BREAKING NEWS

BJP कर रही है ‘रचनात्मक’ राजनीति, विपक्षी दलों की भूमिका ‘विनाशकारी’ : जे पी नड्डा◾महाराष्ट्र : शिंदे का समर्थन कर रहे शिवसेना के बागी विधायक गोवा से मुंबई लौट , विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव रविवार को◾PM मोदी की अगवानी ना कर KCR ने व्यक्ति नहीं संस्था का किया अपमान : BJP◾ Maharashtra Politics: मुख्यमंत्री शिंदे के साथ शिवसेना के बागी विधायक गोवा से मुंबई के लिए रवाना◾ बडा़ खुलासा : कन्हैया का सर कलम करने वाले मौहम्मद रियाज ने की थी बीजेपी दफ्तर की रेकी, गौस ने पाक में ली आतंकी ट्रेनिंग ◾ IPS Transfer list: यूपी में 21 IPS अधिकारियों का हुआ ट्रांसफर, इन जिलों के SP बदले गए, देखें पूरी सूची◾आंख निकालने, सिर काटने की धमकी देने वाले जहरीले मौलाना को गिरफ्तारी के दो दिन बाद ही मिली जमानत ◾वकीलों ने की कन्हैया के कसाईयों की धुनाई, जबरदस्त पिटाई, वीडीयो सोशल मीडीया पर वायरल ◾भाजपा की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक शुरु, प्रधानमंत्री मोदी भी मौजूद◾ कन्हैयालाल के परिवार को एक करोड़ की आर्थिक सहायता देंगे भाजपा नेता कपिल मिश्रा◾ बिहार में नीतीश कुमार NDA के चेहरा थे, हैं और रहेंगे, JDU नेता उपेंद्र कुशवाहा का बड़ा बयान ◾ Nupur Sharma: सस्पेंड BJP नेता नूपुर के खिलाफ कोलकाता पुलिस ने जारी किया लुकआउट नोटिस, 10 FIR हैं दर्ज◾ presidential election : चुनाव दो विचारधाराओं की लड़ाई बन गया है: यशवंत सिन्हा◾KCR की बीजेपी को खुली चुनौती- मेरी सरकार गिराकर दिखाओ मैं केंद्र सरकार गिरा दूंगा ◾मोहम्मद जुबैर को लगा बड़ा झटका, जमानत याचिका खारिज, हिरासत में भेजा गया ◾कन्हैयालाल की हत्या का आरोपी BJP का सदस्य नहीं, बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा ने सभी दावों का किया खंडन◾शिंदे को शिवसेना से निकालने पर भड़के बागी, कहा - हमारी भी एक सीमा ◾ Amravati Murder Case: अमरावती में हुई उदयपुर जैसी घटना, 54 साल के केमिस्ट की गला काटकर हत्या◾ Udaipur Murder Case: कांग्रेस का बड़ा दावा, कन्हैया हत्याकांड में आरोपी रियाज के BJP नेताओं से संबंध◾पाकिस्तानी सैन्य जनरलों को प्रोपर्टी डीलर बोलने वाले पत्रकार पर हमला ◾

अमरनाथ यात्रा को लेकर अमित शाह ने दिए सख्त निर्देश, बाबा के भक्तों को मिलेगी यह खास सुविधा

देश के केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने आज नई दिल्ली में एक उच्चस्तरीय बैठक की जिसमें अमरनाथ यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की गई। बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री ने खुफिया और सुरक्षा प्रमुखों को स्पष्ट निर्देश दिया कि अमरनाथ यात्रा के लिए जितने भी केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की जरूरत हो उन्हें यात्रा के दौरान तैनात किया जाए। साथ ही ऐसी सुविधाएं दीजिए, जिनसे यात्रियों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े।  

बैठक में ये लोग रहे मौजूद 

बैठक में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, केंद्रीय गृह सचिव, आसूचना ब्यूरो के निदेशक, जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव और केंद्र सरकार के विभिन्न मंत्रालयों व विभागों के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए. गृहमंत्री ने अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा और यात्रियों के लिए आवश्यक सुविधाओं को लेकर भी एक लम्बी बैठक की।  

इसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, केंद्रीय गृह सचिव और सूचना ब्यूरो के निदेशक, जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव और सुरक्षा एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारी शामिल भी शामिल हुए। सुरक्षा बैठक के दौरान अमरनाथ यात्रा पर होने वाले संभावित खतरों और अभी तक खुफिया एजेंसियों के सामने आए इंपोर्ट पर भी समीक्षा की गई।  

सुरक्षा के होने चाहिए पुख्ता इंजताम 

इस अहम बैठक में इस बात पर भी गौर किया गया कि आतंकवादी घुसपैठ के लिए सुरंग का भी सहारा ले सकते हैं। बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री ने साफ तौर पर सुरक्षा और खुफिया एजेंसियों को आगाह किया कि वे हर संभावित खतरे से निपटने की योजना बनाएं साथ ही अमरनाथ यात्रा को सुरक्षित चलाने के लिए जितनी भी केंद्रीय फोर्स की जरूरत हो उसे मंगा लिया जाए।  

कोरोना के बाद पहली यात्रा 

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि अमरनाथ यात्रा में आने वाले यात्रियों का दर्शन सुगम हों और उन्हें किसी भी समस्या का सामना न करना पड़े, ये मोदी सरकार की प्राथमिकता है। शाह ने अमरनाथ यात्रियों के आवागमन, ठहरने, बिजली, पानी, संचार और स्वास्थ्य समेत सभी आवश्यक सुविधाओं की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के बाद ये पहली यात्रा है और अत्यधिक ऊंचाई के कारण अगर लोगों को किसी तरह की स्वास्थ्य सम्बंधित समस्या हो तो उसके लिए पर्याप्त इंतज़ाम होने चाहिए।  

आपात स्थिति के लिए पूरी तैयारी 

गृह मंत्री ने कहा कि यात्रा मार्ग में बेहतर संचार और किसी भी सूचना के प्रसार के लिए मोबाइल टावर बढ़ाये जाए, साथ ही भूस्खलन होने की स्थिति में मार्ग तुरंत खोलने के लिए मशीने तैनात की जाएं। अमित शाह ने पर्याप्त संख्या में ऑक्सीज़न सिलेंडर सुनिश्चित करने के साथ ही 6000 फीट से अधिक की ऊंचाई पर पर्याप्त चिकित्सा बेड और किसी भी आपात चिकित्सा स्थिति से निपटने के लिए एम्ब्युलेन्स तथा हेलीकॉप्टर तैनात करने को भी कहा। उन्होंने कहा कि यात्रियों की सुविधा के लिए अमरनाथ यात्रा के दौरान हर तरह की परिवाहन सेवाएं बढ़ाई जाए। 

हर अमरनाथ यात्री को एक RIFD कार्ड दिया जाएगा 

बैठक में जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव ने कहा कि पहली बार हर अमरनाथ यात्री को एक RIFD कार्ड दिया जाएगा और पाँच लाख रुपये का बीमा करवाया जाएगा. इस कार्ड के सहारे यात्री की गाड़ियां या यात्री कहां है इसकी जानकारी मिल सकेगी. यात्रा के लिए टेंट सिटी, यात्रा मार्ग पर वाईफाई हॉटस्पॉट और समुचित प्रकाश की व्यवस्था की जाएगी. साथ ही बाबा बर्फानी के ऑनलाइन लाइव दर्शन, पवित्र अमरनाथ गुफा में सुबह और शाम की आरती का सीधा प्रसारण और बेस कैंप में धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा.