BREAKING NEWS

पिटबुल कुत्ते ने 9 साल के मासूम बच्चे पर किया हमला बच्चा गंभीर रूप से घायल, मालिक पर केस दर्ज◾गाजियाबाद: एक्शन में पुलिस कमिश्नर, 24 चौकी प्रभारियों समेत 47 दरोगाओं का किया ट्रांसफर ◾धर्मों को लेकर बोला SC- भारत एक धर्मनिरपेक्ष... सभी लोगों को अपने धर्मों का करना चाहिए पालन◾सीमा विवाद में फडणवीस की एंट्री, बोले- कर्नाटक के विवादित क्षेत्रों में मंत्रियों के दौरे पर अंतिम निर्णय शिंदे लेंगे◾कर्नाटक का शिवमोग्गा फिर बना चर्चा का केंद्र, दीवारों पर लिखा- 'Join CFI'....जांच में जुटी पुलिस ◾Haridwar News: खतरनाक पिटबुल के हमले में लहूलुहान हुआ बच्चा, पुलिस ने दर्ज किया मामला◾राजस्थान: शेखावटी में गैंगस्टरों का खूनी खेल में मौत का तांडव ! राजू ठेठ और विश्नोई गैंग में क्यों चली आ रही है दुश्मनी◾थरूर को दरकिनार करने का प्रयास! NCP ने पार्टी में शामिल होने का दिया ऑफर....मिला ये जवाब ◾जुड़वा बहनों से एक साथ शादी करना युवक को पड़ा भारी, केस दर्ज◾मोदी-मोदी के नारों के बीच राहुल ने की फ्लाइंग kiss की बौछार, खूब वायरल हो रहा है वीडियो◾जानिए अब कौनसी पाकिस्तानी लड़कीयाँ सोशल मीडिया पर मचा रही तहलका◾मैनपुरी उपचुनाव : SP ने चुनाव में गड़बड़ी का लगाया आरोप, कहा-मुस्लिम वोटर्स को मतदान से रोक रही है BJP◾Viral Video: चीन में बेकाबू हुआ कोरोना! मरीज ने क्रारंटाइन सेंटर जानें से किया मना...तो अधिकारी घसीटने लगा ◾ गुजरात विधानसभा चुनाव पर अखिलेश यादव ने दी प्रतिक्रिया, बोले- "मुझे उम्मीद है कि बीजेपी गुजरात में बुरी तरह हारेगी"◾UP News: मैनपुरी में जीत को लेकर डिंपल आश्वस्त, बोलीं- नेताजी के सम्मान में वोट दे रहे लोग, परिणाम पर कहा.... ◾Kaushambi में हेड मास्टर ने स्कूली छात्र से साफ कराया Toilet, शिक्षा विभाग में मचा हड़कंप! ◾मुंबई: महिला के साथ हैवानियत की सारी हदें पार, 3 लोगों ने किया गैंगरेप, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से भी जलाया, मामला दर्ज ◾भाजपा की घेराबंदी में जुटा विपक्ष, PM पर लगाया आचार संहिता उल्लंघन का आरोप, जानें क्या है पूरा मामला ◾छतीसगढ़ के अस्पताल में बड़ी लापरवाही, वेंटिलेटर काम नहीं करने पर 4 बच्चों की गई जान, परिजनों ने किया हंगामा◾Kodava Community : भारत में रहने वाले ये लोग बिना लाइसेंस के रखते हैं हथियार, ब्रिटिश काल से मिली हुई है छूट◾

केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा संगठन पर प्रतिबंध लगाने के निर्णय को स्वीकार करते है: PFI

भारत सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) को आतंकी गतिविधियों में लिप्त रहने के मामले में 5 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। इस पूरे घटनाक्रम पर पीएफआई का भी बयान सामने आया है, संगठन के केरल राज्य के महासचिव अब्दुल सत्तार ने कहा कि पीएफआई के सभी सदस्यों और जनता को सूचित किया जाता है कि पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया को विघटित कर दिया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने PFI पर प्रतिबंध लगाने की अधिसूचना जारी की है, संगठन इस निर्णय को स्वीकार करता है। 

आतंकी गतिविधियों में शामिल था पीएफआई 

सरकार ने आतंकवाद रोधी कानून (UAPA) के तहत ऑल इंडिया इमाम काउंसिल (एआईआईसी) , कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (सीएफआई), एम्पॉवर इंडिया फाउंडेशन, रिहैब इंडिया फाउंडेशन (आरआईएफ), नेशनल कॉन्फेडरेशन ऑफ ह्यूमन राइट्स ऑर्गेनाइजेशन (एनसीएचआरओ), जूनियर फ्रंट, नेशनल विमेंस फ्रंट और रिहैब फाउंडेशन (केरल) को भी प्रतिबंधित किया गया है।बीते दिनों राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) के नेतृत्व में जांच एजेंसियों की टीम ने पीएफआई के ठिकानों पर  IS कनेक्शन, टेरर फंडिंग समेत कई गंभीर मामलों में छापेमारी कर 400 से अधिक नेताओं को गिरफ्तार किया था। जिसके विरोध में संगठन के कार्यकर्ताओं ने हिंसक प्रदर्शन किया था।