BREAKING NEWS

राज्यसभा मार्शल्स की नई वर्दी पर उठे सवाल, वैंकेया नायडू ने पुनर्विचार के दिए आदेश◾मायावती ने प्रदूषण पर जताई चिंता, कहा- संसद में चर्चा के बाद ठोस नीति बनाए सरकार ◾हंगामे के बाद राज्यसभा दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित, लोकसभा में किसानों के मुद्दे को लेकर विपक्ष ने की नारेबाजी◾रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सियाचिन में सेना के जवानों और उनके कुलियों की मौत पर जताया शोक◾शिवसेना ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- एनडीए की अनुमति ली थी क्या? ◾संजय राउत का शायराना ट्वीट- 'अगर जिंदगी में कुछ पाना हो तो तरीके बदलो इरादे नहीं'◾सरहदों की निगरानी के लिए ISRO लॉन्च करेगा कार्टोसैट-3, दुश्मन देशों की हरकतों पर रहेगी नजर ◾जलियांवाला बाग राष्ट्रीय स्मारक संशोधन विधेयक राज्यसभा में आज होगा पेश◾JNU छात्र आज फिर उतर सकते है सड़को पर, प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे स्टूडेंट ◾1 दिसंबर से ग्राहकों की जेब पर बढ़ेगा बोझ, ये दूरसंचार कंपनियां बढ़ाएंगी मोबाइल सेवाओं की दरें◾इंदिरा गांधी की जयंती पर PM मोदी, सोनिया, मनमोहन और प्रणब मुखर्जी ने दी श्रद्धांजलि◾महाराष्ट्र : महीनेभर बाद भी एक ही सवाल, कब और कैसे बनेगी सरकार? ◾झारखंड के चुनाव परिणाम बिहार राजग पर डालेंगे असर! ◾ खट्टर ने स्थानीय युवाओं को नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक न लाने के संकेत दिए ◾सबरीमला में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़, 2 महिलायें वापस भेजी गयी ◾जेएनयू छात्रसंघ पदाधिकारियों का दावा, एचआरडी मंत्रालय के अधिकारी ने दिया समिति से मुलाकात का आश्वासन ◾प्रियंका गांधी ने इलेक्टोरल बांड को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾TOP 20 NEWS 18 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पवार बोले- किसी के साथ सरकार बनाने पर चर्चा नहीं◾INX मीडिया धनशोधन मामला : चिदंबरम ने जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को न्यायालय में दी चुनौती ◾

देश

कांग्रेस ने गठबंधन का फैसला राहुल गांधी पर छोड़ा, गठबंधन को लेकर दो राय

नई दिल्ली : दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर लंबे समय से चली आ रही ऊहापोह की स्थिति के बीच पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित तथा दिल्ली कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने सोमवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की और तालमेल का फैसला उन पर छोड़ दिया। गांधी से मुलाकात के दौरान आप के साथ तालमेल को लेकर एक बार फिर दो राय सामने आई।

सूत्रों के मुताबिक, प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष शीला दीक्षित तथा तीनों कार्यकारी अध्यक्षों हारुन यूसुफ, राजेश लिलोठिया और देवेंद्र यादव तथा कुछ अन्य नेताओं ने अरविंद केजरीवाल की पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करने के रुख को दोहराया तो पूर्व अध्यक्ष अजय माकन, सुभाष चोपड़ा, ताजदार बाबर और अरविंद सिंह लवली ने गठबंधन की पैरवी की। बैठक में शामिल एक नेता ने बताया कि मुलाकात के दौरान कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी पीसी चाको ने प्रदेश में पार्टी के 12 जिला अध्यक्षों, वरिष्ठ नेताओं और तीन नगर निगमों में पार्टी के पार्षदों द्वारा हस्ताक्षरित पत्र भी गांधी को सौंपे जिनमें गठबंधन की पैरवी की गई है।

सूत्रों का कहना है कि गठबंधन के बारे में फैसला राहुल गांधी पर छोड़ दिया गया है। आप दिल्ली में कांग्रेस के गठबंधन की पैरवी करती आ रही है, लेकिन कांग्रेस ने अब तक अपना रुख साफ नहीं किया है। बहरहाल, कांग्रेस का स्पष्ट रुख नहीं होने पर आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की सभी सात सीटों पर उम्मीदवार घोषित कर दिया है। गौरतलब है कि दिल्ली की सभी सातों सीटों पर एक चरण में मतदान होगा। दिल्ली में छठे चरण में 12 मई को मतदान होगा। वोटों की गिनती 23 मई को होगी।