BREAKING NEWS

चीन के साथ 1962 के युद्ध ने विश्व मंच पर भारत की स्थिति को काफी नुकसान पहुंचाया : जयशंकर ◾झारखंड में रघुबर दास नहीं, मोदी-शाह करेंगे चुनाव प्रचार का नेतृत्व ◾भारत ने अयोध्या, कश्मीर पर पाकिस्तानी दुष्प्रचार का दिया करारा जवाब◾शी चिनफिंग और मोदी के बीच वार्ता ◾महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना में विलगाव ने कांग्रेस-राकांपा को किया है एकजुट ◾गृहमंत्री अमित शाह शुक्रवार को जायेंगे सीआरपीएफ के मुख्यालय ◾झारखंड : भाजपा ने 15 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी की ◾JNU में विवेकानंद की प्रतिमा के चबूतरे पर आपत्तिजनक संदेश◾राफेल की कीमत, ऑफसेट के भागीदारों के मुद्दों पर सरकार के निर्णय को न्यायालय ने सही करार दिया : सीतारमण ◾झारखंड चुनाव के पहले चरण के लिए कांग्रेस के 40 स्टार प्रचारकों की सूची जारी ◾आतंकवाद के कारण विश्व अर्थव्यवस्था को 1,000 अरब डॉलर का नुकसान : PM मोदी◾महाराष्ट्र गतिरोध : कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना में बातचीत, सोनिया से मिल सकते हैं पवार ◾मोदी..शी की ब्राजील में बैठक के बाद भारत, चीन अगले दौर की सीमा वार्ता करने पर हुए सहमत ◾कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान ने भारत से किसी भी समझौते से किया इनकार ◾राफेल के फैसले से JPC की जांच का रास्ता खुला : राहुल गांधी ◾राफेल पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद देवेंद्र फड़णवीस बोले- राहुल गांधी को अब माफी मांगनी चाहिए ◾नोबेल विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा- शुद्ध हवा सुनिश्चित करने के लिए प्रधानमंत्री को ठोस कदम उठाने चाहिए◾TOP 20 NEWS 14 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾RSS-भाजपा को सबरीमाला पर न्यायालय का फैसला मान लेना चाहिए : दिग्विजय सिंह ◾महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने को लेकर CM ममता ने राज्यपाल कोश्यारी पर साधा निशाना ◾

देश

विवादों में घिरे रहने वाले BJP विधायक चैंपियन पार्टी से निलंबित

उत्तराखंड में विवादों से घिरे रहने वाले भारतीय जनता पार्टी के खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन को पत्रकार को धमकाने के साथ ही अनुशासनहीनता के विभिन्न आरोपों में पार्टी ने तीन महीने के लिए प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है। 

पार्टी के प्रदेश महामंत्री नरेश बंसल ने रविवार को यहां बताया कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने इस आशय का निर्णय लिया। श्री चैंपियन का निलंबन शनिवार रात भाजपा की अनुशासन समिति द्वारा तैयार की गई प्रारंभिक रिपोर्ट के बाद आया, जिसमें उन्हें घोर अनुशासनहीनता का दोषी पाया गया। 

अपने दंबगई अदांज से चर्चाओं में रहने वाले श्री चैपिंयन पर इस बार उनका यह अंदाज ही भारी पड़ गया। अक्सर सुर्खियों में रहने वाले श्री चैंपियन ने पिछले दिनों दिल्ली के एक न्यूज रिपोर्टर पर उनकी दंबगई दिखाये जाने की विडियों वायरल होने से वह फिर से चर्चाओं में छाये रहे। खुले आम मिडियाकर्मी पर अपना जोर दिखाते चैपियंन की इस हरकत से पार्टी की अनुशासन पर भी कई सवाल खड़ होते नजर आए। 

यह कोई पहला मामला नही था। गौरतलब है कि इससे पूर्व श्री चैंपियन की पार्टी के ही एक अन्य विधायक देशराज कर्णवाल से काफी दिनो तक कहा सुनी होती रही जिससे की पार्टी की काफी किरकिरी भी हुई। इससे पहले भी श्री चैंपियन कभी आचार सहिंता का उलंघन करने के मामले को लेकर, तो कभी डीजे पर नाचते हुए गोलियां चलाने को लेकर भी सुर्खियों में रहे हैं। 

भाजपा में आने से पहले श्री चैपिंयन कांग्रेस के कद्दावर नेता माने जाते थे। परन्तु बाहुबली विघायक होने के कारण कांग्रेस के निए भी अच्छा खासा सरदर्द बने रहे। बाद में सर्वश्री विजय बहुगुणा और हरक सिंह रावत के साथ उन्होंने कांग्रेस छोड़ कर भाजपा का दामन थाम लिया था। 

परन्तु बार-बार चेतावनी मिलने के बावजूद अपनी हरकतों से पार्टी के अनुशासन तोड़ने पर श्री चैंपियन के खिलाफ पहली बार अनुशासन का डंडा चला है और पार्टी ने उन्हें तीन महीने के लिए निंलबित कर दिया है। श्री चैंपियन के आचरण को अनुशासनहीनता के दायरे में मानते हुए पार्टी ने उनकी प्राथमिक सदस्यता को तीन महीने के लिए निलंबित कर दिया है। आचरण में सुधार न आने पर पार्टी और सख्त फैसला ले सकती है। 

पार्टी के इस फैसले को श्री चैंपियन ने स्वीकार करते हुए कहा कि पार्टी मेरी मां है और बच्चों से गलती हो जाने पर मां बच्चे को सजा दे ही देती है। उनका कहना है कि पार्टी ने एक तरफ फैसला सुनाया है जल्द ही वह लिखित रूप में अपनी बात पार्टी के सामने रखेगें।