BREAKING NEWS

महाराष्ट्र में कोरोना के 8139 नये मामले आए सामने, संक्रमितों की संख्या 246600 हुई◾दिल्ली में कोरोना का कोहराम जारी, बीते 24 घंटे में 1,781 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.10 लाख के पार◾चीनी कंपनियों के सहारे PM केयर्स फंड पर राहुल का PM मोदी पर तंज, ट्वीट कर कही ये बात◾हार्दिक पटेल को गुजरात कांग्रेस की कमान, प्रदेश कांग्रेस कमेटी का वर्किंग प्रेसिडेंट नियुक्त किया गया◾देश में कोराना से ठीक हुए लोगों की संख्या 5 लाख के पार पहुंची, रिकवरी दर 62 फीसदी से अधिक : स्वास्थ्य मंत्रालय◾तमिलनाडु में 3965 नए मामले की पुष्टि, 69 लोगों की मौत ◾कानपुर प्रकरण की जांच के लिए SIT गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट◾महाराष्ट्र एटीएस ने ठाणे से कानपुर हत्याकांड में शामिल विकास दुबे के दो साथियों को किया गिरफ्तार◾Boycott China : चीन को चुनौती देने के लिए इंदौर के भाजपा सांसद बनवा रहे एक लाख स्वदेशी राखियां ◾रविवार को होगा मध्यप्रदेश सरकार के मंत्रियों को विभागों का बंटवारा : शिवराज सिंह चौहान ◾हांगकांग से जान बचाकर भागी वैज्ञानिक ने खोली चीन की पोल, कहा - कोरोना की जानकारी छुपाई गयी ◾सीएम गहलोत का दावा - भाजपा के लोग षड्यंत्र रच रहे हैं लेकिन उनकी सरकार स्थिर है और पांच साल चलेगी ◾सिर्फ कानपुर ही नहीं विदेशों में भी है विकास दुबे की करोड़ों की प्रॉपर्टी, ईडी ने भी शुरू की जांच ◾दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला : कोरोना के मद्देनजर स्टेट यूनिवर्सिटीज की सभी परीक्षाओं को किया रद्द◾सोनिया के साथ कांग्रेस के लोकसभा सदस्यों की बैठक में राहुल से फिर से पार्टी अध्यक्ष बनने की मांग◾शरद पवार का भाजपा पर निशाना, कहा मतदाताओं को हल्के में न लें ,इंदिरा और अटल भी हारे थे ◾लॉकडाउन में ढील के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था सामान्य स्थिति में वापस आ रही है : RBI गवर्नर ◾पीएम द्वारा रीवा सौर ऊर्जा परियोजना को एशिया में सबसे बड़ी बताने पर राहुल गांधी ने साधा निशाना ◾पीएम नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ के आगामी कार्यक्रम के लिए जनता से सुझाव आमंत्रित किये◾देश में कोरोना के 27 हजार से अधिक नए मामलों का रिकॉर्ड, संक्रमितों का आंकड़ा सवा आठ लाख के करीब ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

EVM से छेड़छाड़ के आरोप आपराधिक इरादे से लगाए गए : सुनील अरोड़ा

मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) सुनील अरोड़ा ने कहा है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से छेड़छाड़ के आरोप ‘‘बहुत अनुचित’’ हैं और ये एक ‘‘आपराधिक इरादे’’ से लगाये जाते हैं। अरोड़ा ने आईआईएम..कलकत्ता के वार्षिक ‘बिजनेस कान्क्लेव’ में शनिवार को कहा कि मशीनों में यदा कदा खराबी आ सकती है, जैसा अन्य उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल होने वाले उपकरणों में आती है लेकिन इससे छेड़छाड़ नहीं की जा सकती। 

उन्होंने कहा, ‘‘खराबी, छेड़छाड़ से बहुत अलग है। इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से छेड़छाड़ नहीं की जा सकती। यदि आप ऐसा कहते हैं तो आपका कोई आपराधिक इरादा है जो हमें खराब लगता है।’’ अरोड़ा ने कहा कि दो ‘‘अत्यंत प्रतिष्ठित’’ सार्वजनिक कंपनियों ने ईवीएम डिजाइन की है। 

उन्होंने कहा, ‘‘ईवीएम को एक सुरक्षित माहौल में बनाया गया था और प्रतिष्ठित संस्थानों के एमेरिटस प्रोफेसरों ने पूरी प्रक्रिया की निगरानी की।’’ अरोड़ा पश्चिम बंगाल नेशनल यूनिवर्सिटी आफ जूरिडिकल साइंसेस और आईआईएम (कलकत्ता) द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए शहर में थे। 

उन्होंने इस ओर इशारा करते हुए कि तृणमूल कांग्रेस और कांग्रेस सहित विपक्षी दलों ने लोकसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद ही ईवीएम से छेड़छाड़ के आरोप लगाये। उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत अनुचित है। जब आप हारते हैं तो मशीन को निशाना क्यों बनाना?’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘आरोप चुनाव आयोग और वोटिंग मशीन बनाने वालों की ईमानदारी पर सवाल उठाते हैं। ईवीएम से छेड़छाड़ नहीं की जा सकती, हालांकि इसमें खराबी आ सकती है जैसा आपके द्वारा दैनिक जीवन में इस्तेमाल होने वाले उपकरणों में आती है।’’ 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ ही तेदेपा के एन चंद्रबाबू नायडू, नेशनल कान्फ्रेंस के फारुक अब्दुल्ला और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे सहित कई विपक्षी नेताओं ने बार बार कहा है कि इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों से छेड़छाड़ की जा सकती। इन नेताओं ने मतपत्र से चुनाव कराने की मांग भी की है। 

चुनाव कराने में चुनाव आयोग की भूमिका के बारे में अरोड़ा ने कहा, ‘‘चुनाव एक तरफ कानून एवं संविधान और दूसरी ओर प्रशासन एवं प्रबंधन से संबंधित है। प्रत्येक इकाई का अपना महत्व है।’’ सीईसी ने यद्यपि यह स्वीकार भी किया कि कुछ विवादास्पद व्यक्ति थे जिन्हें बदलना पड़ा। 

उन्होंने कहा, ‘‘चुनाव आयोग को लोकसभा चुनाव के दौरान कुछ बदलाव करने पड़े, कुछ अधिकारियों को बदलना पड़ा जिसमें पश्विम बंगाल का एक अधिकारी शामिल था।’’ 63 वर्षीय आईएएस अधिकारी ने कहा कि आयोग अब अक्टूबर..नवम्बर में महाराष्ट्र और हरियाणा में चुनाव कराने की तैयारी कर रहा है, जबकि झारखंड और दिल्ली के विधानसभा चुनाव भी नजदीक हैं। 

उन्होंने चुनाव अधिकारियों की प्रशंसा करते हुए कहा, ‘‘आपको उन सभी की उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण के लिए प्रशंसा करनी पड़ेगी। चुनाव अधिकारी आम लोगों के संरक्षक हैं। यदि राज्य सरकार आपको प्रताड़ित करने का प्रयास करे तो वे आपको जरूरत के मुताबित पूरा संरक्षण देंगे ।’’