BREAKING NEWS

शिवसेना ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- एनडीए की अनुमति ली थी क्या? ◾संजय राउत का शायराना ट्वीट- 'अगर जिंदगी में कुछ पाना हो तो तरीके बदलो इरादे नहीं'◾सरहदों की निगरानी के लिए ISRO लॉन्च करेगा कार्टोसैट-3, दुश्मन देशों की हरकतों पर रहेगी नजर ◾जलियांवाला बाग राष्ट्रीय स्मारक संशोधन विधेयक राज्यसभा में आज होगा पेश◾JNU छात्र आज फिर उतर सकते है सड़को पर, प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे स्टूडेंट ◾1 दिसंबर से ग्राहकों की जेब पर बढ़ेगा बोझ, ये दूरसंचार कंपनियां बढ़ाएंगी मोबाइल सेवाओं की दरें◾इंदिरा गांधी की जयंती पर PM मोदी, सोनिया, मनमोहन और प्रणब मुखर्जी ने दी श्रद्धांजलि◾महाराष्ट्र : महीनेभर बाद भी एक ही सवाल, कब और कैसे बनेगी सरकार? ◾झारखंड के चुनाव परिणाम बिहार राजग पर डालेंगे असर! ◾ खट्टर ने स्थानीय युवाओं को नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक न लाने के संकेत दिए ◾सबरीमला में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़, 2 महिलायें वापस भेजी गयी ◾जेएनयू छात्रसंघ पदाधिकारियों का दावा, एचआरडी मंत्रालय के अधिकारी ने दिया समिति से मुलाकात का आश्वासन ◾प्रियंका गांधी ने इलेक्टोरल बांड को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾TOP 20 NEWS 18 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पवार बोले- किसी के साथ सरकार बनाने पर चर्चा नहीं◾INX मीडिया धनशोधन मामला : चिदंबरम ने जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को न्यायालय में दी चुनौती ◾मनमोहन सिंह ने कहा- राज्य की सीमाओं के पुनर्निधार्रण में राज्यसभा की अधिक भूमिका होनी चाहिए◾'खराब पानी' को लेकर पासवान का केजरीवाल पर पटलवार, कहा- सरकार इस मुद्दे पर राजनीति नहीं करना चाहती◾संसद का शीतकालीन सत्र : राज्यसभा के 250वें सत्र पर PM मोदी का संबोधन, कहा-इसमें शामिल होना मेरा सौभाग्य◾बीजेपी बताए कि उसे चुनावी बॉन्ड के जरिए कितने हजार करोड़ रुपये का चंदा मिला : कांग्रेस ◾

देश

कांग्रेस से सतर्क रहे देश, ये बल ही नहीं छल भी अपनाती है : नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधते हुए देश के लोगों को आगाह किया कि ये अपने काम निकालने के लिए बल ही नहीं छल भी अपनाती है। श्री मोदी ने रविवार को अंदावा में जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस पार्टी (कांगेस) ने हमेशा न्यायपालिका और संस्था से खुद को ऊपर माना है, इसलिए युवाओं को सतर्क रहने की जरुरत है। इस पार्टी की कार्य संस्कृति ‘‘अगर सत्ता में है तो ‘‘लटकाना और सत्ता से बाहर हैं तो धमकाना’’ की रही है। उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस की सामंती सोच है, जो झुकता नहीं उसे तोड़ने की कोशिश की जाती है। न्यायपालिका की प्रतिष्ठा को समाप्त करने के लिए ये पार्टी बल ही नहीं बल्कि छल का भी प्रयोग करती रही है। उन्होंने कहा कि सुरक्षाबलों का अपमान करने के लिए देश कभी भी कांग्रेस को माफ नहीं करेगा।

श्री मोदी ने कहा कि प्रयागराज तप, तपस्या और संस्कार की धरती है। यहां आने से एक उन्हें नई ऊर्जा मिलती है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहली बार देश के प्रधानमंत्री गंगा पूजन करने के लिए प्रयाग की धरती पर पधारे हैं। भारत की सनातन आस्था का इससे बडा सदमार्ग नहीं हो सकता कि प्रधानमंत्री ने गंगा पूजन करके देश के अन्दर सनातन धर्म के अखाड़ और संतो की मर्यादा का सम्मान किया है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के बाद पहली बार कोई प्रधानमंत्री किले के अन्दर जा करके अक्षय वट का दर्शन कर पूरे श्रद्धालुओं को खोलने के लिए समर्पित किए हैं। हम सब के लिए प्रयागराज कुम्भ अत्यंत महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि दुनिया के 70 देशों के राजदूतों ने कुम्भ क्षेत्र का दौरा किया। यह कार्य पहली बार हजारों वर्षों के प्रयत्न से हो रहा है जब दुनिया के सबसे बड़ धर्मिक आयोजन के संगम का दर्शन करके दुनिया में राष्ट्रीय संस्कृति के पूरे अवधान को पूरा करने के लिए स्वयं प्रयागराज की धरती पर पधारे हैं। अब तक जो भी कार्य हुए हैं, प्रधानमंत्री की परिकल्पना, यूनेस्को की ओर से भारत के कुंभ मेले को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर के रूप में मान्यता मिली है इसलिए प्रधानमंत्री का हृदय से अभिनन्दन करता हूं कि उन्होंने भारत की गरिमाको बढाने का कार्य किया है।

उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य ने कहा कि ‘‘आप लोगों ने 2014 में भाजपा का हाथ मजबूत कर श्री मोदी को प्रधानमंत्री बनाया है, उसी प्रकार पुन: 2019 में भाजपा को भारी बहुमत से विजयी बनाकर देश की बागड़र श्री मोदी के हाथों में सौंपने का कार्य करें जिससे देश विकास के कार्य और तेजी से हो सके। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि हाल ही में हुए चुनाव में कांग्रेस तीन राज्यों में जीत हासिल करने के बाद भाषा की मर्यादा भूल गयी है।

भाजपा झूठ की नहीं विकास की राजनीति करती है जिसका परिणाम है कि दुनिया के 70देशों के राजदूत यहां पहली बार कुम्भ की तैयारी का अवलोकन करने आये। इससे पहले भी कुम्भ का आयोजन हुए, कितनी बार इतनी बड़ संख्या में विदेशी मेहमान प्रयाग की धरती आये हैँ। उन्होंने कहा कि ‘आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख परिवार को एक करोड़ 18 लाख स्वास्थ्य बीमा के रूप में लाभ मिल रहे हैं इसको कहते हैं ‘‘ सब का साथ- सब का विकास।