BREAKING NEWS

मणिपुर में आज बीरेन सिंह सरकार का बहुमत परीक्षण, कांग्रेस-BJP ने विधायकों को जारी किया व्हिप◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटे में एक हजार से अधिक लोगों की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 22 लाख के पार ◾देश में संसाधनों की लूट को रोकने के लिए EIA 2020 का मसौदा वापस ले सरकार : राहुल गांधी◾World Corona : विश्व में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 97 लाख के पार, 7 लाख 29 हजार की मौत ◾जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के हमले में घायल भाजपा नेता ने इलाज के दौरान तोड़ा दम◾राजनाथ सिंह आज से ‘आत्मनिर्भर भारत सप्ताह’ की करेंगे शुरुआत, रक्षा मंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर दी जानकारी ◾विधायकों की एकता के कारण भाजपा को बाड़बंदी करनी पड़ी, अब एकता की झलक विधानसभा में दिखानी है : गहलोत ◾आंध्र प्रदेश में 24 घंटे में कोरोना के 10820 नए केस, 97 लोगों की मौत ◾राहुल गांधी ने नए ईआईए 2020 मसौदे के खिलाफ लोगों से प्रदर्शन करने की अपील की◾राम के बाद बुद्ध पर विवाद, विदेश मंत्री के बयान पर नेपाल ने जताई आपत्ति◾अध्यक्ष के चुनाव की ‘उचित प्रक्रिया’ का पालन होने तक सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी◾केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा- कृषि अवसंरचना कोष से किसानों को मिलेगा फायदा, रोजगार पैदा होंगे◾कोरोना जांच की क्षमता बढ़ाते हुए एक दिन में रिकॉर्ड 7 लाख जांच की गईं: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ◾कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामुलु कोरोना पॉजिटिव पाए गए ◾दिल्ली में कोरोना के 1300 नए मामलें की पुष्टि, संक्रमितों की संख्या 1.45 लाख से अधिक◾उत्तर प्रदेश में कोरोना का कोहराम जारी, बीते 24 घंटे में 4,687 नए केस, 45 की मौत ◾BJP कार्यकर्ताओं से बोले PM मोदी-नए भारत के निर्माण के लिए पूरे देश का संतुलित विकास आवश्यक◾CM गहलोत बोले-BJP में गुटबाजी चरम पर पहुंची, विधायकों को बचाने के लिए की जा रही है बाड़बंदी◾राहुल का पीएम मोदी पर तंज- 2 करोड़ नौकरी का वादा कर सत्ता में आए और अब 14 करोड़ हो गए बेरोजगार◾रक्षा उपकरणों के आयात पर प्रतिबंध को लेकर चिदंबरम का तंज- घोषणा सिर्फ एक 'शब्दजाल'◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

SC में अयोध्या मामले की सुनवाई, हिंदू पक्ष के वकील ने रामलला को बताया नाबालिग

अयोध्या भूमि केस में आज नौवें दिन सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चली जिसमे दोनों पक्षों ने अपनी-अपनी दलीलें रखी। 6 अगस्त से उच्चतम अदालत इस मामले की रोजाना सुनवाई कर रही है। बीते दिन मंगलवार की सुनवाई खत्म होने तक यह कहा गया था कि शिला पर मौजूद मगरमच्छ और कछुए के तस्वीरें जो है उनका इस्लाम धर्म से किसी भी प्रकार से कोई ताल्लुकात नहीं है। 

आज सुनवाई के दौरान एक और दिलचस्प दलील रखी गई जिसमें रामलला को नाबालिग बताया गया। सीएस वैद्यनाथन ने  आगे कहा कि रामलला क्योंकि बालिग नहीं है इसीलिए उनकी प्रॉपर्टी को न तो कोई बेच सकता है और न ही कोई खरीद सकता है। 

वही, रामलला विराजमान पक्ष के वकील सीएस वैद्यनाथन ने कहा कि विवादित भूमि पर मंदिर रहा हो या न रहा हो, मूर्ति हो या न हो लोगों की मान्यता होनी काफी है कि वही रामजन्म स्थान है। यह सब पुष्टि करने के लिए काफी है। 

इसके अलावा अदालत में रामलला के वकील ने कहा कि राममंदिर में विराजित रामलला कानूनी रूप से नाबालिग का दर्जा रखते हैं.कोई भी पक्ष किसी नाबालिक की सम्पति को लेकर कोई भी निर्णय नहीं कर सकता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि 1949 में विवादस्पद जगह पर से रामलला की मूर्ति मिलने के बाद दूसरा पक्ष ने 12  तक कोई भी सवाल नहीं उठाया और चुपचाप बैठा रहा। 


उन्होंने किसी भी प्रकार की कोई क़ानूनी आपत्ति नहीं जताई साथ ही न कोई किसी भी तरह का अपना दावा ठोका। इसी आधार पर अदालत जन्मस्थान को लेकर हज़ारों वर्षो से चली आ रही आस्था को समझे और पक्ष को महत्व मिले। 

आपको बता दें कि विवादित स्थान को लेकर इस मसले की सुनवाई चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की प्रमुखता में पांच जजों की संवैधानिक पीठ के अधीन की जा रही है।