BREAKING NEWS

चीन के साथ 1962 के युद्ध ने विश्व मंच पर भारत की स्थिति को काफी नुकसान पहुंचाया : जयशंकर ◾झारखंड में रघुबर दास नहीं, मोदी-शाह करेंगे चुनाव प्रचार का नेतृत्व ◾भारत ने अयोध्या, कश्मीर पर पाकिस्तानी दुष्प्रचार का दिया करारा जवाब◾शी चिनफिंग और मोदी के बीच वार्ता ◾महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना में विलगाव ने कांग्रेस-राकांपा को किया है एकजुट ◾गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार को जायेंगे सीआरपीएफ के मुख्यालय ◾झारखंड : भाजपा ने 15 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी की ◾JNU में विवेकानंद की प्रतिमा के चबूतरे पर आपत्तिजनक संदेश◾राफेल की कीमत, ऑफसेट के भागीदारों के मुद्दों पर सरकार के निर्णय को न्यायालय ने सही करार दिया : सीतारमण ◾झारखंड चुनाव के पहले चरण के लिए कांग्रेस के 40 स्टार प्रचारकों की सूची जारी ◾आतंकवाद के कारण विश्व अर्थव्यवस्था को 1,000 अरब डॉलर का नुकसान : PM मोदी◾महाराष्ट्र गतिरोध : कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना में बातचीत, सोनिया से मिल सकते हैं पवार ◾मोदी..शी की ब्राजील में बैठक के बाद भारत, चीन अगले दौर की सीमा वार्ता करने पर हुए सहमत ◾कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान ने भारत से किसी भी समझौते से किया इनकार ◾राफेल के फैसले से JPC की जांच का रास्ता खुला : राहुल गांधी ◾राफेल पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद देवेंद्र फड़णवीस बोले- राहुल गांधी को अब माफी मांगनी चाहिए ◾नोबेल विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा- शुद्ध हवा सुनिश्चित करने के लिए प्रधानमंत्री को ठोस कदम उठाने चाहिए◾TOP 20 NEWS 14 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾RSS-भाजपा को सबरीमाला पर न्यायालय का फैसला मान लेना चाहिए : दिग्विजय सिंह ◾महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने को लेकर CM ममता ने राज्यपाल कोश्यारी पर साधा निशाना ◾

देश

योगी सरकार से नाराज ओपी राजभर दिल्ली हुए रवाना ,अमित शाह से करेंगे मुलाकात

योगी सरकार में मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर की जिद काम कर गई। राजभर को बीती रात बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मिलने का बुलावा आ गया और मंगलवार की सुबह उन्होंने दिल्ली की फ्लाइट भी पकड़ ली। आपको बता दे की बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह राजभर से मुलाकात करेंगे और उनकी नाराजगी दूर करेंगे।

गौरतलब है कि यूपी में लोकसभा उपचुनाव में गोरखपुर व फूलपुर को गंवाने के बाद भाजपा को अब सहयोगी दल भी आंख दिखाने लगे हैं। माना जा रहा है कि 23 मार्च को होने वाले राज्यसभा चुनाव में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के चार विधायक भाजपा के पक्ष में वोट नहीं करते हैं तो पार्टी को अपना नौवां प्रत्याशी जिताने के लिए मुश्किल का सामना करना पड़ सकता है।

यूपी में अपने संख्या बल के आधार पर भाजपा दस में से आठ सीट आसानी से जीत सकती है। उसने अपने बचे मत के साथ ही सहयोगी दल के साथ नौवां प्रत्याशी भी राज्यसभा में भेजने की योजना तैयार की है। अगर भाजपा के इस अभियान में राजभर की पार्टी ने दांव किया तो फिर राज्यसभा में इनका नौवां प्रत्याशी मुश्किल में पड़ सकता है। राजभर ने कहा कि मैं सरकार के खिलाफ नहीं हूं। संगठन में कुछ नीतियों पर उबाल है।

गाजीपुर के डीएम के तबादले को लेकर मंत्री पद से इस्तीफा देने की धमकी देने के साथ ही कई मौकों पर सरकार के प्रति नाराजगी जता चुके राजभर ने सोमवार को भाजपा पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि राज्यसभा में चुनाव का बहिष्कार करेंगे। अभी तक भाजपा की तरफ से किसी नेता ने बात नहीं की। गोरखपुर व फूलपुर उपचुनाव में भी किसी ने संपर्क नहीं किया। इसी का नतीजा है कि उपचुनाव हार गए। निकाय चुनाव में भी भाजपा ने धोखा दिया। जनता का विश्वास भाजपा खो चुकी है। यदि समय रहते नही चेते तो आने वाला समय भाजपा के लिए ठीक नहीं होगा।

राजभर ने आरोप लगाया कि यूपी सरकार सिर्फ मंदिरों पर ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि जिन गरीबों ने उसे वोट दिया, उन पर सरकार तवज्जो नहीं दे रही है। राजभर ने यह भी आरोप लगाया कि सरकार की तरफ से दावे बहुत किए जाते हैं, लेकिन जमीन पर कुछ होता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहां क्लिक करे।