BREAKING NEWS

अडानी मुद्दे पर नोटिस खारिज किए जाने के विरोध में AAP, BRS, शिवसेना ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से किया Walk out◾बीजेपी सांसद संगम लाल गुप्ता कर रहे, लखनऊ का नाम बदलने की मांग ◾Minister murder case: BJP ने जांच की निगरानी के लिए सेवानिवृत्त न्यायाधीश की नियुक्त पर उठाए सवाल◾Turkey earthquake: तुर्की भूकंप में गई हजारों लोगों की जान, तबाही का मंजर देख रह जाएंगे आप भी हैरान ◾विनाशकारी भूकंप से तुर्की और सीरिया मं भूकंप से मरने वालों की संख्या 8 हजार के पार ◾Chhawla gangrape case : 3 दोषियों को रिहा करने के खिलाफ पुनर्विचार याचिका, नई पीठ गठित करेगा SC ◾कांग्रेस नेता अनिल भारद्वाज ने कहा- 'जनता ने AAP को समस्या समाधान के लिए दिया था वोट, तमाशे के लिए नहीं'◾7.7 तीव्रता के भूकंप के बाद तुर्की में कुल 435 झटके महसूस, 8 हजार से ज्यादा लोगों की गई जान, बचाव कार्य जारी ◾किशोर दास की हत्या कर, क्रांति लाना चाहता था हत्यारा ASI, क्राइम ब्रांच ने किया खुलासा◾भाजपा ने कहा- CM योगी आदित्यनाथ से राहुल गांधी को मांगनी चाहिए माफी ◾TMC नेता महुआ ने अडाणी समूह से जुड़े मामले में लोकसभा में लगाया आरोप, कहा- देश के लोगों को मूर्ख बनाया ◾PM मोदी को कश्मीर का विशेष दर्जा बहाल करना चाहिए, तभी भारत के साथ संबंध आगे बढ़ सकते हैं : इमरान खान◾Lok Sabha Session: लोकसभा में आज विपक्ष के प्रश्नों का जवाब दे सकते हैं प्रधानमंत्री मोदी◾भाजपा के सत्ता में आने के बाद अडानी दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बन गए : राहुल गांधी◾Delhi Excise Policy Case: सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति मामले में हैदराबाद के CA को किया गिरफ्तार ◾दिल्ली शराब घोटाले मामले में तेलंगाना के CM केसीआर की बेटी का CA गिरफ्तार◾आज का राशिफल (08 फरवरी 2023)◾आत्मनिर्भर नए भारत में हिंसा और वामपंथी उग्रवादी विचार की कोई जगह नहीं है : अमित शाह◾जीवीके ने राहुल गांधी के दावों को खारिज किया, कहा : मुंबई एयरपोर्ट को बेचने का कोई दबाव नहीं था◾Shraddha Walker Murder Case : श्रद्धा के शरीर के 17 से ज्यादा टुकड़े किए, आफताब ने कबूला - चार्जशीट◾

देश में तीसरी लहर आने के आसार? स्टडी के मुताबिक फरवरी में पीक पर होगा ओमीक्रॉन, जानें कब मिलेगी राहत

भारत में कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन के लगतार बढ़ रहे प्रकोप के कारण देश में फरवरी 2022 तक कोविड की तीसरी लहर आने की संभावना है। एक स्टडी का दावा है कि ओमीक्रॉन अगले साल फरवरी तक भारत में अपने चरम पर पहुंच सकता है। यह चिंता का सबब तो है ही साथ ही हम सभी को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सावधान रहने की आवश्यकता है। आईआईटी (IIT) कानपुर के मनिंद्र अग्रवाल और IIT हैदराबाद के एम विद्यासागर, मॉडल के सह-संस्थापक के मुताबिक “सबसे खराब स्थिति” में फरवरी में दैनिक नए मामले 1.5 से 1.8 लाख के बीच हो सकते हैं।  

चरम पर पहुंचने के बाद तेजी से घटेगा कोरोना 

उन्होंने कहा कि यह तब हो सकता है जब ओमीक्रॉन वैरिएंट प्राकृतिक रूप से या टीकाकरण के माध्यम से प्राप्त प्रतिरक्षा से पूरी तरह से बच जाता है। मनिंद्र अग्रवाल का मानना है, ''इस नए वैरिएंट की उत्पति दक्षिण अफ्रीका से हुई थी। यदि इसके खिलाफ कोई ठोस उपाय किए जाएं, तो नए संस्करण का प्रसार तेजी से तो होगा, लेकिन शिखर पर पहुंचने के बाद वह तेज गति से गिरना भी शुरू कर देगा। दक्षिण अफ्रीका में मामलों की संख्या तीन सप्ताह में चरम पर है। हालांकि अब ओमीक्रॉन मामलों में गिरावट भी शुरू हो चुकी है।

फरवरी के बाद ओमिक्रॉन के मामलों में आ सकती है कमी 

आईआईटी के विशेषज्ञों का मानना है कि ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच भारत को चिंतित नहीं, बल्कि सावधान बने रहने की जरूरत है। हालांकि नए वेरिएंट के बारे में एक बात अभी भी पता नहीं है कि यह किस हद तक घातक है। उन्होंने कहा कि अगर यूके और संयुक्त राज्य अमेरिका के मामलों, मौतों और अस्पताल में भर्ती भर्ती मरीजों के डेटा से अनुमान लगाया जाए तो फरवरी से ओमिक्रॉन का असर कम हो सकता है। आपको बता दें कि दक्षिण अफ्रीका में कोविड के मामलों की औसत संख्या 15 दिसंबर को लगभग 23,000 के उच्च स्तर पर पहुंच गई और अब 20,000 से नीचे आ गई है।

सपा नेताओं के खिलाफ छापेमारी में IT को मिली 68 करोड़ की अघोषित आय की जानकारी