पड़ी दरार, 77 विधायकों और 18 सांसदों के TMC से संपर्क में होने का दावा ◾PM मोदी विशेष आमंत्रित के रूप में भारत-यूरोपीय परिषद की बैठक में हुए शामिल, स्वास्थ्य संबंधी तैयारी पर हुई चर्चा ◾पप्पू यादव ने वीडियो जारी कर किया दावा - बिहार में मरीजों की बजाय बालू ढो रही है BJP सांसद की एंबुलेंस◾बेहतर ऑक्सीजन आवंटन के लिए सुप्रीम कोर्ट ने नेशनल टास्क फोर्स का गठन किया, जानिये कौन-कौन है शामिल ◾कांग्रेस की अपील : देश में संपूर्ण लॉकडाउन लगाए केंद्र सरकार और गरीबों की करे आर्थिक मदद◾महाराष्ट्र में कहां हो रही है चूक, प्रतिबंधों के बावजूद औसतन 50,000 से अधिक दैनिक मामले आ रहे◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया, देश में ऑक्सीजन सपोर्ट और वेंटिलेटर पर कितने मरीज◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

TOP 5 NEWS 14 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें

1 - कृषि बिल : ममता बनर्जी के मंत्री ने किया था NH बंद, वैक्सीन ले जा रहे वाहन को करना पड़ा डायवर्ट

16 जनवरी से भारत में कोरोना के खिलाफ टीकाकारण अभियान की शुरुआत होने जा रही है। बता दें कि देश के विभिन्न शहरों में वैक्सीन पहुंचाई जा रही है। पश्चिम बंगाल भी टीके भेजे गए हैं। हालांकि सूत्रों ने बताया है कि नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे ममता बनर्जी कैबिनेट में राज्य मंत्री सिद्दीकुल्ला चौधरी की अगुवाई में बुधवार को राष्ट्रीय राजमार्ग को बंद कर दिया गया था। इस कारण से बर्धमान जिले में बुधवार को टीके ले जाने वाले एक विशेष वाहन को रोक दिया गया। बर्धमान के पुलिस अधीक्षक भास्कर मुखोपाध्याय ने कहा कि वैक्सीन ले जाने वाली इंसुलेटेड वैन को कोलकाता और नई दिल्ली को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग के बंद होने के कारण एक गांव से पांच किलोमीटर की दूरी पर डायवर्ट किया गया था। भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने इस मामले पर ट्वीट कर राज्य मंत्री सिद्दीकुल्ला चौधरी पर हमला किया है और इस मामले पर सिद्दीकुल्लाह चौधरी की भी प्रतिक्रिया आई। 

2 - कोरोना वैक्सीन : सीरम ने ऑर्डर के मुकाबले 95 फीसदी टीके भेजे, जानें कहां पहुंची कितनी वैक्सीन

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने विभिन्न राज्यों में टीका पहुंचाना शुरू कर दिया है। एसआईआई ने बुधवार को कहा कि उसने भारत सरकार से मिले ऑर्डर के मुकाबले 95 फीसदी कोरोना टीकों को विभिन्न राज्यों के लिए रवाना कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार ने पुणे स्थित कंपनी से 1.1 करोड़ टीकों का ऑर्डर दिया है। बाकी के एक लाख टीकों को गुरुवार तक आपूर्ति कर दी जाएगी। 16 जनवरी से देशभर में शुरू होने वाले टीकाकरण के तहत विभिन्न राज्यों में कोवैक्सीन और कोविशील्ड टीके पहुंचने की स्थिति इस प्रकार है। ओडिशा में बुधवार को कोरोना रोधी टीके की दूसरी खेप पहुंची। असम में कोरोना टीके की दूसरी खेप बुधवार को पहुंच गई। मुंबई को कोरोना रोधी टीके कोविशील्ड की 1.39 लाख से अधिक खुराकें मिली हैं। विस्तारा एयरलाइन के भी विमान विभिन्न स्थानों पर वैक्सीन की खेप पहुंचा रहे हैं। 

3 - WHO : भारत में टीकाकरण शुरू होने से पहले WHO ने चेताया

कई देशों में टीकाकरण भी शुरू हो चुका है। भारत में भी 16 जनवरी से इसकी शुरुआत हो जाएगा। इस सबके बीच विश्वा स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कोरोना महामारी का दूरसरा साल पहले की तुलना में अधिक कठिन हो सकता है। डब्ल्यूएचओ हेल्थ इमर्जेंसी प्रोग्राम के कार्यकारी निदेशक माइकल रेयान ने कहा कि कोरोनो वायरस महामारी का दूसरा वर्ष ट्रांसमिशन डायनामिक्स पर पहले की तुलना में अधिक कठिन हो सकता है। रयान ने बुधवार देर शाम एक सवाल-जवाब सत्र के दौरान कहा, "हम दूसरे वर्ष में जा रहे हैं, यह ट्रांसमिशन डायनेमिक्स और कुछ मुद्दों को देखते हुए कठिन हो सकता है।" आज तक दुनिया में 9.21 करोड़ से अधिक लोग कोरोनो वायरस से संक्रमित हैं।

4 - WEATHER UPDATES : उत्तर भारत में शीतलहर का कहर

देश के कई हिस्सों में तापमान सामान्य से नीचे गिर चुका है। ठंड में लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कहीं बर्फबारी तो कहीं कोहरे का कहर जारी है। जम्मू और कश्मीर के श्रीनगर में आठ वर्षों में सबसे कम तापमान रिकॉर्ड किया गया है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी घने कोहरे के साथ न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। राजस्थान के गंगानगर में सबसे कम न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इस बीच, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने चेतावनी दी है कि अगले 3-4 दिनों के दौरान शुष्क उत्तर / उत्तर-पश्चिमी हवाओं के प्रसार के कारण न्यूनतम तापमान उत्तर पश्चिमी भारत के अधिकांश हिस्सों में सामान्य से नीचे रहने की संभावना है। राजस्थान के कुछ हिस्सों में भी ठंडी स्थिति बनी हुई है। हरियाणा में भिवानी ठंड की स्थिति में 2.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया।

5 - AMERICA : संसद पर हमले पर बोले बाइडेन- ये लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला था

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कैपिटॉल बिल्डिंग पर हमले को लेकर कहा कि - पिछले हफ्ते हमने अपने लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला देखा। यह हमारे राष्ट्र के 244 साल के इतिहास में देखी गई किसी भी चीज के उलट था। उन्होंने कहा कि इस आपराधिक हमले की योजना बनाई गई और कॉर्डिनेट किया गया। यह राजनीतिक चरमपंथियों और घरेलू आतंकवादियों द्वारा किया गया था, जिन्हें राष्ट्रपति ट्रम्प द्वारा इस हिंसा के लिए उकसाया गया था। यह अमेरिका के खिलाफ सशस्त्र विद्रोह था और जिम्मेदार लोगों को जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए। बाइडेन ने कहा- यह राष्ट्र एक घातक वायरस और गिरती अर्थव्यवस्था की चपेट में है। मुझे उम्मीद है कि सीनेट नेतृत्व महाभियोग पर अपनी संवैधानिक जिम्मेदारियों से निपटने के लिए एक रास्ता खोजेगा, जबकि इस राष्ट्र के अन्य जरूरी व्यवसाय पर भी काम करेगा। गौरतलब है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चुनाव में अपनी हार स्वीकार नहीं की है और वह तीन नवम्बर को हुए चुनाव में धोखाधड़ी के बेबुनियाद दावे लगातार करते रहे हैं।