BREAKING NEWS

अयोध्या के विवादित ढांचा को ढहाए जाने के मामले में कल्याण सिह को समन जारी◾‘Howdy Modi’ के लिए ह्यूस्टन तैयार, 50 हजार टिकट बिके ◾‘Howdy Modi’ कार्यक्रम के लिए PM मोदी पहुंचे ह्यूस्टन◾प्रधानमंत्री का ह्यूस्टन दौरा : भारत, अमेरिका ऊर्जा सहयोग बढ़ाएंगे ◾क्या किसी प्रधानमंत्री को ऐसे बोलना चाहिए : पाक को लेकर मोदी के बयान पर पवार ने पूछा◾कश्मीर पर भारत की निंदा करने के लिये पाकिस्तान सबसे ‘अयोग्य’ : थरूर◾राजीव कुमार की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज ◾AAP ने अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने में देरी पर ‘धोखा दिवस’ मनाया ◾ शिवसेना, भाजपा को महाराष्ट्र चुनावों में 220 से ज्यादा सीटें जीतने का भरोसा◾आधारहीन है रिहाई के लिए मीरवाइज द्वारा बॉन्ड पर दस्तखत करने की रिपोर्ट : हुर्रियत ◾TOP 20 NEWS 21 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामदास अठावले ने किया दावा - गठबंधन महाराष्ट्र में 240-250 सीटें जीतेगा ◾कृषि मंत्रालय से मिले आश्वासन के बाद किसानों ने खत्म किया आंदोलन ◾फडणवीस बोले- भाजपा और शिवसेना साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव, मैं दोबारा मुख्यमंत्री बनूंगा◾चुनावों में जनता के मुद्दे उठाएंगे, लोग भाजपा को सत्ता से बाहर करने को तैयार : कांग्रेस◾चुनाव आयोग का ऐलान, महाराष्ट्र-हरियाणा के साथ इन राज्यों की 64 सीटों पर भी होंगे उपचुनाव◾महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को होगी वोटिंग, 24 को आएंगे नतीजे◾ISRO प्रमुख सिवन ने कहा - चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर अच्छे से कर रहा है काम◾विमान में तकनीकी खामी के चलते जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में रुके PM मोदी, राजदूत मुक्ता तोमर ने की अगवानी◾जम्मू-कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन◾

देश

निगमबोध घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अरुण जेटली का अंतिम संस्कार किया गया

पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का आज दिल्ली के निगमबोध घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। इस मौके पर गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई बड़े नेता निगमबोध घाट पर मौजूद रहे।  

बता दें कि लंबे समय से बीमार चल रहे अरुण जेटली (66) का शनिवार को एम्स में निधन हो गया था। जेटली ने शनिवार अपराह्न 12 बजकर 7 मिनट पर अंतिम सांस ली। उन्हें नौ अगस्त को एम्स में भर्ती कराया गया था। इससे पहले रविवार सुबह अरुण जेटली के पार्थिव शरीर को कैलाश कॉलोनी स्थित उनके आवास से जनता दर्शन के लिए भाजपा मुख्यालय में लाया गया। जेटली का पार्थिव शरीर को ले जा रहे फूलों से लदे सैन्य वाहन के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कई नेता भी काफिले में आए।

LIVE UPDATES :  

- दिल्ली में बारिश के बीच निगमबोध घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अरुण जेटली का अंतिम संस्कार किया गया। बेटे रोहन ने जेटली को मुखाग्नि दी।

- उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह निगमबोध घाट पहुंचे।

- निगमबोध घाट पंहुचा अरुण जेटली का पार्थिव शरीर। 

- निगम बोध घाट की ओर से जाने वाली सड़कों पर जेटली को याद करने वाले पोस्टर लगे हुए हैं। 

- पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली के पार्थिव शरीर को पार्टी मुख्यालय से अब निगमबोध घाट ले जाया जा रहा है। निगमबोध घाट पर 2.30 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

- जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने अरुण जेटली को भाजपा मुख्यालय में अंतिम सम्मान दिया।

- केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, पीयूष गोयल और झारखंड के सीएम रघुबर दास ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली को भाजपा मुख्यालय में अंतिम सम्मान दिया।

- रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जेटली को श्रद्धांजलि अर्पित की।

- अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली को पार्टी मुख्यालय में श्रद्धांजलि दी।

- गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, बीजेपी नेता बीएल संतोष, राज्यवर्धन राठौर, विजय गोयल, राम माधव, मुरलीधर राव, और अनिल जैन भाजपा मुख्यालय पहुंचे।

- भाजपा मुख्यालय के बाहर पार्टी कार्यकर्ता और शोकाकुल लोग अंतिम दर्शनों के लिए कतार में खड़े हैं और 'जब तक सूरज चांद रहेगा जेटली तेरा नाम रहेगा' तथा 'जेटली जी अमर रहें' जैसे नारे लगा रहे हैं। 

- पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता अरुण जेटली का पार्थिव शरीर पार्टी मुख्यालय में लाया गया। 

- माजिद मेनन ने ट्वीट कर कहा, "जेटली उन बहुत कम नेताओं में से थे, जिनकी हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं पर बराबर की पकड़ थी। वास्तव में वह भाजपा के लिए एक अमूल्य संपत्ति थे। शून्य को भरना मुश्किल है।"

- जेटली के पार्थिव शरीर को ले जाने वाले काफिले के साथ कई भाजपा नेता और परिवार के सदस्य भी मुख्यालय पहुंचे। 

- भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त, सर डोमिनिक अस्किथ ने कहा कि अरुण जेटली ऐसी शख्सियत थे जिसे ब्रिटेन के कई लोग अच्छी तरह से जानते थे, उनके साथ अच्छी तरह से काम करते थे, उन्हें अपने ज्ञान, सौम्यता और हास्य के लिए महत्व देते थे। उन्हें याद किया जाएगा। 

- पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता अरुण जेटली का पार्थिव शरीर भाजपा मुख्यालय में ले जाया जा रहा है। 

- कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोहरा, राकांपा नेता शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल, रालोद नेता अजीत सिंह और आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और तेदेपा नेता एन चंद्रबाबू नायडू पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता अरुण जेटली के आवास पर उनके अंतिम सम्मान के लिए पहुंचे। 

बता दें कि शनिवार को जेटली का पार्थिव शरीर उनके आवास पर रखा गया था जहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और विभिन्न दलों के नेता उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंचे। शाह ने शनिवार को कहा कि जेटली भ्रष्टाचार के खिलाफ एक योद्धा थे और जनता के लिए जनधन योजना लाने, नोटबंदी एवं जीएसटी के सफल क्रियान्वयन का श्रेय उन्हें जाता है। 

भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए मुख्य संकटमोचक थे अरुण जेटली