BREAKING NEWS

Tripura Elections: माकपा-तृणमूल को झटका, मोबोशर अली और सुबल भौमिक BJP में हुए शामिल ◾राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक का मामला गर्माया, CM गहलोत बोले- गृहमंत्री जांच करवाएं◾UP News: भाजपा सांसद रवींद्र कुशवाहा बोले- स्वामी प्रसाद मौर्य को सपरिवार इस्लाम स्वीकार लेना चाहिए◾सौरभ भारद्वाज का आरोप- भाजपा असंवैधानिक तरीके से MCD पर चाहती है नियंत्रण◾दिल्ली पुलिस ने किया नौकरी धोखाधड़ी रैकेट का भंडाफोड़, तीन आरोपी गिरफ्तार◾नीतीश कुमार बोले- लोकसभा चुनाव के लिए समान विचारधारा वाले दलों की बैठक की प्रतीक्षा◾पंजाब के लोगों को मिली 400 मोहल्ला क्लीनिक की सौगात, सीएम भगवंत मान और मुख्यमंत्री केजरीवाल ने किया उद्घाटन◾पाकिस्तान: फवाद चौधरी की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा ◾भारत ने लिया बड़ा फैसला, 'सिंधु जल संधि में संशोधन को लेकर पाकिस्तान को दिया नोटिस'◾झारखंड : रांची में 10 लाख का ईनामी 'तिलकेश्वर' नामक उग्रवादी गिरफ्तार, राइफल समेत कई हथियार बरामद ◾Unnao rape case: दिल्ली हाई कोर्ट ने कुलदीप सेंगर की अंतरिम जमानत की अवधि घटाई◾उत्तराखंड : भू-धंसाव को लेकर एसीएस की अध्यक्षता में की जाएगी बैठक, पुनर्वास पर होगी चर्चा ◾हिमाचल में हवाई अड्डे के निर्माण पर माकपा पार्टी ने किया जोरदार विरोध,बड़ी संख्या में किसान होंगे प्रभावित◾नेपाल में दुर्घटनाग्रस्त हुए यती एयर लाइन्स के विमान के ब्लैक बॉक्स की सिंगापुर में होगी जांच◾PM मोदी के 'परीक्षा पे चर्चा' कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की शिरकत ◾रामचरितमानस विवाद में स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ दिल्ली में FIR दर्ज करने की मांग ◾ऑनर किलिंग ! पिता और भाई ने मेडिकल छात्रा की गला दबाकर की हत्या, पांच आरोपी गिरफ़्तार◾LAC पर भारत और चीन की सेना के बीच एक बार फिर दिख सकती है तनातनी, इस रिपोर्ट में किया गया दावा ◾Pathan movie : कंगना रनौत बदलना चाहती है शाहरुख खान की पठान का नाम, कहा गूंजेगा तो सिर्फ 'जय श्री राम' ◾अडानी समूह पर हिंडनबर्ग रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कह दी बड़ी बात◾

अहमद पटेल जीत : 2019 के लिए विपक्ष को रणनीति में बदलाव करने की जरूरत - उमर

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने आज कहा कि कांग्रेस नेता अहमद पटेल की गुजरात राज्यसभा चुनाव में जीत कभी इतनी मुश्किल नहीं होती और विपक्ष को 2019 के आम चुनावों में भाजपा से मुकाबले के लिए आत्मनिरीक्षण करने और अपनी रणनीति में बदलाव करने की जरूरत है।

उमर ने चुनाव आयोग (EC) की सराहना की और इस कदम को केन्द के दबाव का सामना करना जैसा करार दिया।

नेशनल कान्फ्रेंस के कार्यकारी अध्यक्ष ने ट्वीट किया कि अहमद भाई की जीत बहुत स्वागत योज्ञ कदम है लेकिन यह इतनी मुश्किल नहीं होती। आत्मनिरीक्षण और रणनीति बदलने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि हमें यह समझने के लिए और कितने साक्ष्य की जरूरत होगी कि हम विपक्षी पार्टियां एक कठोर, राजनीतिक मशीन में बदल गयी भाजपा के खिलाफ हैं।

चुनाव आयोग की भूमिका पर उन्होंने एक और ट्वीट में कहा कि 5 वरिष्ठ कैबिनेट मंत्रियों के दबाव का डट कर सामना करते हुये एक फैसला सुनाया जो भाजपा को झटका देने वाला है।