BREAKING NEWS

पीएम मोदी के दो दिवसीय गुजरात दौरे की हुई शुरुआत, पांच लाख पौधे वाले आरोग्य वन का किया लोकार्पण ◾बिहार : दूसरे चरण के चुनाव में आरजेडी,जेडीयू के सामने बड़ी चुनौती, सिवान में कांटे की टक्कर ◾राष्ट्रपति, पीएम सहित कांग्रेस नेताओं ने 'मिलाद-उन-नबी' के मौके पर देशवासियों को दी बधाई◾चीन द्वारा पूर्वी लद्दाख में दोबारा जमीन कब्जाने वाली रिपोर्ट को भारतीय सेना ने फर्जी करार दिया ◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾प्रधानमंत्री मोदी ने जम्मू-कश्मीर में 'टीआरएफ' द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की निंदा की◾IPL -13 : राजस्थान रॉयल्स की जीत होगी बेहद जरूरी हार के साथ हो सकती है प्लेऑफ की दौड़ से बाहर ◾PM मोदी ने पूर्व CM केशुभाई को दी श्रद्धांजलि, महेश और नरेश कनोडिया के परिजनों से की मुलाकात◾जम्मू और कश्मीर : BJP नेताओं के घर पसरा मातम, नड्डा बोले-व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान◾मुंगेर घटना को संजय राउत ने बताया हिंदुत्व पर हमला, BJP की चुप्पी पर उठाया सवाल ◾LAC तनाव के बीच चीन की तैयारी, कड़ाके की ठंड से निपटने के लिए अपने सैनिकों को दिए हाई-टेक उपकरण ◾नीस आतंकी हमले पर मलेशिया के पूर्व PM की विवादित टिप्पणी, ‘मुस्लिमों को फ्रांस के लोगों की हत्या करने का हक’◾TOP 5 NEWS 30 OCTOBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾देश में कोरोना मामले 81 लाख के करीब, एक्टिव केस छह लाख से कम◾बिहार चुनाव में CM नीतीश का आरक्षण पर बड़ा दांव, आबादी के हिसाब से मिले लोगों को रिजर्वेशन ◾दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप तेज, वैश्विक स्तर पर संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े 4 करोड़ के करीब ◾आज का राशिफल ( 30 अक्टूबर 2020 )◾आतंकवाद के खिलाफ जंग में भारत फ्रांस के साथ : PM मोदी◾PM मोदी आज से दो दिन के गुजरात दौरे पर, देश की पहली सी-प्लेन सेवा का करेंगे उद्घाटन◾CSK vs KKR ( IPL 2020 ) : रुतुराज और जडेजा ने चेन्नई सुपरकिंग्स को दिलाई जीत, मुंबई प्ले आफ में◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

‘अवमानना कार्रवाई’ की चेतावनी मामले में न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा के समर्थन में उतरा बार काउन्सिल

नयी दिल्ली : बार काउन्सिल ऑफ इंडिया (बीसीआई) न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा के समर्थन में आ गया है, जिन्होंने हाल में एक मामले की सुनवाई के दौरान एक वरिष्ठ अधिवक्ता को ‘अवमानना की कार्रवाई’ की चेतावनी देने के लिये गुरुवार को माफी मांगी। बीसीआई ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन (एससीबीए) को सार्वजनिक रूप से मुद्दा बनाने की जगह न्यायाधीश से उनके चैंबर में मुलाकात करके अपनी राय जाहिर करनी चाहिये थी।

बार काउन्सिल ऑफ इंडिया ने सुप्रीम कोर्ट एडवोकेट-ऑन-रिकॉर्ड एसोसिएशन (एससीएओआरए) और एससीबीए की कार्यकारी समिति की प्रतिक्रिया की आलोचना की, जिसने न्यायाधीश से अनुरोध किया था कि वह वकीलों के साथ व्यवहार करने में थोड़ा और संयम बरतें। बीसीआई अध्यक्ष मनन कुमार मिश्रा ने कहा, ‘‘संस्था का सम्मान करना हमारा परम कर्तव्य है। इस तरह के मुद्दों का समाधान करने के कई अच्छे तरीके हैं। सार्वजनिक रूप से राय जाहिर करने और इसे मुद्दा बनाने की जगह एससीबीए के जिम्मेदार पदाधिकारी न्यायाधीश से उनके चैंबर में मिलकर अपनी राय जाहिर कर सकते थे।’’

मिश्रा ने कहा, ‘‘प्रधान न्यायाधीश से हस्तक्षेप करने का भी अनुरोध किया जा सकता था।’’ भूमि अधिग्रहण मामले में सुनवाई के दौरान वरिष्ठ अधिवक्ता गोपाल शंकरनारायणन को अवमानना की कार्रवाई की चेतावनी देने के दो दिन बाद न्यायमूर्ति मिश्रा ने गुरुवार को कहा कि अगर उनकी बातों से कोई भी आहत हुआ है तो वह ‘सौ बार हाथ जोड़कर’ माफी मांगेंगे।