BREAKING NEWS

हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत पर बवाल, विजय चौक के पास दिल्ली महिला कांग्रेस का जोरदार प्रदर्शन◾बिहार विधानसभा चुनाव : महागठबंधन से अलग हुई RLSP, बसपा के साथ बनाया नया गठबंधन ◾पायल घोष ने महाराष्ट्र के राज्यपाल से की मुलाकात, अनुराग कश्यप मामले में की न्याय की मांग◾विपक्ष के चौतरफा हमले के बीच यूपी सरकार ने हाथरस के पीड़ित परिवार को दी 10 लाख रु की मदद ◾चुनाव आयोग ने 12 राज्यों की 57 सीटों पर उपचुनाव की तारीखों का किया ऐलान, 10 नवंबर को नतीजे◾एनसीबी का बड़ा बयान- ड्रग्स लेने के दौरान सुशांत को रिया ने दिया बढ़ावा◾‘नमामि गंगे’ मिशन के तहत PM मोदी ने उत्तराखंड में 6 बड़ी परियोजनाओं का किया उद्घाटन◾कृषि बिल पर राहुल ने की किसानों से बातचीत, कहा- नए कानून से अन्नदाता बन जाएंगे मजदूर◾हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत पर विपक्ष का योगी सरकार पर हमला, कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल◾देश में एक दिन में कोरोना के 70 हजार नए मामलों की पुष्टि, पॉजिटिव केस 61 लाख के पार◾ विश्व में कोरोना वायरस का कहर तेज, पॉजिटिव केस 3 करोड़ 32 लाख के पार ◾उत्तर प्रदेश : हाथरस में सामूहिक बलात्कार पीड़िता की दिल्ली के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत◾TOP 5 NEWS 29 SEPTEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें◾ अमेरिका में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 71 लाख से अधिक, ये प्रांत बुरी तरह प्रभावित ◾J&K के पुंछ में पाकिस्तान ने LOC पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया, सेना ने दिया मुहतोड़ जवाब◾आज का राशिफल (29 सितम्बर 2020)◾MI vs RCB (IPL 2020) : रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की मुंबई इंडियन्स पर सुपर ओवर में रोमांचक जीत◾सुशांत केस: AIIMS ने सीबीआई को सौंपी रिपोर्ट, जांच की रफ्तार होगी तेज◾पत्नी से मारपीट का वीडियो वायरल : पुलिस अधिकारी पदमुक्त, सरकार ने जारी किया 'कारण बताओ नोटिस'◾कोविड-19 को लेकर बोली दिल्ली सरकार - दिल्ली में शुरू हो चुका है कोरोना का डाउनट्रेंड◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

निगमबोध घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अरुण जेटली का अंतिम संस्कार किया गया

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का आज दिल्ली के निगमबोध घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। इस मौके पर गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई बड़े नेता निगमबोध घाट पर मौजूद रहे।  

बता दें कि लंबे समय से बीमार चल रहे अरुण जेटली (66) का शनिवार को एम्स में निधन हो गया था। जेटली ने शनिवार अपराह्न 12 बजकर 7 मिनट पर अंतिम सांस ली। उन्हें नौ अगस्त को एम्स में भर्ती कराया गया था। इससे पहले रविवार सुबह अरुण जेटली के पार्थिव शरीर को कैलाश कॉलोनी स्थित उनके आवास से जनता दर्शन के लिए भाजपा मुख्यालय में लाया गया। जेटली का पार्थिव शरीर को ले जा रहे फूलों से लदे सैन्य वाहन के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कई नेता भी काफिले में आए।

LIVE UPDATES :  

- दिल्ली में बारिश के बीच निगमबोध घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अरुण जेटली का अंतिम संस्कार किया गया। बेटे रोहन ने जेटली को मुखाग्नि दी।

- उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह निगमबोध घाट पहुंचे।

- निगमबोध घाट पंहुचा अरुण जेटली का पार्थिव शरीर। 

- निगम बोध घाट की ओर से जाने वाली सड़कों पर जेटली को याद करने वाले पोस्टर लगे हुए हैं। 

- पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली के पार्थिव शरीर को पार्टी मुख्यालय से अब निगमबोध घाट ले जाया जा रहा है। निगमबोध घाट पर 2.30 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

- जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने अरुण जेटली को भाजपा मुख्यालय में अंतिम सम्मान दिया।

- केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, पीयूष गोयल और झारखंड के सीएम रघुबर दास ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली को भाजपा मुख्यालय में अंतिम सम्मान दिया।

- रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जेटली को श्रद्धांजलि अर्पित की।

- अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली को पार्टी मुख्यालय में श्रद्धांजलि दी।

- गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, बीजेपी नेता बीएल संतोष, राज्यवर्धन राठौर, विजय गोयल, राम माधव, मुरलीधर राव, और अनिल जैन भाजपा मुख्यालय पहुंचे।

- भाजपा मुख्यालय के बाहर पार्टी कार्यकर्ता और शोकाकुल लोग अंतिम दर्शनों के लिए कतार में खड़े हैं और 'जब तक सूरज चांद रहेगा जेटली तेरा नाम रहेगा' तथा 'जेटली जी अमर रहें' जैसे नारे लगा रहे हैं। 

- पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता अरुण जेटली का पार्थिव शरीर पार्टी मुख्यालय में लाया गया। 

- माजिद मेनन ने ट्वीट कर कहा, "जेटली उन बहुत कम नेताओं में से थे, जिनकी हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं पर बराबर की पकड़ थी। वास्तव में वह भाजपा के लिए एक अमूल्य संपत्ति थे। शून्य को भरना मुश्किल है।"

- जेटली के पार्थिव शरीर को ले जाने वाले काफिले के साथ कई भाजपा नेता और परिवार के सदस्य भी मुख्यालय पहुंचे। 

- भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त, सर डोमिनिक अस्किथ ने कहा कि अरुण जेटली ऐसी शख्सियत थे जिसे ब्रिटेन के कई लोग अच्छी तरह से जानते थे, उनके साथ अच्छी तरह से काम करते थे, उन्हें अपने ज्ञान, सौम्यता और हास्य के लिए महत्व देते थे। उन्हें याद किया जाएगा। 

- पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता अरुण जेटली का पार्थिव शरीर भाजपा मुख्यालय में ले जाया जा रहा है। 

- कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोहरा, राकांपा नेता शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल, रालोद नेता अजीत सिंह और आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और तेदेपा नेता एन चंद्रबाबू नायडू पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली के आवास पर उनके अंतिम सम्मान के लिए पहुंचे। 

बता दें कि शनिवार को जेटली का पार्थिव शरीर उनके आवास पर रखा गया था जहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और विभिन्न दलों के नेता उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे। शाह ने शनिवार को कहा कि जेटली भ्रष्टाचार के खिलाफ एक योद्धा थे और जनता के लिए जनधन योजना लाने, नोटबंदी एवं जीएसटी के सफल क्रियान्वयन का श्रेय उन्हें जाता है। 

भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए मुख्य संकटमोचक थे अरुण जेटली