BREAKING NEWS

कोरोना ने सुप्रीम कोर्ट में दी दस्तक, कई कर्मचारी हुए संक्रमित, पूरे परिसर को किया जाएगा सैनिटाइज ◾दुनियाभर में कोरोना केस का आंकड़ा 13.58 करोड़ से अधिक, मरने वालों का आंकड़ा 29.3 लाख के पार ◾टीका उत्सव के पहले दिन 27 लाख से अधिक लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन : स्वास्थ्य मंत्रालय◾राकेश टिकैत बोले- केंद्र सरकार आमंत्रित करती है तो किसान वार्ता के लिए तैयार◾आज का राशिफल (12 अप्रैल 2021)◾ प्रधानमंत्री मोदी ने कर्नाटक को माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर ध्यान केंद्रित करने को कहा ◾बंगाल में बोले गृहमंत्री अमित शाह : दीदी के भाषण के कारण हुई 4 युवकों की मौत ◾मथुरा में गिरिराज परिक्रमा बंद, बिहारी जी के मंदिर के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा ◾राणा और त्रिपाठी के अर्धशतक, कोलकाता नाइट राइडर्स 10 रन से जीता ◾संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में एनएसयूआई ने सभी पदों पर जीत हासिल की ◾महाराष्ट्र में एक दिन में कोविड-19 के रिकॉर्ड 63,294 नए मामले ◾महाराष्ट्र में लॉकडाउन पर आखरी फैसला 14 अप्रैल के बाद होगा : राजेश टोपे ◾दिल्ली में कोरोना का विस्फोट, 10 हजार से अधिक नए मामले की पुष्टि, 48 मरीजों की मौत◾कूचबिहार की घटना मतदाताओं को डराने के लिए रचे गए भाजपा के षड़यंत्र का परिणाम: CM ममता ◾अनिल विज ने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को लिखा पत्र, प्रदर्शन कर रहे किसानों के साथ फिर से शुरू करें बातचीत◾PM लॉकडाउन पर फैसला तब लेंगे, जब बंगाल में चुनाव खत्म होंगे: संजय राउत ◾शांतिपुर में अमित शाह का रोडशो, ममता पर लगाया मृत्य पर तुष्टिकरण की राजनीति का आरोप◾सीबीएसई बोर्ड ने सर्कुलर किया जारी, प्रियंका गांधी ने शिक्षा मंत्री को लिखा पत्र◾कांग्रेस का केंद्र पर वार, कहा- सरकार की नीतियों के कारण भारतीयों पर कहर बरपा रहा है कोरोना ◾वैक्सीन उत्सव : PM मोदी ने देशवासियों को महामारी से लड़ने के लिए दिया चार सूत्रीय फॉर्मूला ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

प्रेस कांफ्रेंस में गैस सिलेंडर लेकर पहुंचे कांग्रेस प्रवक्ता, एलपीजी मूल्य वृद्धि पर केंद्र को घेरा

एलपीजी मूल्य वृद्धि के खिलाफ विरोध जताते हुए कांग्रेस की एक प्रवक्ता ने बृहस्पतिवार को एक खाली सिलेंडर पर बैठकर संवाददाता सम्मेलन किया और पार्टी ने मोदी सरकार पर ‘‘जनविरोधी’’ होने के आरोप लगाए। हर श्रेणी के रसोई गैस के मूल्य में 25 रुपये प्रति सिलेंडर की बढ़ोतरी करने पर कांग्रेस ने सरकार पर प्रहार किया है। सब्सिडी वाले गैस तथा उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के गैस मूल्यों में भी बढ़ोतरी की गई है। 

सरकार पर हमला बोलते हुए कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने कहा कि घरेलू गैस की कीमतों में पिछले तीन महीने में 200 रुपये की बढ़ोतरी हुई है और पेट्रोल तथा डीजल के मूल्य आसमान छू रहे हैं। प्रियंका गांधी ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘मोदी सरकार की पिच आम आदमी के लिए उच्च मूल्यों से भरा हुआ है जबकि सरकार दोनों छोर से अपने अरबपति दोस्तों के लिए बैटिंग कर रही है।’’ 

बाद में एलपीजी मूल्य वृद्धि पर पार्टी के संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत और पार्टी के सचिव (संचार) विनीत पुनिया सरकार के कदम के खिलाफ खाली सिलेंडर पर बैठे। माइक भी गैस सिलेंडर पर रखा हुआ था। श्रीनेत ने कहा कि सिलेंडर का अब यही इस्तेमाल है क्योंकि इन्हें भराना अब बहुत महंगा हो गया है। 

सरकार की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘मोदी स्टेडियम का नाम अपने नाम पर कराना पसंद करते हैं लेकिन केवल पेट्रोल के मूल्यों में शतक बना पाए हैं जिसकी कीमत प्रति लीटर 100 रुपये से ज्यादा हो गई है।’’ श्रीनेत ने कहा, ‘‘आप (सरकार) जनविरोधी क्यों हो गए। आप कीमतें क्यों बढ़ा रहे हैं। आप बढ़े हुए उत्पाद शुल्क क्यों नहीं कम कर रहे हैं।’’ 

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘यह सरकार न केवल मूल्यों में बढ़ोतरी करती है बल्कि सरासर झूठ भी बोलती है।’’ उन्होंने कहा ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मूल्यों में बढ़ोतरी के लिए कांग्रेस नीत संप्रग सरकार पर कच्चे तेल के आयात को लेकर आरोप लगाते हैं लेकिन सच्चाई यह है कि हमारे समय में कच्चे तेल का आयात 83 फीसदी से बढ़कर ‘‘उनके कार्यकाल में 88 फीसदी हो गया है।’’ 

श्रीनेत ने कहा, ‘‘सरकार एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी को लेकर भी झूठ बोलती है। सच्चाई यह है कि इस सरकार ने बाजार भाव और नियंत्रित भाव एक जैसा कर दिया है। बाजार भाव और नियंत्रित भाव का अंतर ही सब्सिडी होता है। इस तरह से अगर आप 794 रुपये बाजार भाव पर भुगतान कर रहे हैं और नियंत्रित भाव 500 रुपये है तो आपको 294 रुपये की सब्सिडी मिलती है।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन इस सरकार में बाजार मूल्य और नियंत्रित मूल्य एक जैसे हो गए हैं और सब्सिडी खत्म हो गई है क्योंकि मूल्यों में लगातार बढ़ोतरी की गई। दिसंबर से अभी तक मूल्यों में 200 रुपये की बढ़ोतरी हुई है।’’ उन्होंने कहा कि सरकार आम आदमी को पेट्रोल, डीजल या गैस के बोझ तले दबाना चाहती है।