BREAKING NEWS

अरुणाचल प्रदेश में चीन के गांव को बसाए जाने की रिपोर्ट पर सियासत तेज, राहुल ने PM पर साधा निशाना ◾देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के नए मामले 10 हजार से कम, 137 लोगों ने गंवाई जान ◾कांग्रेस मुख्यालय में आज राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कृषि कानूनों पर जारी करेंगे बुकलेट◾दुनियाभर में कोरोना का प्रकोप लगातार जारी, मरीजों का आंकड़ा 9.55 करोड़ तक पहुंचा◾TOP 5 NEWS 19 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾विदेशी आतंकियों की मौजूदगी से आतंकवाद विरोधी प्रयास हो रहे कमजोर : टी. एस. तिरुमूर्ति◾गुजरात : सूरत में सड़क किनारे सो रहे प्रवासी मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 13 लोगों की मौत ◾शुभेंदु अधिकारी ने ममता के गढ़ में चुनाव लड़ने का किया ऐलान बोले- 50 हजार वोटों से हारेंगी, नहीं तो छोड़ दूंगा राजनीति ◾किसान संगठनों और सरकार के बीच दसवें दौर की वार्ता अब बुधवार को होगी◾‘तांडव’ की टीम ने बिना शर्त माफी मांगी, कहा-भावनाएं आहत करने का कोई इरादा नहीं ◾सुशासन सरकार में पुलिस दोषियों के बजाये निर्दोष को जेल भेजने का काम करती है :तेजस्वी ◾आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह को मिली जिंदा जलाकर मारने की धमकी ◾एम्स निदेशक की जनता से अपील - मामूली साइड इफेक्ट से मत डरें, वैक्सीन आपको मारेगी नहीं ◾SC की टिप्पणी के बाद बोले किसान संगठन - ट्रैक्टर रैली निकालना किसानों का संवैधानिक अधिकार है◾बढ़ते क्राइम को लेकर तेजस्वी ने राज्यपाल से की मुलाकात, कहा- बिहारियों की बलि मत दिजीए CM नीतीश ◾नंदीग्राम से विधानसभा चुनाव लड़ेंगी ममता बनर्जी, कहा- दल बदलने वालों की नहीं है चिंता ◾केंद्र ने माल्या प्रत्यर्पण मामले में दी SC को सूचना, कहा- ब्रिटेन ने डिटेल सांझा करने से किया इंकार ◾'तांडव' वेब सीरीज विवाद को लेकर लखनऊ से मुंबई रवाना हुई UP पुलिस की टीम◾भारतीय किसान यूनियन के प्रधान गुरनाम सिंह चढूनी को संयुक्त किसान मोर्चा ने किया सस्पेंड◾SC की टिप्पणी पर बोले राकेश टिकैत-हम झगड़ा नहीं, गण का उत्सव मनाएंगे◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

टाइम पत्रिका में नाम आने पर बिलकिस ने कहा, यदि मांग पूरी हो जाती तो कहीं अधिक खुशी होती

दिल्ली के शाहीन बाग में महिलाओं के नेतृत्व में चले ‘सीएए’ विरोधी प्रदर्शन का प्रमुख चेहरा रहीं बिलकिस ने गुरुवार को कहा कि टाइम पत्रिका में 2020 के 100 प्रभावशाली लोगों की सूची में उन्हें शामिल किये जाने से वह खुश हैं, लेकिन यदि उनकी मांग मान ली जाती तो वह कहीं अधिक खुशी होती।

नागरिकता संशोधित कानून (सीएए) के विरोध में पिछले साल दिसंबर की कड़ाके की सर्दी के दौरान बिलकिस उनकी सहेली आस्मा खातून और सरवरी हर दिन प्रदर्शन स्थल पर मौजूद रहीं थी। उनकी तिकड़ी को सोशल मीडिया पर ‘शाहीन बाग की दादियां’ नाम दिया गया था। बिलकिस के बेटे मंजूर अहमद ने कहा, जब हमने उन्हें यह बताया कि उन्हें दुनिया की सबसे प्रभावशाली लोगों में से एक घोषित किया गया है, उन्होंने बस यह कहा कि ‘‘ठीक है।’’

अहमद ने बताया कि परिवार जितनी उनकी (बिलकिस की) प्रतिक्रिया उत्साहपूर्ण नहीं थी। बिलकिस ने कांपती आवाज में कहा, ‘‘मैं ख़ुदा की शुक्रगुजार हूं। यदि हमारी मांग पूरी हो जाती तो मुझे कहीं अधिक खुशी होती...यदि सरकार ने हमारी सुनी होती और हम जो चाहते थे (सीएए को वापस लिया जाना) वह हमें दे दिया जाता।’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह दुखद है कि हमें प्रदर्शन को महामारी (कोविड-19) के कारण स्थगित करना पड़ा। मैं वहां अंत तक थी।’’ अहमद ने बताया कि उनकी मां पिछले साल दिसंबर में बीमार पड़ गई थी लेकिन वह प्रदर्शन स्थल पर जाती रहीं। वहां इतनी ज्यादा सर्दी थी और उन्हें बुखार था, फिर भी वह अन्य महिलाओं का समर्थन करने वहां गई। अहमद ने बताया कि उनके परिवार की सभी महिलाओं ने प्रदर्शन में हिस्सा लिया था। 

सीएए वापस लेने की मांग को लेकर शाहीन बाग प्रदर्शन 100 से अधिक दिनों तक चला। कोविड-19 महामारी शुरू होने और इसके प्रसार को रोकने के लिये सरकार द्वारा लॉकडाउन की घोषणा किये जाने पर इस साल मार्च में यह समाप्त हो गया। टाइम पत्रिका की सूची में भारत से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अभिनेता आयुष्मान खुराना भी शामिल हैं।