BREAKING NEWS

आज का राशिफल (26 सितम्बर 2020)◾बिहार चुनाव में NDA को जीत का अनुमान : सर्वे ◾बिहार विधानसभा चुनाव में NDA ने सेट किया तीन चौथाई बहुमत का टारगेट◾UN में भाषण के दौरान पाक PM इमरान खान ने RSS और कश्मीर का मुद्दा उठाया, भारत ने किया बायकॉट◾CSK vs DC (IPL 2020) : दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स को 44 रन से हराया◾UP में विधानसभा उपचुनाव के लिये राजनीतिक दलों ने कसी कमर◾नहीं थम रहा महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट, संक्रमितों का आंकड़ा 13 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 17,794 नए केस◾IPL-13: पृथ्वी शॉ का तूफानी अर्धशतक, दिल्ली ने चेन्नई के सामने रखा 176 रनों का लक्ष्य◾कोविड-19 : हर्षवर्धन ने बोले- देश की स्वास्थ्य सेवा से मृत्यु दर न्यूनतम और ठीक होने की दर अधिकतम रही◾राहुल गांधी ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- सरकार पर रत्ती भर भी भरोसा नहीं ◾IPL 2020 CSK vs DC: चेन्नई सुपर किंग्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का किया फैसला◾यस बैंक केस : ED ने राणा कपूर की लंदन में स्थित 127 करोड़ की संपत्ति को किया जब्त◾बिहार चुनाव घमासान : महागठबंधन में बदले 'निजाम', सीटों के बंटवारे को लेकर NDA में तकरार ◾भारत की कोई मांग नहीं होगी स्वीकार, कुलभूषण की किस्मत पाकिस्तानी अदालतों के हाथों में : पाक ◾मशहूर गायक एसपी बालासुब्रमण्यम का निधन, महेश बाबू, एआर रहमान व लता मंगेशकर ने व्यक्त किया दुःख ◾कोरोना के साये में कुछ ऐसा होगा बिहार चुनाव, कोविड-19 रोगियों के लिए विशेष प्रोटोकॉल हुआ तैयार◾बिहार में तीन चरणों में होगा विधानसभा चुनाव, 10 नवंबर को होगा नतीजे का ऐलान : चुनाव आयोग ◾कृषि बिल पर विपक्ष बोल रहा है झूठ, किसानों के कंधे पर रखकर चला रहे हैं बंदूक : पीएम मोदी ◾पीएम मोदी , अमित शाह और जेपी नड्डा ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय को जयंती पर किया नमन◾कृषि बिल को लेकर राहुल और प्रियंका का केंद्र पर वार- नए कानून किसानों को गुलाम बनाएंगे ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सुरक्षा मामलों की कैबिनेट समिति ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के सृजन को मंजूरी दी

सुरक्षा मामलों पर मंत्रिमंडलीय समिति ने मंगलवार को ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए चीफ आफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) के सृजन मंजूरी प्रदान कर दी जो तीनों सेनाओं से संबंधित सभी मामलों के लिये रक्षा मंत्री के एकल सैन्य सलाहकार के तौर पर काम करेगा ।

आधिकारिक सूत्रों ने इस आशय की जानकारी दी । सीडीएस चार स्टार जनरल के रैंक का अधिकारी होगा।

 

सरकार ने रक्षा मंत्रालय के तहत सैन्य मामलों का नया विभाग भी बनाने का निर्णय किया है और चीफ आफ डिफेंस स्टाफ सैन्य मामलों के विभाग के प्रमुख होंगे और वह इसके सचिव के रूप में काम करेंगे। 

1999 में करगिल समीक्षा समिति ने सरकार को एकल सैन्य सलाहकार के तौर पर चीफ आफ डिफेंस स्टाफ के सृजन का सुझाव दिया था । 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई । 

अधिकारियों ने बताया कि सीडीएस का मुख्य कार्य संसाधनों के बेहतर इस्तेमाल के लिए सैन्य कमानों का पुनर्गठन करना, साथ ही संयुक्त थियेटर कमान के गठन के माध्यम से अभियानों को संयुक्त रूप से चलाना होगा। 

उन्होंने कहा कि तीन वर्षों के अंदर तीनों सेनाओं के अभियानों, साजो-सामान, परिवहन, प्रशिक्षण, सहायक सेवाओं, संचार, देखभाल और मरम्मत को संयुक्त करना सीडीएस का प्रमुख कार्य होगा। दुनिया की सभी बड़ी शक्तियों की सेनाओं में यह पद है। 

रक्षा मंत्रालय ने बताया कि साइबर और अंतरिक्ष से जुड़े तीनों सेनाओं की एजेंसियों, संगठनों और कमान सीडीएस के तहत आएंगे और वह नाभिकीय कमान प्राधिकरण के सैन्य सलाहकार के तौर पर भी काम करेंगे। 

सीडीएस रक्षा मंत्री की अध्यक्षता वाले रक्षा अधिग्रहण परिषद् और एनएसए की अध्यक्षता वाली रक्षा योजना समिति के भी सदस्य होंगे। 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, ‘‘सशस्त्र बलों के बीच संयोजन लाने में सीडीएस का सृजन करने का निर्णय बड़ा कदम है।’’ 

बैठक के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने संवाददाताओं से कहा कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ, सैन्य मामलों के प्रमुख होंगे और वह चार स्टार जनरल होंगे । उनका वेतन सेना प्रमुख के समान होगा । 

सूत्रों ने बताया कि सुरक्षा मामलों पर मंत्रिमंडल की समिति ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के नेतृत्व वाली उच्च स्तरीय समिति की रिपोर्ट को मंजूरी दे दी । इस समिति ने सीडीएस की जिम्मेदारियों और ढांचे को अंतिम रूप दिया था। 

रक्षा मंत्रालय ने कहा, ‘‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ सैन्य मामलों के विभाग के प्रमुख के अलावा चीफ्स ऑफ स्टाफ कमिटी के स्थायी अध्यक्ष भी होंगे।’’ 

चीफ्स ऑफ स्टाफ कमिटी में तीनों सेनाओं के प्रमुख होते हैं और उनसे से सबसे वरिष्ठ व्यक्ति इसके अध्यक्ष के रूप में काम करते हैं। 

मंत्रालय ने कहा, ‘‘तीनों सेना प्रमुख अपनी सेना से जुड़े मामलों पर रक्षा मंत्री को सलाह देते रहेंगे। सीडीएस किसी सैन्य कमान में नहीं होंगे ताकि राजनीतिक नेतृत्व को निष्पक्ष सलाह देते रहें।’’ 

इसने कहा कि सीडीएस के नेतृत्व वाले सैन्य मामलों का विभाग थल सेना, नौसेना और भारतीय वायुसेना सहित कई क्षेत्रों को देखेगा। साथ ही वह रक्षा मंत्रालय के समन्वित मुख्यालय को भी देखेगा। 

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त को घोषणा की थी कि भारत में तीनों सेना के प्रमुख के रूप में सीडीएस होगा। 

समझा जाता है कि सरकार अगले कुछ दिनों में पहले सीडीएस की नियुक्ति कर सकती है और सेना प्रमुख विपिन रावत का नाम इस पद के लिये सबसे आगे बताया जा रहा है जो 31 दिसंबर को सेना से सेवानिवृत हो रहे हैं । 

अधिकारियों ने बताया कि सीडीएस अन्य सेना प्रमुखों के समान ही होंगे हालांकि प्रोटोकाल की सूची में सीडीएस, सेना प्रमुखों से ऊपर होंगे ।