BREAKING NEWS

योगी सरकार ने की प्रियंका की ‘गैरकानूनी गिरफ्तारी’, राज्य सरकार में अपराधियों को संरक्षण : कांग्रेस ◾जारी रहेगी MS Dhoni की धूम, मैनेजर बोले - माही की अभी संन्यास लेने की कोई योजना नहीं◾कर्नाटक : विधानसभा विश्वास प्रस्ताव पर मतदान के बिना सोमवार तक स्थगित ◾रॉबर्ट वाड्रा ने BJP सरकार की आलोचना की ,कहा - लोकतंत्र को तानाशाही में न बदलें◾सोनभद्र गोलीकांड : प्रियंका गांधी हिरासत में, कई जगह कांग्रेस का प्रदर्शन ◾किसी विधायक ने मुझसे सुरक्षा नहीं मांगी है : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष◾कर्नाटक में जारी सत्ता का संघर्ष एक बार फिर शीर्ष अदालत की चौखट पर◾Sensex में साल की दूसरी बड़ी गिरावट, निवेशकों ने दो दिन में गंवाये 3.79 लाख करोड़ रुपये ◾ कुमारस्वामी ने स्पीकर से फ्लोर टेस्ट की डेट सोमवार तक बढ़ाने की अपील की , भाजपा बोली- हम तैयार नहीं◾Top 20 News 19 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾चुनाव याचिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नोटिस जारी ◾BJP विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए आतुर है, क्योंकि वह विधायकों को खरीद चुकी : सिद्धारमैया ◾सोनभद्र में पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को रोका, धरने पर बैठीं◾प्रियंका की गैरकानूनी गिरफ्तारी भाजपा सरकार की बढ़ती असुरक्षा का संकेत: राहुल गांधी ◾सरकार बचाने के लिए सत्ता का नहीं करूंगा दुरुपयोग : कुमारस्वामी◾कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष बोले- विश्वास मत पर मतदान में देरी नहीं कर रहा हूं◾सोनभद्र मामले में 3 सदस्यीय समिति का गठन, 10 दिनों के अंदर सौंपेगी रिपोर्ट : योगी ◾कुमारस्वामी शुक्रवार को देंगे अपना विदाई भाषण : येदियुरप्पा◾कर्नाटक : विश्वास मत पर रोक के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे कुमारस्वामी◾बिहार : छपरा में मवेशी चोरी के आरोप में भीड़ ने की युवकों की पिटाई, 3 की मौत◾

देश

असदुद्दीन ओवैसी को भारतीय सेना का जवाब , कहा- शहीद का नहीं होता कोई धर्म

एक तरफ देश की रक्षा के लिए जवान सीमा पर शहीद हो रहे हैं, दूसरी तरफ उनकी शहादत पर सियासत हो रही है। हालांकि ऐसा करने वालों को सेना ने करारा जवाब दिया है। स्‍पष्‍ट रूप से कहा है कि शहीदों को धर्म के चश्‍मे से ना देखा जाए, क्‍योंकि उनका कोई धर्म नहीं होता है।

गौरतलब है कि एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने सुंजवां आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्‍होंने कहा था कि शहीद हुए सात जवानों में से पांच मुस्लिम थे।

आपको बता दे कि ओवैसी ने कहा कि सुंजवान की घटना में पांच कश्मीरी मुसलमानों ने अपना बलिदान दिया है। आप इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं?’’ हैदराबाद से लोकसभा सदस्य ओवैसी ने आतंकी हमलों से ‘सबक नहीं सीखने’ को लेकर केंद्र सरकार की आलोचना भी की। ओवैसी ने कहा, ‘‘रात नौ बजे प्राइम टाइम बहस में शामिल होने वाले तथाकथित राष्ट्रवादी लोग मुसलमानों और कश्मीरी मुसलमानों के राष्ट्रवाद पर सवाल करते हैं।

कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अनबू ने कहा कि आतंकवाद के लिए सोशल मीडिया भी जिम्मेदार है क्‍योंकि बड़े पैमाने में युवा इसमें फंस रहे हैं। हमें इस पर ध्‍यान देना होगा। उन्‍होंने कहा कि तीनों आतंकी संगठन हिजबुल, जैश और लश्‍कर में कोई अंतर नहीं है। वह एक-दूसरे संगठन में आते जाते रहते हैं। उन्‍होंने कहा कि अगर कोई भी देख के खिलाफ हथियार उठाएगा तो वह एक आतंकवादी है और सेना उससे बखूबी निपटेगी।

उन्‍होंने कहा कि हमारा दुश्‍मन निराश है इसलिए वह आसान निशाना बना रहा है। जब वह सीमा पर विफल होते हैं तो सेना के कैंप को निशाना बनाते हैं। युवा आतंकी संगठन में शामिल हो रहे हैं यह चिंता का विषय है और हमें इस पर ध्‍यान देने की जरूरत है। 2017 में हमें इनके नेतृत्‍व पर ध्‍यान केंद्रित किया था और उन्‍हें खत्‍म किया था।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।