अभी कर्नाटक में चुनाव होने में काफी देर है। लेकिन इसके बाद भी यहां चुनाव की बिसात बिछ गई है इसीलिए नेताओं के दौरे यहां बढ़ गए हैं। एक ओर राहुल गांधी कर्नाटक में लगातार रैलियां कर रहे हैं। तो वहीं दूसरी ओर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी कर्नाटक में खासी दिलचस्पी ले रहे हैं।

कर्नाटक पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है। रविवार को मुधोल के दौरे पर पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने संबोधन में कहा, ‘मोदी जी को 500 और 1000 के नोट नहीं पसंद थे। देश की जनता बैंक के बाहर और कालेधन वाले पिछले दरवाजे से बैंक के अंदर। 5 महीने बाद हमें पता चला कि किसानों के 22000 करोड़ रुपये नीरव मोदी ले गया। नीरव मोदी भाग गया, ललित मोदी भाग गया, विजय माल्या भाग गया और देश के चौकीदार ने कुछ नहीं किया।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी औ कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। राज्‍य में पहुंचे कांग्रेस प्रेसिडेंट ने पीएम नरेन्‍द्र मोदी पर कई आरोप लगाए तो वहीं की जमीन पर पहूंचे बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने कहा कि राहुल गांधी झूंठ बोल रहे हैं। कर्नाटक के विजयापुरा के मुलवाड़ में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘पैसा किसानों- मजदूरों की जेब से निकलकर 10 उद्योगपतियों के पास जा रहा है। आपने देश के 10 सबसे अमीर उद्योगपतियों का लोन माफ किया, मोदी जी क्‍या आप हिंदुस्‍तान के किसानों का लोन माफ करेंगे? कोई जवाब नहीं मिला।

बीजेपी प्रेसिडेंट अमित शाह ने राहुल गांधी के आरोपों का जवाब कर्नाटक की ही धरती से दिया। बीदर पहुंचे शाह ने कहा कि हमने किसी भी उद्योगपति का कोई भी कर्ज माफ नहीं किया है। राहुल गांधी झूंठ बोल रहे है।

बता दे कि कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम नरेंद्र मोदी के विकास मॉडल पर तंज कसा था। उन्होंने कहा था कि नीरव मोदी, विजय माल्या और ललित मोदी करोड़ों रुपये लेकर विदेश भाग गए लेकिन खुद को देश का चौकीदार कहने वाले नरेंद्र मोदी ने एक शब्द तक नहीं बोले। उन्होंने कहा था कि किसानों और मजदूरों का पैसा गरीब की जेब से निकालकर उद्योगपतियों को दिया जा रहा है। मोदी सरकार ने देश के 10 सबसे अमीर उद्योगपतियों का लोन माफ किया। राहुल गांधी ने व्यंग्यात्मक लहजे में पूछा कि मोदी जी क्या आप हिंदुस्तान के किसानों का लोन माफ करेंगे?

इससे पहले कर्नाटक के बागलकोट जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि पीएम मोदी ने 2014 के चुनाव में हर भाषण में कहा था कि मैं देश का चौकीदार बनना चाहता हूं। एक तरफ उनके एक्स-सीएम और दूसरी तरफ 4 मंत्री जेल में समय काटकर आए हैं और चौकीदार देश को कहता है कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ने आया हूं।

आपको बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी कर्नाटक के दौरे पर हैं। यहां किसानों की रैली में उन्होंने राहुल गाँधी के बयान का प्रतिवाद करते हुए पलटवार किया कि बीजेपी किसानों के लिए काम करने वाली सरकार है। उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों की बकाया राशि का भुगतान 90 दिनों के अन्दर किया गया। राहुल गाँधी को झूठा बताते हुए कहा कि हमने किसी उद्योगपति का कर्ज माफ नहीं किया है।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट।