BREAKING NEWS

राउत और उद्धव ने बाला साहेब को दी श्रद्धांजलि, फडणवीस ने ट्वीट कर लिखा-स्वाभिमान की मिली सीख◾बैंकॉक में अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर और राजनाथ सिंह के बीच हुई द्विपक्षीय बैठक◾दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में हुआ सुधार, नोएडा और गुरुग्राम में स्थिति फिलहाल गंभीर◾दिल्ली : ITO में लगे BJP सांसद गौतम गंभीर के लापता होने के पोस्टर◾वसीम रिजवी बोले- बगदादी और ओवैसी में कोई अंतर नहीं◾अयोध्या पर AIMPLB की बैठक आज, इकबाल अंसारी करेंगे बहिष्कार◾झारखंड विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने रांची में भाजपा से मुकाबला करने के लिए झामुमो को किया आगे◾महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने बैंकाक पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ◾किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है भाजपा सरकार : अखिलेश◾उत्तरी कश्मीर में पांच संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार ◾‘शिवसेना राजग की बैठक में भाग नहीं लेगी’ ◾TOP 20 NEWS 16 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामलीला मैदान में मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ के खिलाफ विपक्ष करेगी बड़ी रैली ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : भाजपा ने तीन उम्मीदवारों की चौथी सूची की जारी◾

देश

अन्ना हजारे ने बैंक भ्रष्टाचार मामले में शरद पवार का नाम आने पर आश्चर्य व्यक्त किया

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार का नाम करोड़ों रुपये के महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक घोटाले में आने पर आश्चर्य व्यक्त किया है। प्रवर्तन निदेशालय ने पवार और महाराष्ट्र के पूर्व उप मुख्यमंत्री अजीत पवार के खिलाफ धन शोधन का मामला दर्ज किया है। अजीत पवार राकांपा अध्यक्ष शरद पवार के भतीजे हैं। 

पुलिस की प्राथमिकी के समकक्ष मानी जाने वाली प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट (इन्फोर्समेंट केस इन्फॅर्मेशन रिपोर्ट) को केंद्रीय जांच एजेंसी ने धन शोधन (रोकथाम) अधिनियम के तहत पंजीकृत किया है। यह मामला मुंबई पुलिस की ओर से दर्ज प्राथमिकी पर आधारित है। इस प्राथमिकी में बैंक के पूर्व अध्यक्ष अजीत पवार और बैंक के 70 पदाधिकारियों के नाम हैं।

 हजारे से जब ईडी के इस मामले तथा घोटाले में शरद पवार का नाम कथित तौर पर संबद्ध होने के संबंध में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, "यह मामला जब मेरे सामने आया था तो शरद पवार का नाम इसमें नहीं था। उनका नाम कैसे आया, किसने डाला ये सभी चीजें वही जानते हैं।" भ्रष्टाचार के खिलाफ मुखर आवाज उठाने वाले और पवार के आलोचक रहे हजारे ने उम्मीद जताई की इस भ्रष्टाचार मामले की विस्तृत जांच के बाद सच्चाई का पता चलेगा। 

प्रतिशोध वाली सरकार के निशाने पर शरद पवार, यह कार्रवाई अवसरवाद है : राहुल गांधी

उन्होंने कहा, "प्रवर्तन निदेशालय को जानकारी होगी कि उनका (पवार का) नाम कैसे इस मामले में आया।" शरद पवार ने इस भ्रष्टाचार मामले में किसी तरह की संलिप्तता से इनकार करते हुए कहा कि वह बैंक से किसी भी तरह से नहीं जुड़े हैं। 

उन्होंने प्राथमिकी के समय पर भी सवाल उठाया जो कि 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव से कुछ सप्ताह पहले दर्ज की गई है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह दिल्ली की ‘सत्ता’ के समक्ष नहीं झुकेंगे। उनका इशारा केंद्र की भाजपा नीत सरकार की ओर था। राकांपा ने इस मामले को राजनीति से प्रेरित बताया है।