BREAKING NEWS

DRDO की कोविड-19 रोधी दवा सोमवार को होगी लॉन्च◾चक्रवात तौकते को लेकर अमित शाह ने की गोवा के मुख्यमंत्री से बात◾भाजपा नेता सांप्रदायिक बम फोड़ने का कर रहे हैं प्रयास : अमरिंदर सिंह◾अधीर रंजन चौधरी ने PM मोदी को लिखी चिट्ठी, लॉकडाउन वाले राज्यों में गरीबों को हर महीने 6000 रुपये देने की अपील की ◾महाराष्ट्र में संक्रमण से 974 मरीजों ने तोडा दम, 34 हजार नए मामले की पुष्टि ◾गुजरात में चक्रवात तौकते का खतरा बरकरार, डेढ़ लाख लोगों को निचले तटीय क्षेत्रों में किया गया स्थानांतरित◾कोविशील्ड वैक्सीन की दूसरी खुराक के लिए पहले से लिया गया अप्वाइंटमेंट रहेगा वैध : केंद्र ◾CM केजरीवाल बोले- केंद्र एवं वैक्सीन निर्माताओं को लिखा पत्र, लेकिन दिल्ली को अभी टीका मिलने की कोई उम्मीद नहीं◾दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर में आई गिरावट, 24 घंटे में 6456 नए केस और 262 की मौत◾देश में कोविड के 36,18,458 इलाजरत मरीज, संक्रमण दर 16.98 फीसदी: केंद्र सरकार◾केंद्र सरकार ने ग्रामीण एवं शहरों से सटे इलाकों में कोविड प्रबंधन पर जारी किए नए दिशा-निर्देश ◾हरियाणा में लॉकडाउन 24 मई तक बढ़ा, गृह मंत्री अनिल विज ने ट्वीट कर दी जानकारी◾राहुल का केंद्र पर वार- बच्चों की वैक्सीन क्यों भेज दी विदेश, अब मुझे भी करो गिरफ्तार ◾चक्रवाती तूफान के तेज होने की संभावना, कल शाम गुजरात के तट से टकराएगा तौकते, भारी बारिश की चेतावनी◾PM मोदी ने UP सहित चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात, कोविड प्रबंधन पर हुई चर्चा◾दिल्ली में एक हफ्ते के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन, अब 24 मई सुबह 5 बजे तक रहेंगी पाबंदियां◾चक्रवाती तूफान ''तौकते'' गोवा के तटीय क्षेत्र से टकराया, शाह ने की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक ◾कोरोना को मात देने के लिए अब बनेगी स्पूतनिक v की सिंगल-डोज वैक्सीन, भारत में जल्द आएगा टीके का लाइट वर्जन◾हैदराबाद पहुंचा रुसी वैक्सीन SPUTNIK V का दूसरा जत्था, कोरोना महामारी के नए वेरिएंट पर भी प्रभावी◾देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में गिरावट, पिछले 24 घंटे में 3.11 लाख केस, 4077 मरीजों ने तोड़ा दम◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

चमोली ग्लेशियर दुर्घटना के असली कारणों को जानने के लिए कई अध्ययन जारी: प्रकाश जावड़ेकर

उत्तराखंड के चमोली जिले में हुई ग्लेशियर टूटने की दुर्घटना के असली कारणों को जानने के लिए कई तरह के अध्ययन किए जा रहे हैं। केन्द्रीय वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को राज्य सभा में इसकी जानकारी देते हुए कहा कि यह हादसा ग्लेशियर स्खलन के कारण काफी मलबा और पानी आ जाने से हुई थी। लेकिन फिर भी इसके कारणों को और तफ्सील से जानने के लिए कार्य जारी है।

जावडेकर ने प्रश्न काल के दौरान समाजवादी पार्टी के रेवती रमण सिंह के पूरक प्रश्न के उत्तर में कहा कि चमोली दुर्घटना ग्लेशियर स्खलन के कारण मलबा और पानी आ जाने के कारण हुई है लेकिन इसके और कारणों का पता लगाने के लिए कई कोणों से जानकारियां एकत्र की जा रही हैं और व्यापक अध्ययन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अपर गंगा क्षेत्र में पहले से मंजूर जल विद्युत परियोजनाओं के अलावा अब ऐसी किसी अन्य परियोजना को इस क्षेत्र में स्वीकृति नहीं दी जा रही है। उन्होंने कहा कि हिमालय पर्वत श्रंखला में जहां पर्वत तोड़ने के लिए डायनामाइट का उपयोग किया जाता है वहां पर्यावरण संरक्षण के लिए बड़ संख्या में पेड़ लगाये जाते हैं। 

जावडेकर ने कहा कि जलवायु परिवर्तन होने के कई कारण हैं और इस दिशा में सरकार समुचित कदम उठा रही है।उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए सरकार के साथ ही निजी क्षेत्र भी पूरा सहयोग कर रहे हैं। कुछ दिनों पूर्व कई बड़ निजी कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के साथ उनकी बातचीत हुई जिसमें उन्हें बताया गया कि कार्पोरेट सेक्टर कार्बन उत्सर्जन कम करने के साथ-साथ नवीकरणीय ऊर्जा के इस्तेमाल को बढ़वा दे रहे हैं। कार्पोरेट घराने बिजली और पानी की बचत पर भी काफी ध्यान दे रहे हैं।

उन्होंने कांग्रेस के जयराम रमेश के प्रश्न के उत्तर में कहा कि 2030 तक नवीकरणीय ऊर्जा के 30 प्रतिशत तक के लक्ष्य से काफी अधिक ऊर्जा का उपयोग होने लगेगा। उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन के संबंध में पेरिस समझौते के तहत देश में अच्छे कदम उठाये जा रहे हैं और इस मामले में राष्ट्र अग्रणी रहेगा।