BREAKING NEWS

योगी सरकार को प्रियंका गांधी से डर क्यों लगता है : सुरजेवाला ◾नवजोत सिंह सिद्धू के पूर्व विभाग से महत्वपूर्ण फाइलें गायब◾प्रियंका गांधी ने गेस्ट हाउस में बिताई रात, प्रशासन से दूसरे दौर की बातचीत भी नाकाम◾चंद्रकांत पाटिल का दावा : चुनाव से पहले विपक्ष के कई नेता BJP होंगे शामिल◾एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग का सफल परीक्षण◾सोनभद्र जाने पर अड़ीं प्रियंका गांधी ,जमानत लेने से किया इनकार, बोलीं- जेल जाने को तैयार हूं◾योगी सरकार ने की प्रियंका की ‘गैरकानूनी गिरफ्तारी’, राज्य सरकार में अपराधियों को संरक्षण : कांग्रेस ◾जारी रहेगी MS Dhoni की धूम, मैनेजर बोले - माही की अभी संन्यास लेने की कोई योजना नहीं◾कर्नाटक : विधानसभा विश्वास प्रस्ताव पर मतदान के बिना सोमवार तक स्थगित ◾रॉबर्ट वाड्रा ने BJP सरकार की आलोचना की ,कहा - लोकतंत्र को तानाशाही में न बदलें◾सोनभद्र गोलीकांड : प्रियंका गांधी हिरासत में, कई जगह कांग्रेस का प्रदर्शन ◾किसी विधायक ने मुझसे सुरक्षा नहीं मांगी है : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष◾कर्नाटक में जारी सत्ता का संघर्ष एक बार फिर शीर्ष अदालत की चौखट पर◾Sensex में साल की दूसरी बड़ी गिरावट, निवेशकों ने दो दिन में गंवाये 3.79 लाख करोड़ रुपये ◾ कुमारस्वामी ने स्पीकर से फ्लोर टेस्ट की डेट सोमवार तक बढ़ाने की अपील की , भाजपा बोली- हम तैयार नहीं◾Top 20 News 19 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾चुनाव याचिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नोटिस जारी ◾BJP विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए आतुर है, क्योंकि वह विधायकों को खरीद चुकी : सिद्धारमैया ◾सोनभद्र में पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को रोका, धरने पर बैठीं◾प्रियंका की गैरकानूनी गिरफ्तारी भाजपा सरकार की बढ़ती असुरक्षा का संकेत: राहुल गांधी ◾

देश

कांग्रेस ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- बेटियों की सुरक्षा पर सरकार संवेदनहीन

बच्चियों से दुष्कर्म की घटनाओं में बढ़ोतरी का उच्चतम न्यायालय द्वारा संज्ञान लेने के बाद कांग्रेस ने शनिवार को आरोप लगाया कि भाजपा सरकार बेटियों की सुरक्षा पर संवेदनहीन हो चुकी है और ''बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ'' अभियान सिर्फ खोखला नारा साबित हुआ है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह आरोप भी लगाया कि केंद्र सरकार की उदासीनता के कारण शीर्ष अदालत को स्वतः संज्ञान लेना पड़ा। 

गोवा के CM प्रमोद सावंत ने मंत्रिमंडल से चार मंत्रियों को हटाया

उन्होंने एक बयान में कहा, ''भाजपा सरकार की पूरी संवेदनहीनता और उदासीनता के कारण उच्चतम न्यायालय को पिछले छह महीनों में 24000 से अधिक बच्चियों से दुष्कर्म होने का स्वतः संज्ञान लेना पड़ा।'' सुरजेवाला ने कहा, ''भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा 3457 मामले सामने आए और इनमें से सिर्फ 22 का निस्तारण हुआ।उन्होंने आरोप लगाया कि ''बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ'' अभियान सिर्फ खोखला नारा साबित हुआ है। 

राष्ट्रीय सुरक्षा से हुआ समझौता, घुसपैठ का मुद्दा चीन के साथ उठाए सरकार : कांग्रेस

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने बच्चों से दुष्कर्म के मामलों में “चिंताजनक बढ़ोतरी” पर शुक्रवार को स्वत: संज्ञान लिया और कहा कि वह ऐसे कृत्यों के खिलाफ “ठोस” और “स्पष्ट” राष्ट्रीय प्रतिक्रिया सुनिश्चित करने के लिये निर्देश जारी करेगा। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि उसने समाचार पत्रों और पोर्टल्स में बच्चों से दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं की खबरों पर “स्वत:” संज्ञान लेने का फैसला लिया है। 

खबरों में उच्चतम न्यायालय की रजिस्ट्री का हवाला देते हुए बताया गया है कि इस साल जनवरी से 30 जून के बीच देश भर में बच्चियों से दुष्कर्म के 24212 मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें 11981 मामलों में जांच जारी है, जबकि 12231 मामलों में आरोपपत्र दायर हो चुका है। बच्चियों के साथ दुष्कर्म की घटनाओं में उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर है।