BREAKING NEWS

SC की टिप्पणी पर बोले राकेश टिकैत-हम झगड़ा नहीं, गण का उत्सव मनाएंगे◾ट्रैक्टर रैली पर बोला SC- दिल्ली में किसे एंट्री देनी है, यह तय करना पुलिस का काम, बुधवार को अगली सुनवाई◾गुजरात को PM मोदी का एक और तोहफा, अहमदाबाद-सूरत मेट्रो प्रोजेक्ट का किया शिलान्यास◾कृषि कानून को लेकर 55वें दिन प्रदर्शन जारी, आंदोलन तेज करते हुए अन्नदाता आज मनाएंगे 'महिला किसान दिवस' ◾सूट-बूट वाले दोस्तों का कर्ज माफ करने वाली मोदी सरकार अन्नदाताओं की पूंजी साफ करने में लगी है : राहुल गांधी ◾देश में पिछले 24 घंटे में 13788 नए कोरोना मामलों की पुष्टि, 145 लोगों ने गंवाई जान ◾दुनियाभर में कोरोना का कहर बरकरार, मरीजों का आंकड़ा 9.5 करोड़ तक पहुंचा ◾पीएम मोदी आज अहमदाबाद मेट्रो के दूसरे चरण और सूरत मेट्रो रेल परियोजना का करेंगे भूमि पूजन ◾कृषि कानूनों और किसान प्रदर्शनों संबंधी याचिकाओं पर SC आज करेगा सुनवाई ◾आज का राशिफल (18 जनवरी 2021)◾पाकिस्तानी सेना ने पुंछ में LoC पर की गोलाबारी, भारतीय सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब !◾कोविड-19 : देश में दो दिन में 2.24 लाख लोगों को लगाया गया टीका, प्रतिकूल प्रभाव के 447 मामले आए सामने ◾शाह ने लोगों से अपील की - कोरोना टीकाकरण के खिलाफ अफवाहों पर ध्यान ना दें◾तांडव विवाद : सूचना एंव प्रसारण मंत्रालय ने अमेजन प्राइम वीडियो से मांगा स्पष्टीकरण ◾सिंघु बॉर्डर : 'किसान गणतंत्र दिवस परेड' में दिखेगी कई राज्यों की कृषि-दशा◾कोरोना के खिलाफ जंग में भारत का कड़ा प्रहार, 224301 लाभार्थियों को कोविड-19 का टीका लगाया गया : स्वास्थ्य मंत्रालय◾ममता के गढ़ में शिवसेना भी कूदी, संजय राउत ने कहा- हम जल्द ही कोलकाता पहुंच रहे हैं ◾अखिलेश ने योगी सरकार पर साधा निशाना, कहा- राज्य की स्वास्थ्य सेवाओं को आईसीयू में भर्ती कर दिया ◾मोदी सरकार ने पाकिस्तान के भीतर दो बार ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की, आतंकवादियों का किया खात्मा : शाह◾औरंगाबाद शहर का नाम बदलने को लेकर शिवसेना और कांग्रेस में हुई तीखी बहस◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

वर्षों की मुराद होगी पूरी बाबा सिद्धेश्वर का होगा सिंध के जल से अभिषेक

शिवपुरी : विगत 20 वर्षों से पानी की त्राहि-त्राहि झेल रही सिंधिया रियासत की ग्रीष्मकालीन राजधानी रही शिवपुरी की मुराद पूरी होने जा रही है और इस क्षेत्र की जीवनदायनी सिंध नदी के जल से नगर देवता सिद्धेश्वर नाथ का जलाभिषेक विधिवत पूजा अर्चना के साथ कैबिनेट मंत्री और शिवपुरी की विधायक यशोधरा राजे सिंधिया के द्वारा संपन्न किया जाएगा। इस हेतु नगर में जबर्दस्त तैयारी के साथ भव्य धार्र्मिक आयोजन किया जा रहा है। जिसकी समस्त तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है।

कार्यक्रम को लेकर नगरवासियों में भारी उत्साह का माहौल बना हुआ है क्योंकि इस नगर की सबसे भीषण समस्या से उन्हें राहत मिलने जा रही है।ज्ञात रहे कि शिवपुरी नगर वासी विगत 20 वर्षो सने-सने जल संकट से त्रस्त थे और सन् 2005 के बाद यह संकट बहुत तेजी से गहरा गया। बची खुची कसर अल्प वर्षा और पानी के अव्यय ने पूरी कर दी और कभी जल से सराबोर रहने वाला ये शहर भारी जल संकट से त्रस्त हो गया। आलम यह हो गया कि पानी की कमी के चलते आम आदमी दिन रात रतजगा करता था और कट्टी लेकर पानी की तलाश में भटकता था। सबसे ज्यादा संकट मजदूर वर्ग का था जो दिन में मजदूरी करते थे और रात में पानी के लिए मारामारी लगे रहते थे।

कई बार ये तक हुआ है कि पानी भरने को लेकर मारपीट और खून खराबा भी आपस में हुआ जिसकी रिर्पोटें थाने में भी दर्ज हैं। सबसे ज्यादा परेशानी किशोरी और युवतियों को आती थी। जो रात्रि में पानी के कारण अश्लील फब्तियां और असुरक्षा की शिकार होती थीं। कहने का लब्बो लुभाव यह है कि पानी के कारण इस शहर की व्यवस्था अस्त व्यस्त हो गई थी और बची खुची कसर पीएचई से जल प्रदाय व्यवस्था नगर पालिका को देकर ध्वस्त कर दी गई। इस पानी की कमी को लेकर सिंध जलावर्धन योजना बनाई गई थी जिसके द्वारा अटल सागर से इंटैक बैल बनाकर सतनवाड़ा होते हुए शिवपुरी सिंध का जल लाया जाना तय हुआ था और इसकी स्वीकृति कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के विशेष प्रयासों से हुई और ये प्रदेश की पहली योजना थी जो पीपीपी मोड पर थी। इसमें शासन के साथ निर्माण कंपनी का पैसा लगना था जो जल उपभोक्ताओं से बसूल किया जाना था। इस कार्य शुरू होने के बाद से ही यह योजना हिचकोले खाती रही और प्रशासनिक, फोरेस्ट, निर्माण एजेंसी के अडंगों के चलते यह समय से पूरी नहीं हो पाई।

इसके कारण शहर में तमाम आंदोलन हुए और इसके माध्यम से राजनीति भी जबर्दस्त तरीके से शुरू हो गई। क्षेत्रीय विधायक और कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने हाड़तोड़ मेहनत के बाद मात्र 6 माह में इस योजना को परवान चढ़ाया और सिंध के जल का नगर आगमन करके ही दम लिया। तत्समय यह तय किया गया था कि इस जल के नगर में पहुंचते ही नगर के देवता बाबा सिद्धेश्वर नाथ के शिवलिंग का सिंध के जल से जलाभिषेक कराने के उपरांत ही इस जल को नगर वासियों को प्रदाय किया जाएगा।

22 दिसम्बर शुक्रवार को सिद्धेश्वर सेवा समिति द्वारा सिंध जलाभिषेक यात्रा ग्वालियर वायपास से प्रारंभ होकर सदर बाजार होते हुए नगर देवता सिद्धेश्वर महादेव मंदिर पर भगवान शिव का अभिषेक किया जाएगा और इसके लिए कैबिनेट मंत्री तथा स्थानीय विधायक यशोधरा राजे सिंधिया शिवपुरी आ रही हैं। यशोधरा राजे सिंधिया बायपास से सिंध का जल भरकर नगर के प्रमुख मार्गों से गुजरेंगी और उनके साथ-साथ कलश लेकर महिलाएं भी रहेंगी। इसके बाद सिद्धेश्वर महादेव मंदिर पर भगवान शिव का अभिषेक किया जाएगा।

स्थान-स्थान पर सिंध के आगमन का स्वागत होगा। बताना मुनाशिव होगा कि इस नगर के विकास की जीवन धारा सिंध जलावर्धन योजना सिर्फ और सिर्फ यशोधरा राजे सिंधिया सार्थक प्रयासों का परिणाम है जिसमें निवर्तमान कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव और वर्तमान कलेक्टर तरूण राठी का सहयोग रहा है। अब इस जल के आने के बाद न केवल इस नगर की आम जनता के सूखे कंठ तर होगें बल्कि कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया का सिंध का जल लाने का वचन भी पूरा होगा।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।