BREAKING NEWS

कृषि कानून : किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी, सिंघु बॉर्डर पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात◾देश में कोरोना केस 96 लाख के करीब, अब तक 90 लाख से अधिक लोगों ने महामारी को दी मात ◾हैदराबाद में GHMC चुनाव की मतगणना जारी, प्रचार अभियान में BJP ने झोंक दी थी पूरी ताकत◾TOP 5 NEWS 04 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾दुनियाभर में कोरोना महामारी का हाहाकार, संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े 6 करोड़ के पार ◾आज का राशिफल ( 4 दिसंबर 2020 )◾अगले सप्ताह सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात जा सकते हैं सेना प्रमुख जनरल नरवणे ◾PM मोदी IIT 2020 वैश्विक शिखर सम्मेलन को करेंगे संबोधित◾अमरिंदर ने शाह से मुलाकात की : केंद्र किसानों से जल्द गतिरोध समाप्त करने की अपील की◾कृषि कानूनों के विरोध में प्रकाश सिंह बादल ने लौटाया पद्म विभूषण ◾SC ने कोरोना के आंकड़ों की दोबारा जांच के तरीके के बारे में केजरीवाल सरकार से मांगी जानकारी◾दिल्ली में 24 घण्टे में संक्रमण के 3734 नए मामले आये सामने, 82 लोगों की मौत◾साढ़े सात घंटे तक चली किसानों और सरकार के बीच बैठक बेनतीजा, अब 5 दिसंबर को अगली वार्ता ◾गृह मंत्री बासवराज बोम्मई का ऐलान, कहा- लव जिहाद के खिलाफ कर्नाटक में भी लागू होगा कानून ◾किसान आंदोलन: आपस में उलझे CM अमरिंदर और केजरीवाल, कैप्टन को बताया 'मोदी भक्त' ◾नए कृषि कानूनों के विरोध में राज्यसभा सांसद सुखदेव ढींढसा ने भी लौटाया पद्मभूषण◾CM ममता की केंद्र को चेतावनी, 'कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया गया तो देशव्यापी विरोध प्रदर्शन होगा शुरू'◾मीटिंग के दौरान किसानों ने सरकार के लंच को ठुकराया, लंगर से मंगा कर जमीन पर बैठ कर किया भोजन ◾गुजरात में मास्क न पहनने वालों की कोविड सेंटर पर ड्यूटी लगाने के निर्देश पर सुप्रीम कोर्ट की रोक ◾इंटरपोल की चेतावनी - अपराधी गिरोह कोविड-19 का नकली टीका बेच सकते हैं, रहें सावधान ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

TOP 5 NEWS 19 OCTOBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें

1 - 'मोदी मैजिक' पर सबकी नजर, 'नीतीश कुमार के खिलाफ कम होगी सत्ता विरोधी लहर'

बिहार विधानसभा चुनाव : जिन सीटों पर भाजपा चुनाव लड़ रही है, वहां भी पार्टी का असली चेहरा नरेंद्र मोदी ही हैं। यानी जो भी हासिल होगा, वह मोदी के चेहरे पर ही होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 अक्तूबर से चुनावी सभाएं शुरू करने जा रहे हैं। सबकी नजर इस बात पर टिकी है कि चुनाव में मोदी फैक्टर कितना असरदार रहेगा। पिछले चुनाव में नीतीश कुमार भाजपा के खिलाफ खड़े थे और तमाम प्रयासों के बावजूद मोदी फैक्टर भाजपा के लिए कारगर नहीं रहा था, लेकिन इस बार स्थितियां उलट हैं। राजनीतिक जानकारों के मुताबिक पिछला चुनाव 2015 में हुआ था, उस समय मोदी की लोकप्रियता चरम पर थी। नीतीश कुमार ने राजद के साथ मिलकर भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीतने में सफल रहे। मोदी की छवि बिहार चुनावों में तब कोई करिश्मा नहीं दिखा पाई। राजनीतिक विश्लेषक सीएसडीएस के संजय कुमार कहते हैं कि बिहार में कोई पार्टी अकेले सत्ता में नहीं आ सकती है। यानी तीन में से दो बड़े दलों को एक साथ मिलना होगा, इसलिए इस बार स्थितियां जुदा हैं। दो बड़े नेता एक साथ आए हैं। एक चेहरा बिहार का है। एक पूरे देश का। यह स्पष्ट है कि दोनों के एक साथ आने से चुनाव में फायदा होगा। यह तो स्पष्ट है कि दोनों दलों के मिलने से साफ है कि राजग को फायदा हो रहा है। हालांकि, किसका असर कितना है, यह बता पाना मुश्किल है। 

2 - DELHI WINTER :  भारत में क्यों बढ़ सकते हैं कोरोना वायरस के मामले, ये है वजहें !

कोरोना का कहर खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। अभी तक 75 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। विशेषज्ञ आशंका जता रहे हैं कि सर्दी के आगामी महीनों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ सकते हैं। इसके पीछे कई वजहें गिनाई जा रही हैं। आइए जानते हैं कि किन कारणों से कोरोना के प्रसार के बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। 1.कोरोना वायरस पहली बार नवंबर 2019 में वुहान में पाया गया था, इसलिए इस नवंबर में भी प्रसार की आशंका। 2. एक अध्ययन में कहा गया है कि महाराष्ट्र में स्वाइन फ्लू के मामले सर्दियों में ज्यादा आते हैं। 3. शुरुआती महीनों के दौरान संक्रमण के फैलने के ठीक बाद यह अफवाह थी कि गर्म और ठंडा मौसम कोरोना वायरस को मार सकता है, लेकिन वायरस गर्मी और मानसून से बच गया है। सर्दियों में बढ़ने की आशंका है। 4. सांस की समस्या वाले लोग सर्दियों के दौरान पीड़ित होते हैं। भारत में प्रदूषण के साथ इसको जोड़ा जा रहा है, क्योंकि प्रमुख शहर अत्यधिक प्रदूषित हैं। 5. नवंबर-दिसंबर में त्योहारों से बढ़ती भीड़ की वजह से कोरोना के मामलों में वृद्धि हो सकती है। 

3 - कर्नाटक : बाढ़ का प्रकोप, मदद के लिए उतरी सेना, हजारों लोगों को सुरक्षित निकाला

कर्नाटक में रविवार को भी बाढ़ के हालात गंभीर बने रहे। यहां कृष्णा और भीम नदी उफान पर हैं और सेना, राज्य एवं राष्ट्रीय आपदा मोचन बल बचाव कार्य कर रहे हैं तथा बाढ़ के बीच फंसे हजारों लोगों को निकाला गया है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि पिछले हफ्ते हुई भारी बारिश के चलते कलबुर्गी, विजयपुरा, यादगिर और रायचूर जिलों में कई गांव बाढ़ के पानी में पूरी तरह से या आंशिक रूप से डूब गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि 21 अक्तूबर को वह बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई दौरा करेंगे। कर्नाटक आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के मुताबिक, बचाव दलों ने अब तक 20,269 लोगों को बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों से निकाला है। भारी बारिश होने से तथा पड़ोसी महाराष्ट्र में बांधों से पानी छोड़ने के कारण कर्नाटक के चार जिलों के 111 गांव बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।

4 - कोरोना वायरस : ब्राजील में करीब 1.54 लाख लोगों की मौत

ब्राजील में कोरोना वायरस से 230 और लोगों की मौत होने के बाद इस जानलेवा विषाणु से होने वाली मौतों की संख्या 1.54 लाख के करीब पहुंच गयी है। यहां इस महामारी से अब तक 1,53,905 लोगों की मौत हो चुकी है। ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में इस संक्रमण के 10,982 नये मामले दर्ज किये जाने के बाद इससे अब तक प्रभावित होने वाले लोगों का आंकड़ा बढ़कर 52,35,344 हो गया है। देश में साओ पाउलो इस संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित हुआ है। यहां पर कोविड-19 की चपेट में 10,63,602 लोग आए हैं तथा 38,020 लोगों की मौत हुयी है। कोरोना से होने वाली मौतों के मामले में ब्राजील अमेरिका के बाद दूसरे नंबर है। 

5 - J.P नड्डा आज पश्चिम बंगाल का करेंगे दौरा 

सोमवार को भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा पश्चिम बंगाल में सिलीगुड़ी की एक दिवसीय यात्रा पर जाएंगे और कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। बता दें कि पहले नड्डा के संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करने का भी कार्यक्रम था, लेकिन उसे रद्द कर दिया गया है। शाम में वह दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे। बंगाल में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और भाजपा, ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस की सरकार को सत्ता से बेदखल करने के लिए कोशिश कर रही है। भगवा दल ने पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन किया था। भाजपा के मुख्य प्रवक्ता अनिल बलूनी ने कहा कि सिलीगुड़ी में नड्डा पार्टी नेताओं और विभिन्न सामाजिक समूहों के प्रतिनिधियों के साथ अलग-अलग बैठक करेंगे। भाजपा प्रमुख संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगे और मंदिर में पूजा करेंगे। वह समाज सुधारक पंचानन बर्मा को श्रद्धांजलि भी देंगे।