कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि लोकसभा चुनाव के लिये पार्टी को किसी भी राज्य में गठबंधन करने में कोई दिक्कत नहीं है और मामूली मतभेदों को दूर कर लिया जाएगा।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ ने यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि मूल मकसद लोगों के पक्ष में शासन व्यवस्था को चलाना है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्रमोदी का उल्लेख करते हुए कहा कि कांग्रेस का अन्य दलों के साथ गठबंधन किसी व्यक्ति के खिलाफ नहीं बल्कि भारत के लोगों के लिये हैं।

शनिवार को लोकसभा उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर सकती है बीजेपी

उन्होंने कहा कि बिहार समेत किसी भी राज्य में कांग्रेस को चुनावी गठबंधन करने में कोई दिक्कत नहीं है। इसके बावजूद अगर कोई मतभेद या परेशानी है तो उसे दूर कर लिया जाएगा।

पार्टी महासचिव प्रियंका वाड्रा की भीम सेना के प्रमुख चन्द्र शेखर आजाद की मुलाकात के संबंध में उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा से स्वतंत्र आवाज के पक्ष में हैं और जहां कहीं भी लोगों की आवाज को दबाया जाएगा तो पार्टी वहां रहेगी।

कांग्रेस के कई नेताओं के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने पर कहा कि श्री मोदी ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ बनाने चले थे लेकिन अब ‘कांग्रेस युक्त भाजपा’ बन रही है।