BREAKING NEWS

देश में 'ओमिक्रॉन' के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत की खबर, 85 फीसदी आबादी को लगी वैक्सीन की पहली डोज ◾महाराष्ट्र में आए ओमिक्रॉन के 2 और नए केस, जानिए अब कितनी हैं देश में नए वैरिएंट की कुल संख्या◾बिहार में जाति आधारित जनगणना बेहतर तरीके से होगी, जल्द बुलाई जाएगी सर्वदीय बैठक: नीतीश कुमार ◾कांग्रेस ने पंजाब चुनाव को लेकर शुरू की तैयारियां, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी को मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾दुनिया बदलीं लेकिल हमारी दोस्ती नही....रूसी राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात में बोले PM मोदी◾UP चुनाव को लेकर प्रियंका ने बताया कैसा होगा कांग्रेस का घोषणापत्र, कहा- सभी लोगों का विशेष ध्यान रखा जाएगा◾'Omicron' के बढ़ते खतरे के बीच MP में 95 विदेशी नागरिक हुए लापता, प्रशासन के हाथ-पांव फूले ◾महबूबा ने दिल्ली के जंतर मंतर पर दिया धरना, बोलीं- यहां गोडसे का कश्मीर बन रहा◾अखिलेश सरकार में होता था दलितों पर अत्याचार, योगी बोले- जिस गाड़ी में सपा का झंडा, समझो होगा जानामाना गुंडा ◾नागालैंड मामले पर लोकसभा में अमित ने कहा- गलत पहचान के कारण हुई फायरिंग, SIT टीम का किया गया गठन ◾आंग सान सू की को मिली चार साल की जेल, सेना के खिलाफ असंतोष, कोरोना नियमों का उल्लंघन करने का था आरोप ◾शिया बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने अपनाया हिंदू धर्म, परिवर्तन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें नया नाम ◾इशारों में आजाद का राहुल-प्रियंका पर तंज, कांग्रेस नेतृत्व को ना सुनना बर्दाश्त नहीं, सुझाव को समझते हैं विद्रोह ◾सदस्यों का निलंबन वापस लेने के लिए अड़ा विपक्ष, राज्यसभा में किया हंगामा, कार्यवाही स्थगित◾राज्यसभा के 12 सदस्यों का निलंबन के समर्थन में आये थरूर बोले- ‘संसद टीवी’ पर कार्यक्रम की नहीं करूंगा मेजबानी ◾Winter Session: निलंबन के खिलाफ आज भी संसद में प्रदर्शन जारी, खड़गे समेत कई सांसदों ने की नारेबाजी ◾राजनाथ सिंह ने सर्गेई लावरोव से की मुलाकात, जयशंकर बोले- भारत और रूस के संबंध स्थिर एवं मजबूत◾IND vs NZ: भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त देकर रचा इतिहास, दर्ज की सबसे बड़ी टेस्ट जीत ◾विपक्ष ने लोकसभा में उठाया नगालैंड का मुद्दा, घटना ने देश को झकझोर कर रख दिया, बिरला ने कही ये बात ◾UP विधानसभा चुनाव में BSP बनाएगी पूर्ण बहुमत की सरकार, मायावती ने किया दावा ◾

बीजेपी ने बजट को बताया भरोसे के संकट को खत्म करने वाला, कांग्रेस ने आशाओं के विपरीत करार दिया

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश बजट को बीजेपी ने जहां देश की राजनीति में पैदा हुए भरोसे के संकट को कम करने वाला बताया, वहीं कांग्रेस ने कहा कि मोदी सरकार का यह बजट लोगों की आशाओं और अकांक्षाओं के विपरीत रहा है। लोकसभा में बजट पर चर्चा में भाग लेते हुए बीजेपी के वीरेंद्र सिंह ने कहा कि आम बजट अतीत की गलतियों को सुधारने वाला और भविष्य की चुनौतियों का सामना करने वाला है। 

उन्होंने कहा कि स्वदेशी की अवधारणा पर आधारित बजट ने देश की राजनीति में पैदा हुए भरोसे के संकट को कम किया है। वीरेंद्र सिंह ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पिछले पांच साल चलने वाली सरकार ने गांव में रहने वाले गरीबों के मन में भरोसा पैदा किया है। इससे पहले देश की राजनीति में भरोसे का संकट इसलिए पैदा हुआ था क्योंकि लोग कहते कुछ थे, करते कुछ थे और दिखता कुछ था। 

वीरेंद्र सिंह ने कहा कि देश की जनता को पहली बार भरोसा हुआ है कि यह सरकार जो कहती है, वह करती है। उन्होंने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में विरोध के लिए विपक्ष का मजबूत होना जरूरी है लेकिन आज विपक्ष की विरोध की ताकत खत्म हो गयी है। विपक्ष को गांव और किसान के मुद्दों पर सरकार के साथ एकमत होना चाहिए। 

कांग्रेस सांसद परनीत कौर ने सरकार के पहले बजट को आशाओं के विपरीत बजट करार देते हुए कहा कि आजाद भारत में गठबंधन की सरकारों में देश की अर्थव्यवस्था का सुनहरा दौर रहा और वित्त मंत्री सीतारमण द्वारा पेश बजट लोगों की उम्मीदों के प्रतिकूल रहा है। उन्होंने कहा कि देश में तीन बजट को परिवर्तनकारी माना जाता है। 

कर्नाटक के सियासी घटनाक्रम पर लोकसभा में हंगामा, राहुल ने लगाए 'वी वांट जस्टिस' के नारे

पहला ऐसा बजट 1991 में तत्कालीन वित्त मंत्री मनमोहन सिंह द्वारा पेश किया गया जिसने भारत की अर्थव्यस्था की दशा और दिशा बदल दी। कौर ने कहा कि इसके बाद 1997 में पी चिदंबरम ने ड्रीम बजट पेश किया और फिर 2004 में संप्रग सरकार का पहला बजट आया। इन दोनों बजट ने भारतीय अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में बड़ी भूमिका निभाई। 

पटियाला से कांग्रेस सांसद ने कहा कि गठबंधन की सरकारों में भारत की अर्थव्यवस्था का सुनहरा दौर रहा। उन्होंने कहा कि प्रचंड बहुमत होने के बावजूद मोदी सरकार का यह बजट लोगों की आशाओं और अकांक्षाओं के विपरीत रहा है। तेलंगाना राष्ट्र समिति के नामा नागेश्वर राव ने कहा कि तेलंगाना राज्य ने सबसे पहले ‘हर घर जल’ योजना की शुरूआत की थी। अब केंद्र सरकार भी ऐसी योजना लाई है। 

उन्होंने कहा कि बजट में दक्षिणी राज्यों के लिए उम्मीद के मुताबिक प्रावधान नहीं किए गए जबकि हमें वित्त मंत्री सीतारमण से अपने राज्य के लिए अधिक बजट की उम्मीद थी जो तमिलनाडु की बेटी और आंध्र प्रदेश की बहू हैं। बीजेपी के विनोद सोनकर ने कहा कि विपक्ष के लोग अनुसूचित जाति और जनजाति के बजट में कमी के आरोप लगा रहे हैं, जो गलत हैं। 

उन्होंने नौकरी में आउटसोर्सिंग के मुद्दे पर सरकार का ध्यान आकर्षित करते हुए राष्ट्रीय नीति बनाने की मांग की ताकि रोजगार के संबंध में युवाओं के सामने आ रहे संकट को खत्म किया जा सके। सोनकर ने आकांक्षी जिलों की तर्ज पर उद्योग विहीन जिले चिह्नित करने की भी मांग की। लोक जनशक्ति पार्टी के रामचंद्र पासवान ने कहा कि कोई वर्ग नहीं है जो बजट पर केंद्र सरकार की सराहना नहीं कर रहा हो। गरीब सोचते हैं कि यह सरकार उनके बारे में सोच रही है।

बीजेपी के नंद कुमार सिंह चौहान ने कहा कि यह बजट देश की ऊंचाई पर ले जाने वाला है और फिर से साबित हो गया है कि नरेंद्र मोदी सरकार गांव, गरीब और किसानों की सरकार है। बीजेपी की ही सुनीता दुग्गल ने कहा कि यह बजट देश को नयी दिशा देने वाला है और इसमें गरीबों को विशेष ध्यान रखा गया है।