BREAKING NEWS

राउत और उद्धव ने बाला साहेब को दी श्रद्धांजलि, फडणवीस ने ट्वीट कर लिखा-स्वाभिमान की मिली सीख◾बैंकॉक में अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर और राजनाथ सिंह के बीच हुई द्विपक्षीय बैठक◾दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में हुआ सुधार, नोएडा और गुरुग्राम में स्थिति फिलहाल गंभीर◾दिल्ली : ITO में लगे BJP सांसद गौतम गंभीर के लापता होने के पोस्टर◾वसीम रिजवी बोले- बगदादी और ओवैसी में कोई अंतर नहीं◾अयोध्या पर AIMPLB की बैठक आज, इकबाल अंसारी करेंगे बहिष्कार◾झारखंड विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने रांची में भाजपा से मुकाबला करने के लिए झामुमो को किया आगे◾महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने बैंकाक पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ◾किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है भाजपा सरकार : अखिलेश◾उत्तरी कश्मीर में पांच संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार ◾‘शिवसेना राजग की बैठक में भाग नहीं लेगी’ ◾TOP 20 NEWS 16 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामलीला मैदान में मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ के खिलाफ विपक्ष करेगी बड़ी रैली ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : भाजपा ने तीन उम्मीदवारों की चौथी सूची की जारी◾

देश

चिदंबरम बोले- अभिजीत बनर्जी के बयान पर सरकार को अपराध बोध नहीं हुआ

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने पी चिदंबरम ने बुधवार को दावा किया कि नोबेल पुरस्कार के लिए चयनित अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी के इस बयान पर भी नरेंद्र मोदी सरकार को कोई अपराधबोध नहीं हुआ कि भारतीय अर्थव्यवस्था खराब स्थिति में है। 

आईएनएक्स मीडिया मामले में गिरफ्तार चिदंबरम की तरफ से उनके परिवार ने ट्वीट किया। उन्होंने कहा, ''जब नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था खराब स्थिति में है तो ऐसा लगता है कि सरकार को कोई अपराध बोध ही नहीं हुआ।'' 

चिदंबरम ने दावा किया, ''शहरी एवं ग्रामीण भारत का प्रति व्यक्ति उपभोग घट गया है। मतलब यह है कि गरीब लोग कम उपभोग कर रहे हैं। इसके साथ ही भारत वैश्विक भूख सूचकांक के मामले में 102वें पायदान पर पहुंच गया है। इसका मतलब यह है कि भूख की स्थिति गंभीर है। ''