BREAKING NEWS

मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा: भाजपा को अपनी जीत पर भरोसा, चुनावी टिकट के लिए प्रतिस्पर्धा स्वाभाविक◾हरजिंदर सिंह धामी ने कहा- वीर बाल दिवस के बजाय साहिबजादे शहादत दिवस मनाए भारत सरकार◾Coimbatore Blast Case: तमिलनाडु में मंदिर के बाहर कार बम विस्फोट मामले में 3 गिरफ्तार, जांच जारी ◾Draupadi Murmu: द्रोपदी मुर्मू ने कहा- नागरिकों के कल्याण पर विशेष ध्यान दें अधिकारी◾Border dispute: फडणवीस ने महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद पर गृह मंत्री अमित शाह को दी जानकारी◾लव जिहाद फिर बना चर्चा का केंद्र; कांग्रेस ने बताया फर्जी, नरोत्तम मिश्रा ने किया पलटवार ◾RBI ने कहा- भारतीय संस्थाएं आईएफएससी में सोने की कीमत के जोखिम को कम कर सकती ◾MCD नतीजों को लेकर बोले केजरीवाल- दिल्ली का फैसला देश के लिए सकारात्मक राजनीति करने का संदेश◾Indonesia: इंडोनेशिया में पुलिस थाने के बाहर विस्फोट में एक अधिकारी की मौत, 11 घायल ◾यूपी के गाजीपुर में हैवानियत! प्रेमी जोड़े को गांव के प्रधान ने दी क्रूर सजा, जमकर की पिटाई , फिर चटवाया धूक◾पाकिस्तान से निकले तालिबान ने कर दी, 17 पाकिस्तानी सैनिकों का सिर कलम ◾हिमाचल विश्वविद्यालय में मचा बवाल, लेफ्ट-राइट फिर आमने-सामने, पुलिस ने डाला डेरा ◾केजरीवाल ने MCD में फेरी झाड़ू, CM बोले- दिल्ली को बदलने के लिए PM मोदी के आशीर्वाद की जरूरत ◾Bihar News: एक मुस्लिम और दूसरा हिन्दू बेटा, मां के अंतिम संस्कार को लेकर भाई के बीच हुआ विवाद ◾खुद को पैगम्बर बताने वाले बेटमैन की 20 नाबालिग पत्नियां, बेटी के साथ भी की शादी◾पंजाब: पॉपुलर गायक बब्बू मान से मानसा में पूछताछ हो रही, मारने की मिली थी धमकी, जानें पूरा मामला ◾MCD Election Result: क्या गुजरात-हिमाचल में भी पलटेगी बाजी? दिल्ली में Exit Polls क्यों हुए फेल◾MCD Results: दिल्ली में बड़ा चेहरा न होने से फंसी भाजपा, केजरीवाल के इलाके में किसने मारी बाजी, यहां देखे ◾Kanpur News: BJP नेता को घसीटकर MCD के दफ्तर से बाहर फेंका, जानें पूरा मामला◾राजधानी में 'मेयर' भी केजरीवाल का! जश्न में जुटी 'AAP' पार्टी ने दी BJP को चुनौती- अब बनाकर दिखाओ◾

पैगंबर पर टिप्पणी: कुवैत ने शुरू किया भारतीय प्रोडक्ट्स का बायकॉट... कहा- देश को मांगनी चाहिए माफी!

पैगंबर मोहम्मद के बारे में एक भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के नेता की विवादित टिप्पणी को लेकर मचा बवाल बढ़ता ही जा रहा है, इस बीच एक कुवैती सुपरमार्केट ने भारतीय प्रोडक्ट्स पर बैन लगते हुए उन्हें अपनी दुकानों से हटा दिया है, अल-अर्दिया को-ऑपरेटिव सोसाइटी स्टोर में काम करने वालों ने "इस्लामोफोबिक" के रूप में भारत की निंदा की। पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणियों का विरोध करते हुए भारतीय चाय और अन्य प्रोडक्ट्स को दुकानों से हटा दिया गया है।

कुवैत में भारतीय प्रोडक्ट्स पर लगा बैन 

कुवैत सिटी के ठीक बाहर सुपरमार्केट में, चावल के बोरे और मसालों और मिर्च की अलमारियों को प्लास्टिक से ढक दिया गया है। जिसपर अरबी भाषा में लिखकर एक नोट भी चिपकाया गया हैं, इस नोट में लिखा है कि "हमने भारतीय प्रोडक्ट्स को दूकान से हटा दिया है"। बताते चलें कि भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) के विवादित बयान से मुसलमानों में कोहराम मच गया है। साथ ही टीवी पर एक बहस के दौरान नूपुर शर्मा की टिप्पणी को उत्तर प्रदेश में हुई झड़पों के लिए जिम्मेदार ठहराया जा रहा है और उनकी गिरफ्तारी की मांग की गई है।

BJP ने नूपुर शर्मा के खिलाफ की कड़ी कार्रवाई

वहीं इस पुरे घटनाक्रम को लेकर मुस्लिम देशों में गुस्सा फैल गया है। भाजपा ने रविवार को नूपुर शर्मा पर कड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें "पार्टी की स्थिति के विपरीत विचार" व्यक्त करने के लिए निलंबित कर दिया है और साथ ही बयान जारी कर कहा है कि "भारत में सभी धर्मों का पूरा सम्मान करता है।" वहीं नूपुर शर्मा ने ट्विटर पर कहा कि उनकी टिप्पणी हिंदू भगवान शिव के खिलाफ किए गए "अपमान" के जवाब में थी। उन्होंने कहा, "अगर मेरे शब्दों से किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है, तो मैं बिना शर्त अपना बयान वापस लेती हूं।"

भारत "इस्लामोफोबिक" टिप्पणियों के लिए मांगे माफी

वहीं कतर ने इस मामले में प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भारत "इस्लामोफोबिक" टिप्पणियों के लिए माफी मांगे, क्योंकि उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने व्यापार को बढ़ावा देने के लिए गैस समृद्ध खाड़ी राज्य का दौरा किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रविवार देर रात कतर और कुवैत का साथ देते हुए ईरान ने "भारत सरकार और लोगों" के नाम पर विरोध करने के लिए भारतीय राजदूत को तलब किया था।

पुरे विश्व को घातक युद्धों की तरफ धकेल सकती है टिप्पणी

इस्लाम के सबसे महत्वपूर्ण संस्थानों में से एक अल-अजहर विश्वविद्यालय ने कहा कि यह टिप्पणियां "असली आतंकवाद" थीं और "पूरी दुनिया को घातक संकट और युद्धों की तरफ धकेल सकती हैं।" सऊदी स्थित मुस्लिम वर्ल्ड लीग ने कहा कि टिप्पणी "घृणा को उकसा सकती है।" बताते चलें कि विदेश मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक खाड़ी देश भारत के विदेशी कामगारों के लिए एक प्रमुख गंतव्य हैं, वे भारत और अन्य जगहों से उपज के बड़े आयातक भी हैं, व्यापार मंत्री के अनुसार कुवैत अपने भोजन का 95 प्रतिशत आयात करता है। 

Nupur Sharma: धार्मिक सहिष्णुता पर भारत को लेक्चर की जरूरत नहीं... BJP की कार्रवाई ढोंग, कांग्रेस का तंज