BREAKING NEWS

भारत को गुजरात में बदलने के प्रयास : तृणमूल कांग्रेस सांसद ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने डच समकक्ष के साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा की ◾महाराष्ट्र गतिरोध : राकांपा नेता अजित पवार राज्यपाल से मिलेंगे ◾महाराष्ट्र : शिवसेना का समर्थन करना है या नहीं, इस पर राकांपा से और बात करेगी कांग्रेस ◾महाराष्ट्र : राज्यपाल ने दिया शिवसेना को झटका, और वक्त देने से किया इनकार◾CM गहलोत, CM बघेल ने रिसॉर्ट पहुंचकर महाराष्ट्र के नवनिर्वाचित विधायकों से मुलाकात की ◾दोडामार्ग जमीन सौदे को लेकर आरोपों पर स्थिति स्पष्ट करें गोवा CM : दिग्विजय सिंह ◾सरकार गठन फैसले से पहले शिवसेना सांसद संजय राउत की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती◾महाराष्ट्र: सरकार गठन में उद्धव ठाकरे को सबसे बड़ी परीक्षा का करना पड़ेगा सामना !◾महाराष्ट्र गतिरोध: उद्धव ठाकरे ने शरद पवार से की मुलाकात, सरकार गठन के लिए NCP का मांगा समर्थन ◾अरविंद सावंत ने दिया इस्तीफा, बोले- महाराष्ट्र में नई सरकार और नया गठबंधन बनेगा◾महाराष्ट्र में सरकार गठन पर बोले नवाब मलिक- कांग्रेस के साथ सहमति बना कर ही NCP लेगी फैसला◾CWC की बैठक खत्म, महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर शाम 4 बजे होगा फैसला◾कांग्रेस का महाराष्ट्र पर मंथन, संजय निरुपम ने जल्द चुनाव की जताई आशंका◾महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर कांग्रेस-NCP ने नहीं खोले पत्ते, प्रफुल्ल पटेल ने दिया ये बयान◾BJP अगर वादा पूरा करने को तैयार नहीं, तो गठबंधन में बने रहने का कोई मतलब नहीं : संजय राउत◾महाराष्ट्र सरकार गठन: NCP ने बुलाई कोर कमेटी की बैठक, शरद पवार ने अरविंद के इस्तीफे पर दिया ये बयान ◾संजय राउत का ट्वीट- रास्ते की परवाह करूँगा तो मंजिल बुरा मान जाएगी◾शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने मंत्री पद से इस्तीफे की घोषणा की◾BJP द्वारा सरकार बनाने से इंकार किए जाने के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में उभर रहे नए राजनीतिक समीकरण◾

देश

AICC ने कर्नाटक कांग्रेस की वर्तमान कमेटी को भंग करने का किया फैसला - के सी वेणुगोपाल

नयी दिल्ली, बेंगलुरू : कर्नाटक कांग्रेस में बढ़ते असंतोष के बीच, पार्टी ने बुधवार को इस दक्षिणी राज्य की अपनी इकाई को भंग कर दिया। हालांकि, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और कार्यकारी अध्यक्ष को बरकरार रखा गया है। 

एआईसीसी महासचिव (संगठन) के सी वेणुगोपाल द्वारा जारी बयान में कहा गया, ‘‘एआईसीसी ने कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस की वर्तमान कमेटी को भंग करने का फैसला किया। अध्यक्ष और कार्यकारी अध्यक्ष को नहीं बदला गया है।’’ 

राज्य में लोकसभा चुनावों में करारी हार के बाद से कर्नाटक कांग्रेस में असंतोष पैदा हो गया है। दक्षिणी राज्य में कांग्रेस-जनता दल (एस) गठबंधन सरकार में समन्वय को लेकर भी समस्या है। 

राज्य में गठबंधन सरकार के कामकाज को लेकर मतभेदों के कारण कर्नाटक कांग्रेस में बीते कुछ समय से विरोध के स्वर उठ रहे हैं। कांग्रेस-जद (एस) के नेता भाजपा और इसके नेता वाई एस येदियुरप्पा पर गठबंधन सरकार को गिराने के लिए उसके नेताओं को लुभाने का आरोप लगा रहे हैं। कांग्रेस के दो निर्दलीयों को हाल में कर्नाटक कैबिनेट में शामिल किया गया है। 

प्रदेश कांग्रेस प्रमुख दिनेश गुंडू राव ने कहा कि कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी (केपीसीसी) को भंग करने के एआईसीसी के कदम से सभी स्तरों पर पार्टी के पुनर्गठन में मदद मिलेगी जिससे नये नेताओं के लिए अवसर पैदा होंगे। 

राव ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘एआईसीसी प्रमुख ने वर्तमान कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भंग कर दिया है। इसके पीछे मंशा राज्य, जिला एवं खंड स्तरों पर पार्टी का पुनर्गठन करना है जो महत्वपूर्ण है।’’ 

उन्होंने कहा कि वह तथा कार्यकारी प्रमुख ईश्वर खांद्रे पार्टी के पुनर्गठन और इसे मजबूत करने की दिशा में काम शुरू करेंगे। उन्होंने कहा कि वे विधायक दल के प्रमुख सिद्धरमैया, उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर, एआईसीसी महासचिव के सी वेणुगोपाल और अन्य नेताओं से विचार-विमर्श करेंगे।