BREAKING NEWS

दिल्ली : रोहिणी कोर्ट परिसर में गैंगवॉर, फायरिंग में 4 की मौत, कई घायल◾UP विधानसभा चुनाव 2022 : मैदान में साथ उतरेगी BJP और निषाद पार्टी, गठबंधन का हुआ ऐलान◾महंत नरेंद्र गिरि केस : आनंद गिरि ने बताया था अपनी जान को खतरा, जेल में नियमानुसार मिलेगी सुरक्षा◾कैप्टन अमरिंदर को रास नहीं आई गहलोत की सलाह, बोले-'राजस्थान संभालो, पंजाब को छोड़ो'◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 23.05 करोड़ के पार, 47.2 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾पंजाब में जल्द हो सकता है कैबिनेट विस्तार, राहुल-प्रियंका संग CM चन्नी का मंथन◾शेयर बाजार ने रचा इतिहास, Sensex 60 हजार अंक के पार, Nifty 18 हजारी होने को बेताव◾अफगानिस्तान में लोगों को अपनी जमीनें छोड़ने को मजबूर कर रहा तालिबान, जल्द पैदा हो जायेगा मानवीय संकट ◾देश में पिछले 24 घंटों में आए कोरोना संक्रमण के 31382 नए मामले, 318 लोगों की मौत◾SC में सरकार का बयान- नहीं होगी जातिगत गिनती, OBC जनगणना का काम प्रशासनिक रूप से कठिन◾पीएम मोदी ने की अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात, भारत आने का दिया न्योता◾अमेरिकी दौरे के दूसरे दिन आज होगी PM मोदी और बाइडेन के बीच पहली मुलाकात, जानें किन मुद्दों पर होगी बात◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका में ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष से मुलाकात की◾कोलकाता नाइट राइडर्स ने मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हराया◾मोदी ने की अमेरिकी सौर पैनल कंपनी प्रमुख के साथ भारत की हरित ऊर्जा योजनाओं पर चर्चा◾सेना की ताकत में होगा और इजाफा, रक्षा मंत्रालय ने 118 अर्जुन युद्धक टैंकों के लिए दिया आर्डर ◾असम के दरांग जिले में पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच में झड़प, 2 प्रदर्शनकारियों की मौत,कई अन्य घायल◾दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए घर पर ही की जाएगी टीकाकरण की सुविधा, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी◾अमरिंदर का सवाल- कांग्रेस में गुस्सा करने वालों के लिए स्थान नहीं है तो क्या 'अपमान करने' के लिए जगह है◾तेजस्वी का तंज- 'नल जल योजना' बन गई है 'नल धन योजना', थक चुके हैं CM नीतीश ◾

वैक्सीन पर केजरीवाल के पाकिस्तान वाले बयान पर BJP ने दी नसीहत, दिलाई सर्जिकल स्ट्राइक की याद

टीकाकरण अभियान को लेकर केंद्र सरकार की आलोचना करने के लिए भाजपा ने बुधवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा और ‘‘छवि चमकाने’’ की राजनीति का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें ‘‘बुरा भला’’ कहो और आरोप लगाओ की रणनीति से बाज आना चाहिए। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि केजरीवाल ने पहले टीकाकरण अभियान के विकेंद्रीकरण की वकालत की थी और केंद्र ने जब ऐसा कर दिया उन्होंने ‘‘यू-टर्न’’ ले लिया और अब ‘‘झूठ और दुष्प्रचार’’ का सहारा लेकर श्रेय लेने की कोशिश कर रहे हैं।

भाजपा नेता ने डिजिटल माध्यम से आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में केजरीवाल का एक पुराना वीडियो दिखाया जिसमें वह कहते सुने जा रहे हैं कि केंद्र टीकाकरण अभियान को नियंत्रित कर रहा है और दिल्ली को देश के अन्य हिस्सों के साथ जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए क्योंकि कुछ राज्य सरकारें सक्षम हैं और अन्य कुछ कम हैं। इससे पहले केजरीवाल ने आज कहा था कि कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ लड़ाई के लिए ‘टीम इंडिया’ को साथ आना होगा। साथ ही उन्होंने केन्द्र से टीके खरीदने और राज्यों में उन्हें बांटने की भी अपील की।

उन्होंने यह भी दावा किया कि सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने टीके खरीदने के प्रयास किए लेकिन कोई राज्य टीके की व्यवस्था नहीं कर पाया। कई राज्यों ने वैश्विक निविदा निकाली पर उसका भी कोई नतीजा नहीं निकला। पात्रा ने कहा कि राजनीति करने के लिए मुख्यमंत्री हर दिन दो से तीन संवाददाता सम्मेलन करते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘वह छवि चमकाने की राजनीति करते नजर आते हैं। अभी ऐसी राजनीति का समय नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि ‘‘बुरा भला’’ कहो और आरोप लगाओ की रणनीति से आम आदमी पार्टी के मुखिया को बाज आना चाहिए।

दिल्ली में टीकों की कमी के केजरीवाल के दावों पर पात्रा ने कहा करीब 20 करोड़ वैक्सीन केंद्र सरकार ने तमाम राज्यों को मुहैया करा दी है और दिल्ली में आज भी 1.5 लाख से अधिक वैक्सीन मौजूद है। उन्होंने कहा, ‘‘केजरीवाल जी आप इसका प्रबंधन करिए। लेकिन इस पर राजनीति न कीजिए।’’ उन्होंने कहा कि टीकाकरण के मामले में भारत अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर है और 60 से अधिक की उम्र वाले 42 फीसदी भारतीयों को एक खुराक दी जा चुकी है।

भाजपा नेता ने मुख्यमंत्री के उस दावे पर भी निशाना साधा जिसमें उन्होंने कहा था कि उनकी सरकार तीसरी लहर की तैयारी कर रही है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि दूसरी लहर में आप सरकार ने ऑक्सीजन की कमी सहित अन्य मुद्दों पर केंद्र सरकार को दोषी ठहराया और अब वह तीसरी लहर की तैयारी कर रही है। पात्रा ने कहा कि दिल्ली में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के लिए केजरीवाल सरकार को माफी मांगनी चाहिए क्योंकि वह स्थिति को संभालने में नाकाम रही।

भाजपा प्रवक्ता ने केजरीवाल द्वारा पाकिस्तान का जिक्र करने के लिए भी उन्हें आड़े हाथों लिया। केंद्र की टीकाकरण नीति की आलोचना करते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘‘आज हम कोविड-19 के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं, जिसमें केंद्र और राज्यों की अपनी-अपनी जिम्मेदारियां हैं। केंद्र सरकार अपनी जिम्मेदारी से मुंह मोड़ रही है और राज्यों से अपने लिए खुद व्यवस्था करने को कह रही है। यह गलत है।’’

उन्होंने (केजरीवाल ने) नाराजगी भरे स्वर में कहा, ‘‘यह कुछ इस तरह है कि पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ जंग का ऐलान कर दिया हो और तब वे (केंद्र) पूछें कि क्या दिल्ली ने परमाणु बम बनाया है और क्या उत्तर प्रदेश ने टैंक खरीदा है। टीकों को खरीदने और उनकी आपूर्ति करने की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की है। अगर वे हमें टीके दें और हम टीकाकरण केंद्रों को नहीं खोलते तब वे दिल्ली को जवाबदेह ठहरा सकते हैं।’’

पात्रा ने पलटवार करते हुए कहा, ‘‘दुख तो इस विषय का है कि सर्जिकल स्ट्राइक होती है तो उस समय भी आप कहां राजनीति करने से चूकते हैं, उस समय भी आप सुबूत मांगते हैं।’’