BREAKING NEWS

कूचबिहार की घटना मतदाताओं को डराने के लिए रचे गए भाजपा के षड़यंत्र का परिणाम: CM ममता ◾अनिल विज ने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को लिखा पत्र, प्रदर्शन कर रहे किसानों के साथ फिर से शुरू करें बातचीत◾PM लॉकडाउन पर फैसला तब लेंगे, जब बंगाल में चुनाव खत्म होंगे: संजय राउत ◾शांतिपुर में अमित शाह का रोडशो, ममता पर लगाया मृत्य पर तुष्टिकरण की राजनीति का आरोप◾सीबीएसई बोर्ड ने सर्कुलर किया जारी, प्रियंका गांधी ने शिक्षा मंत्री को लिखा पत्र◾कांग्रेस का केंद्र पर वार, कहा- सरकार की नीतियों के कारण भारतीयों पर कहर बरपा रहा है कोरोना ◾वैक्सीन उत्सव : PM मोदी ने देशवासियों को महामारी से लड़ने के लिए दिया चार सूत्रीय फॉर्मूला ◾दिल्ली में कोरोना की स्थिति चिंताजनक, अस्पतालों में बेड्स कम पड़े तो लगाना पड़ जाएगा लॉकडाउन : CM केजरीवाल◾महाराष्ट्र : भ्रष्टाचार केस में CBI ने अनिल देशमुख के निजी सहायकों को भेजा समन◾कूचबिहार फायरिंग को लेकर प्रधानमंत्री और गृहमंत्री पर भड़कीं ममता, EC को लिया आड़े हाथों◾PM मोदी ने की टीका उत्सव की शुरुआत, देश की जनता से 'ईच वन वैक्सीनेट वन' का किया आग्रह ◾देश में कोरोना का अबतक का सबसे बड़ा विस्फोट, एक दिन में 1.50 लाख से ज्यादा केस ◾ कृषि कानून के खिलाफ किसानों ने केएमपी हाइवे को 24 घंटे के लिए बंद करने के बाद आज सुबह खोला◾विश्व में कोरोना का आंकड़ा 13.5 करोड़ के पार, अमेरिका है दुनिया का सबसे प्रभावित देश ◾Delhi Corona : पिछले 24 घंटे के दौरान 7897 नए मामलों की पुष्टि, पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 10.21 फीसदी हुई ◾शोपियां में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में 3 आतंकवादियों को मार गिराया, सर्च ऑपरेशन जारी◾महाराष्ट्र में कोरोना का कहर, वीकेंड लॉकडाउन के दौरान सड़कों और बाजारों में पसरा सन्नाटा ◾आज का राशिफल (11 अप्रैल 2021)◾‘गुरू’ धोनी पर भारी पड़ा ‘शिष्य’ पंत, दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई को हराया ◾कोविड-19: दिल्ली सरकार ने सभी तरह की सामाजिक, राजनीतिक, धार्मिक सभाओं पर रोक लगायी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

नई शिक्षा नीति पर BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा बोले- नई शिक्षा नीति नए भारत की जरूरतों को ध्यान में रखती है

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बुधवार को कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा मंजूर की गई नयी शिक्षा नीति बहुप्रतीक्षित सुधार और नियामक ढांचा लेकर आयी है जो ‘‘नये भारत’’की जरूरतों को ध्यान में रखती है और युवाओं की ऊर्जा को ‘‘आत्मनिर्भर बेहतर भारत’’ के लिए सार्थक बनाती है।

नड्डा ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि आज का दिन देश के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्रीय केबिनेट ने नयी शिक्षा नीति 2020 को मंजूरी दे दी। उन्होंने कहा, ‘‘विस्तृत विमर्श के बाद तैयार की गई यह शिक्षा नीति गुणवत्तापूर्ण शोध को प्रोत्साहन देने के अलावा बच्चों की देखभाल व उनकी शिक्षा, विद्यार्थियों के साथ निष्पक्षता और शिक्षकों की नियुक्ति को सुदृढ बनाना सुनिश्चित करती है।’’

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आज नई शिक्षा नीति को मंजूरी दे दी जिसमें स्कूली शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक कई बड़े बदलाव किये गए हैं, साथ ही शिक्षा क्षेत्र में खर्च को सकल घरेलू उत्पाद का 6 प्रतिशत करने तथा उच्च शिक्षा में साल 2035 तक सकल नामांकन दर 50 फीसदी पहुंचने का लक्ष्य है।

नड्डा ने कहा, ‘‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 बहुप्रतीक्षित सुधार और नियामक ढांचा लेकर आयी है जो 21 सदी के नये भारत और जरूरतों को ध्यान में रखती है और हमारे बच्चों और युवाओं की ऊर्जा को आत्मनिर्भर बेहतर भारत के लिए सार्थक बनाती है।’’ इसकी घोषणा करते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने बताया कि 34 साल से शिक्षा नीति में परिवर्तन नहीं हुआ था, इसलिए यह बेहद महत्वपूर्ण है।

नयी शिक्षा नीति में स्कूल शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक कई बड़े बदलाव किए गए हैं। इसमें (लॉ और मेडिकल शिक्षा को छोड़कर) उच्च शिक्षा के लिये सिंगल रेगुलेटर (एकल नियामक) रहेगा। इसके अलावा उच्च शिक्षा में 2035 तक 50 फीसदी सकल नामांकन दर पहुंचने का लक्ष्य है। नई नीति में मल्टीपल एंट्री और एग्जिट (बहु स्तरीय प्रवेश एवं निकासी) व्यवस्था लागू की गयी है। गौरतलब है कि वर्तमान शिक्षा नीति 1986 में तैयार की गई थी और इसमें 1992 में संशोधन किया गया था। नई शिक्षा नीति का विषय 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी के चुनावी घोषणा पत्र में शामिल था। केंद्रीय केबिनेट में मानव संसाधन विाकस मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय करने को भी मंजूरी दी।