BREAKING NEWS

योगी सरकार को प्रियंका गांधी से डर क्यों लगता है : सुरजेवाला ◾नवजोत सिंह सिद्धू के पूर्व विभाग से महत्वपूर्ण फाइलें गायब◾प्रियंका गांधी ने गेस्ट हाउस में बिताई रात, प्रशासन से दूसरे दौर की बातचीत भी नाकाम◾चंद्रकांत पाटिल का दावा : चुनाव से पहले विपक्ष के कई नेता BJP होंगे शामिल◾एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग का सफल परीक्षण◾सोनभद्र जाने पर अड़ीं प्रियंका गांधी ,जमानत लेने से किया इनकार, बोलीं- जेल जाने को तैयार हूं◾योगी सरकार ने की प्रियंका की ‘गैरकानूनी गिरफ्तारी’, राज्य सरकार में अपराधियों को संरक्षण : कांग्रेस ◾जारी रहेगी MS Dhoni की धूम, मैनेजर बोले - माही की अभी संन्यास लेने की कोई योजना नहीं◾कर्नाटक : विधानसभा विश्वास प्रस्ताव पर मतदान के बिना सोमवार तक स्थगित ◾रॉबर्ट वाड्रा ने BJP सरकार की आलोचना की ,कहा - लोकतंत्र को तानाशाही में न बदलें◾सोनभद्र गोलीकांड : प्रियंका गांधी हिरासत में, कई जगह कांग्रेस का प्रदर्शन ◾किसी विधायक ने मुझसे सुरक्षा नहीं मांगी है : कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष◾कर्नाटक में जारी सत्ता का संघर्ष एक बार फिर शीर्ष अदालत की चौखट पर◾Sensex में साल की दूसरी बड़ी गिरावट, निवेशकों ने दो दिन में गंवाये 3.79 लाख करोड़ रुपये ◾ कुमारस्वामी ने स्पीकर से फ्लोर टेस्ट की डेट सोमवार तक बढ़ाने की अपील की , भाजपा बोली- हम तैयार नहीं◾Top 20 News 19 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾चुनाव याचिका पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नोटिस जारी ◾BJP विश्वास प्रस्ताव पर मत-विभाजन के लिए आतुर है, क्योंकि वह विधायकों को खरीद चुकी : सिद्धारमैया ◾सोनभद्र में पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को रोका, धरने पर बैठीं◾प्रियंका की गैरकानूनी गिरफ्तारी भाजपा सरकार की बढ़ती असुरक्षा का संकेत: राहुल गांधी ◾

देश

कर्नाटक : कांग्रेस के निलंबित विधायक रोशन बेग ने दिया इस्तीफा

कर्नाटक की JSD-कांग्रेस सरकार में लगातार कु कर्नाटक सियासी विवाद को लेकर राज्यसभा में विपक्ष का हंगामा, कार्यवाही 2 बजे तक के लिए स्थगित छ दिनों से जारी उठापटक से सियासी गरियारे में हलचल मची हुई है। कर्नाटक सरकार में इस्तीफा का दौर लगातार जारी है। कांग्रेस के निलंबित विधायक रोशन बेग ने कर्नाटक विधानसभा से इस्तीफा देकर सरकार को बड़ा झटका दिया है। 

इस मामले में कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर के. रमेश कुमार आज उन 13 विधायकों के इस्तीफे को लेकर फैसला लेना है। अगर इस्तीफा मंजूर कर लिया जाता है तो कुमारस्वामी सरकार के लिए परेशानियां बढ़ सकती है। बेग ने कहा, ‘‘ मैं मुंबई या दिल्ली नहीं जा रहा हूं। 

राज्य के हज समिति का अध्यक्ष होने के नाते मैं हज यात्रियों के यात्रा प्रबंधन को देखने हवाईअड्डा जा रहा हूं।’’ पार्टी सहयोगियों से बातचीत के प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा कि उनके सहयोगियों ने उन्हें ‘हेल्लो बोला’। विधायक को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में कांग्रेस से निलंबित कर दिया गया था क्योंकि वह पार्टी नेताओं के खिलाफ आवाज उठा रहे थे। 

कांग्रेस के पूर्व सरकार में मंत्री रह चुके बेग ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के खराब प्रदर्शन के लिए पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया, कांग्रेस महासचिव के. सी. वेणुगोपाल और कर्नाटक के कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुंडु राव को जिम्मेदार ठहराया। विभिन्न मुद्दों पर कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी सदस्यों के हंगामे के कारण मंगलवार को राज्यसभा की बैठक 2 बार के स्थगन के बाद दोपहर करीब 2 बजे पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई है। 

कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहाम इस बार न केवल बीजेपी की राज्य इकाई बल्कि राष्ट्रीय स्तर के नेता जैसे अमित शाह और पीएम मोदी भी शामिल हैं। उनके निर्देश पर सरकार को अस्थिर करने के प्रयास किए गए हैं। यह लोकतंत्र और लोगों के जनादेश के खिलाफ है। वे पैसे, पद, मंत्रियों की पेशकश कर रहे हैं। 


कर्नाटक कांग्रेस अपनी पार्टी विरोधी गतिविधि के लिए सदस्यों की अयोग्यता की मांग कर रही है। उन्होंने बीजेपी से समझौता किया। मैं उनसे वापस आने और अपना इस्तीफा वापस लेने का अनुरोध करता हूं। हमने उन्हें अयोग्य घोषित करने के लिए याचिका दायर करने और उन्हें इस्तीफा स्वीकार नहीं करने का अनुरोध करने से पहले याचिका दायर करने का फैसला किया है। 

उन्होने कहा, हम अध्यक्ष से भी विरोधी दलबदल कानून के तहत कानूनी कार्रवाई करने का अनुरोध कर रहे हैं। हम अपने पत्र में उनसे अनुरोध कर रहे हैं कि वे न केवल उन्हें अयोग्य घोषित करें बल्कि उन्हें 6 साल के लिए चुनाव लड़ने से भी रोकें।

- राजनीतिक स्थिति को लेकर सदन में विपक्ष के हंगामे के बाद राज्यसभा को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

- बेंगलुरु में यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने कब्बन पार्क से राजभवन तक मार्च निकाला।

- कांग्रेस नेता एमटीबी नागराज ने स्वास्थ्य ठीक न होने के कारण आज कांग्रेस सीएलपी की बैठक में भाग नहीं लिया हैं।


- कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कह रहे हैं कि उनकी पार्टी का इसमें कोई लेना देना नहीं है, यही बात येदियुरप्पा कह रहे हैं। लेकिन वो साथ में अपने पीए को मंत्री को लेने भी भेज रहे हैं।

वहीं कांग्रेस के सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कर्नाटक में राजनीतिक स्थिति पर लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है। बेंगलुरु में  में कांग्रेस की सीएलपी बैठक चल रही है। 


इस पूरे घटनाक्रम को देखते हुए लगतार बैठकों का दौर जारी है। पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के घर पार्टी नेता पहुंचने शुरू हो गए हैं। 


इस बैठक में राज्य के ताजा हालात पर चर्चा हो सकती है। राज्य के डिप्टी सीएम जी. परमेश्वर भी इस बैठक में पहुंच गए हैं। बीजेपी नेता शोभा करंदलजे ने कहा, अब हमारी ताकत कांग्रेस-JDS के विधायकों से ज्यादा है। हम लगभग 107 हैं, और उनकी संख्या अब 103 तक रह गई  हैं। मुझे लगता है कि राज्यपाल बीजेपी को सरकार बनाने के लिए बुला सकते हैं।कांग्रेस सांसद बीके हरिप्रसाद ने कर्नाटक में वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर नियम 267 के तहत राज्यसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है। वहीं बेंगलुरु में कांग्रेस की सीएलपी बैठक चल रही है।

कर्नाटक के 14 विधायक मुंबई से पुणे ले जाये गये, विशेष विमान से गोवा पहुंचने की संभावना 

सोमवार की शाम को मुंबई से गोवा के लिए रवाना हुए कर्नाटक के सत्तारूढ़ कांग्रेस-जदएस गठबंधन के 14 विधायकों को पुणे ले जाया गया और ऐसी संभावना है कि मंगलवार को विशेष विमान से वे तटीय राज्य पहुंचेंगे। सूत्रों ने यह जानकारी दी। 

सूत्रों के अनुसार कांग्रेस के दस, JSD के दो विधायकों और दो निर्दलीय विधायकों को मुंबई बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष मोहित भरतिया के साथ सड़क मार्ग से गोवा जाना था। लेकिन उन्हें महाराष्ट्र के पुणे ले जाया गया जहां से उनके गोवा के लिए उड़ान लेने की संभावना है। 

महाराष्ट्र के बीजेपी विधायक प्रसाद लाड ने कहा था कि ये 14 विधायक मुंबई के लक्जरी होटल से चले गये जहां उन्हें सोमवार को शाम पांच बजे तक ठहराया गया था। उनके गोवा के एक रिसोर्ट में ठहरने की संभावना है। गोवा के एक मुंबई नेता ने अपनी पहचान नहीं उजागर करने की शर्त पर कहा, ‘‘ वे मंगलवार को विशेष विमान से गोवा आ सकते हैं। एक पांचसितारा होटल में उनके ठहरने का प्रबंधन किया गया है।’’ 

कर्नाटक की सालभर पुरानी कांग्रेस-JSD गठबंधन सरकार इन विधायकों के इस्तीफे की वजह से गिरने की कगार पर पहुंच गयी है। कर्नाटक विधानसभा में एक नामित विधायक समेत 225 सदस्य हैं। सदन में इसकी आधी सदस्य संख्या 113 होती है। इन इस्तीफों से पहले विधानसभा में कांग्रेस के 78, JSD के 37 और बीजेपी के 105 विधायक थे। कांग्रेस-JSD गठबंधन को विधानसभा में 119 विधायकों का समर्थन प्राप्त था।