BREAKING NEWS

14वां G-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने जापान रवाना हुए PM मोदी◾पाकिस्तान समेत एशिया-प्रशांत समूह के सभी देशों ने किया भारत का समर्थन◾World Cup 2019 PAK vs NZ : पाक ने न्यूजीलैंड का रोका विजय रथ , नाकआउट की उम्मीद बढ़ायी ◾काफिले का मार्ग बाधित करने को लेकर थर्मल पावर के कर्मचारियों पर भड़के कुमारस्वामी ◾जयशंकर ने S-400 समझौते पर पोम्पिओ से कहा : भारत अपने राष्ट्रीय हितों को रखेगा सर्वोपरि◾‘जय श्रीराम’ का नारा नहीं लगाने पर ट्रेन से धकेल दिये गये 3 लोगों को ममता देंगी मुआवजा◾RAW चीफ बने 1984 बैच के IPS सामंत गोयल, अरविंद कुमार बनाए गए IB डायरेक्टर◾कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव में वैष्णव को BJD के समर्थन पर CM से स्पष्टीकरण मांगा ◾बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय का MLA बेटा पहुंचा जेल, अधिकारी से की थी मारपीट◾पलायन रोकने के लिए गांवों का हो विकास : गडकरी◾दुष्कर्म मामले में केरल के CPI (M) नेता के बेटे के खिलाफ जारी किया लुकआउट नोटिस◾कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्री नेपाल में फंसे, यात्रा संचालकों पर लगाया कुप्रबंधन का आरोप ◾विपक्ष त्यागे नकारात्मकता, विकास यात्रा में दे सहयोग : पीएम मोदी ◾Top 20 News - 26 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾एक देश एक चुनाव व्यवहारिक नहीं : कांग्रेस ◾नई ऊंचाइयों पर पहुंच रही है अमेरिका-भारत के बीच साझेदारी : माइक पोम्पियो◾दुखद और शर्मनाक है बिहार में चमकी बुखार से हुई बच्चों की मौत : PM मोदी ◾इंदौर: BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश ने नगर निगम अफसरों को बल्ले से पीटा◾कांग्रेस ने 2014 से देश की विकास यात्रा शुरू करने के दावे पर मोदी सरकार को लिया आड़े हाथ ◾SC ने राजीव सक्सेना को विदेश जाने की अनुमति देने वाले दिल्ली HC के फैसले पर लगाई रोक ◾

देश

भाजपा को उसी का अहंकार खा रहा है : राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

पटना : राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा है कि भाजपा को उसका अहंकार भी खा रहा है। रांची के जेल और अस्पताल में झारखंड सरकार ने लालू जी के साथ जैसा व्यवहार किया उसको सब लोगों ने देखा। अभी इलाज के लिए लालू जी दिल्ली गए। लेकिन अनुरोध के बावजूद झारखंड सरकार ने हवाई जहाज़ से दिल्ली जाने की इजाजत उन्हें नहीं दी।

श्री तिवारी ने बताया कि इस प्रकरण ने मुझे 1990 का स्मरण करा दिया। तब लालू जी मुख्यमंत्री थे। सोमनाथ से अयोध्या के लिए रामरथ पर सवार होकर आडवाणी जी निकल चुके थे। उस रथ यात्रा ने देश भर में सांप्रदायिक उन्माद पैदा कर दिया था। जगह-जगह दंगा भड़क गया था। रथयात्रा को बिहार से ही होकर अयोध्या जाना था।

सब जानते थे कि आडवाणी जी के अयोध्या पहुंचने की इजाज़त देने का मतलब है कि वहां नरसंहार की इजाज़त देना। लालू जी ने तय कर लिया था आडवाणी को अयोध्या नहीं पहुंचने देंगे। समस्तीपुर में आडवाणी जी की गिरफ़्तारी हुई। उनके साथ अशोक सिंघल भी गिरफ़्तार हुए।

गिरफ्तारी के बाद आडवाणी जी को मसानजोर स्थित सरकार की डाकबंगला में हेलीकाप्टर से पहुंचाया। रसोइयाए डाक्टर और अन्य सेवादार वहां नियुक्त किए गए। लगभग रोज़ाना फोन पर लालू जी आडवाणी जी का हाल-चाल लेते रहे। इसके कुछ ही दिन बाद आडवाणी जी की पत्नी, बेटी आदि परिवार के सदस्य उनसे मिलने के लिए पटना आए और सड़क के रास्ते मसानजोर जा रहे थे।

लालू जी को जैसे जानकारी मिली उन्होने बिहार सरकार के हेलीकाप्टर से उनलोगों को मसानजोर भेजवाया। उन्होंनेन बताया कि आज झारखंड में आडवाणी जी के चेलों की सरकार है। लेकिन बीमार लालू को उनलोगों ने बेहतर इलाज के लिए हवाईजहाज़ से दिल्ली नहीं जाने दिया। सारे झंझावातों के बावजूद लालू यादव का मजबूती के साथ राजनीति और समाज में टीके रहने का एक रहस्य उनका मानवीय व्यवहार भी है। उनके विरोधियों को और विशेष रूप से नीतीश कुमार को इस मामले में लालू जी से सीख लेनी चाहिए।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।