BREAKING NEWS

JDS के नेतृत्व वाली सरकार के दौरान हुए फोन टैपिंग केस को CBI को सौंपेंगी येदियुरप्पा सरकार◾हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश और भूस्खलन के कारण कई नेशनल हाईवे क्षतिग्रस्त◾नितिन गडकरी की अफसरों को चेतावनी, बोले- 8 दिन में पूरा करो काम, नहीं तो लोगों से कहकर धुलाई करा दूंगा◾हंसराज हंस ने की JNU का नाम बदलकर MNU रखने की मांग, बोले- मोदी के नाम पर भी कुछ हो◾राजधानी थिंपू में पीएम मोदी का संबोधन, बोले-एक दिन भूटान के वैज्ञानिक भी उपग्रह डिजाइन करने◾AK-47 रखने के मामले में अनंत सिंह गिरफ्तारी की भनक लगते ही फरार, पुलिस ने पत्नी से की पूछताछ◾एम्स में भर्ती अरुण जेटली 'लाइफ सपोर्ट सिस्टम' पर, दुआओं का दौर जारी◾खडसे बोले- जिन नेताओं के खिलाफ BJP भ्रष्टाचार के आरोप लगाती थी, उन्हें पार्टी में शामिल करना अच्छा विचार नहीं◾राजनाथ ने केंद्रीय विभागों के पुन आवंटन पर मंत्री समूह की अध्यक्षता की ◾कर्नाटक : येदियुरप्पा को अमित शाह ने दी मंत्रिमंडल विस्तार की हरी झंडी ◾जलवायु परिवर्तन पर ‘बेसिक’ देशों को एक सुर में आवाज उठानी होगी : जावड़ेकर ◾BJP सरकार का रवैया नकारात्मक, अमेठी-मैनपुरी में सैनिक स्कूल की स्थापना समाजवादी सरकार में हुई : अखिलेश◾MP : मुख्यमंत्री कमलनाथ उज्जैन मंदिर को दे सकते हैं 300 करोड़ की सौगात ◾TOP 20 NEWS 17 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ AIIMS अस्पताल में लगी भीषण आग, अभी तक कोई हताहत नहीं◾जेटली जीवन रक्षक प्रणाली पर : नीतीश, पीयूष गोयल समेत अन्य नेता हाल जानने एम्स पहुंचे ◾भूटान का पड़ोसी होना सौभाग्य की बात, भूटान की पंचवर्षीय योजनाओं में करेंगे सहयोग : PM मोदी◾पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद◾प्रियंका गांधी बोलीं- देश में 'भयंकर मंदी' लेकिन सरकार के लोग खामोश◾ मायावती का ट्वीट- देश में आर्थिक मंदी का खतरा, इसे गंभीरता से लें केंद्र◾

देश

पाकिस्तान की धमकियों पर बोले सेना प्रमुख- किसी भी हालात से निपटने के लिए हैं तैयार

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने मंगलवार को कहा कि सशस्त्र बल पाकिस्तान से आने वाले किसी भी खतरे से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर की आम जनता के साथ सेना सौहार्दपूर्ण संबंध बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है। जनरल रावत यहां सोसाइटी ऑफ इंडियन डिफेंस मैन्युफैक्चर्स में 'रक्षा के क्षेत्र में अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी इनफ्यूजन' विषय पर एक सेमिनार में बोल रहे थे। 

रावत ने कहा, "कश्मीर की आम जनता के साथ सशस्त्र बलों के संबंध 70 और 80 के दशक में बहुत सौहार्दपूर्ण हुआ करते थे।" उन्होंने कहा, "उस वक्त हम आग जनता से बिना बंदूक के मिला करते थे। यह बहुत अच्छा होगा, अगर सेना और आम जनता के बीच उस तरह का सौहार्द फिर से शुरू हो जाए। हम आम जनता के साथ अच्छे संबंध रखेंगे।" 

विदेश मंत्री कुरैशी बोले- अल्लाह की लाठी चली तो मोदी का घमंड खाक में मिला देंगे

राज्य के विशेष दर्जे को खत्म कर दिया गया है, जिसके बाद से वहां भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। जनरल रावत ने कहा कि देश को बयान बाजियों से डरने की जरूरत नहीं है। हाल ही में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद अब कश्मीर में पुलवामा जैसा हमला फिर से हो सकता है। 

रावत ने कहा, "हम हमेशा सतर्क रहते हैं और किसी भी तरह की घटना के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। ऐसे बयानों से चिंता करने की कोई बात नहीं है।" फरवरी माह में एक एक आत्मघाती हमलावर ने एक हमले में खुद को उड़ा दिया था, जिसमें केंद्रीय रिजर्व बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके जवाब में भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में स्थित आतंकी कैम्पों में बम बारी करके कई आतंकवादियों को मार गिराया था।