BREAKING NEWS

जम्मू-कश्मीर : आतंकियों के निशाने पर घाटी, राजौरी में डिफ्यूज किया गया IED◾कौन होगा JDU का नया अध्यक्ष? दिल्ली में आज की बैठक में नीतीश कुमार ले सकते हैं बड़ा फैसला◾टेरर फंडिंग और आतंक के मामले में प्रशासन सख्त, शोपियां में कई ठिकानों पर NIA ने मारा छापा◾पुलवामा एनकाउंटर में 2 आतंकी ढेर, सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई में मारे गए दहशतगर्द◾देश में नहीं थम रहा कोरोना का आतंक, पिछले 24 घंटे में हुई 41,649 नए मामलों की पुष्टि ◾Tokyo Olympics: फाइनल में पहुंचने वाली दूसरी भारतीय बनीं कमलप्रीत, डिस्कस थ्रो में किया धमाकेदार प्रदर्शन ◾World Corona Update : विश्व में कोरोना मामलों की संख्या हुई 19.72 करोड़, करीब 42 लाख लोगों ने गंवाई जान ◾PM मोदी आईपीएस प्रशिक्षुओं से आज करेंगे संवाद◾दिल्ली विधानसभा ने डॉक्टरों को भारत रत्न देने की केंद्र से अपील करते हुए पारित किया प्रस्ताव◾राजस्थान में कांग्रेस की चुनाव घोषणापत्र समिति की दूसरी बैठक शनिवार को◾कर्नाटक के CM बोम्मई ने अमित शाह और अन्य कई केंद्रीय मंत्रियों से की मुलाकात, कैबिनेट विस्तार पर की चर्चा◾कोरोना संकट : झारखंड सरकार ने दी बड़ी राहत, 9वीं के ऊपर के स्कूल-कॉलेज खुलेंगे, इंटर स्टेट बसें भी चलेंगी◾ED मामले में दंडात्मक कार्रवाई से संरक्षण के लिए पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख की याचिका पर 3 अगस्त को सुनवाई◾मिजोरम-असम सीमा संघर्ष : 'भड़काऊ' टिप्पणियों के लिये असम पुलिस ने मिजोरम के सांसद को किया तलब ◾एलएसी गतिरोध को सुलझाने के लिए कल 12वें दौर की सैन्य स्तरीय वार्ता करेंगे भारत और चीन ◾प्रियंका का तंज - पीएम मोदी और सीएम योगी ने उप्र को कुपोषण में नंबर एक बना दिया◾पान मसाला मेकर ग्रुप के कानपुर सहित 31 ठिकानों पर इनकम टैक्स का छापा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का खुलासा◾राजस्थान के गंगानगर में किसानों ने भाजपा नेता से की हाथापाई, कपड़े फाड़े ◾पाकिस्तान में पेशावर में भारी बारिश से राज कपूर और दिलीप कुमार के पुश्तैनी मकानों को नुकसान पहुंचा ◾हर दो महीने पर दिल्ली में दौरा करेंगी ममता बनर्जी, कहा- 'लोकतंत्र बचाओ देश बचाओ' है हमारा नारा ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

ऑक्सीजन संकट को लेकर प्रियंका के निशाने पर केंद्र, कहा- सरकार की लापरवाही है लोगों की मौतों की वजह

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी के लिए केंद्र सरकार की ‘लापरवाही’ को जिम्मेदार ठहराते हुए शनिवार को कहा कि अगर केंद्र ने पहली एवं दूसरी लहर के बीच मिले समय में योजनाबद्ध ढंग से तैयारी की होती तो इस संकट को टाला जा सकता था। सरकार से प्रश्न पूछने की अपनी श्रृंखला ‘जिम्मेदार कौन’ के तहत उन्होंने फेसबुक पोस्ट के जरिए यह सवाल किया कि केंद्र ने महामारी वाले साल 2020 में ऑक्सीजन का निर्यात 700 प्रतिशत तक क्यों बढ़ा दिया?

उन्होंने यह भी पूछा कि मोदी सरकार ने अपने ही विशेषाधिकार प्राप्त समूह की ऑक्सीजन संकट की सलाह को दरकिनार क्यों किया? कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने कहा,‘‘महामारी की मार के पहले तक ऑक्सीजन को प्राथमिक रूप से औद्योगिक उद्देश्य के लिए इस्तेमाल किया जाता था, इसलिए भारत के पास ऑक्सीजन ट्रांसपोर्ट में इस्तेमाल होने वाले विशेष रूप से बनाये गए क्रायोजेनिक टैंकरों की संख्या 1200- 600 थी। कोरोना की पहली लहर एवं दूसरी लहर के बीच मोदी सरकार ने इन टैंकरों की संख्या बढ़ाने का कोई प्रयास नहीं किया।’’

उन्होंने दावा किया, ‘‘भारत ऑक्सीजन का सबसे बड़ा ऑक्सीजन उत्पादक देश है, लेकिन केंद्र सरकार की लापरवाही के चलते कोरोना की दूसरी लहर के समय ऑक्सीजन संकट खड़ा हुआ और लोगों की जानें गईं। केंद्र सरकार ने 150 ऑक्सीजन संयंत्र चालू करने के लिए बोली लगाई थी, लेकिन उनमें से ज्यादातर संयंत्र अभी भी चालू नहीं हो सके हैं।’’

प्रियंका ने यह आरोप भी लगाया, ‘‘इस संकट काल में भी मोदी सरकार ने लोगों की जेब काटने में कोई कसर नहीं छोड़ी। संसद की स्वास्थ्य मामलों की स्थाई समिति ने सरकार को पहले ही सुझाया था कि केंद्र सरकार को ऑक्सीजन सिलेंडर के दाम नियंत्रित करने के प्रयास करने होंगे, लेकिन ऑक्सीजन सिलेंडर की कीमत पिछले साल 4000 रू थी वहीँ एक साल में बढ़कर 7000 रू हो गई।’’ उन्होंने कहा,‘‘पिछले एक साल दौरान केंद्र सरकार ने कोरोना पर विजय घोषित की, संसद के अंदर मंत्रियों ने इस विजय के लिए प्रधानमंत्री का स्तुतिगान भी किया। देश के वैज्ञानिकों, विशेषज्ञों से चेतावनी के बावजूद केंद्र ने दूसरी लहर के खतरे को अनदेखा किया।’’