BREAKING NEWS

डॉक्टरों की देशभर में प्रदर्शन, महाराष्ट्र में 40,000 डॉक्टर हड़ताल पर ◾डॉक्टरों की सुरक्षा की मांग वाली याचिका पर सुनवाई कल : सुप्रीम कोर्ट ◾17वीं लोकसभा का पहला सत्र प्रारंभ, PM मोदी सहित नवनिर्वाचित सांसदों ने ली शपथ ◾संसदीय लोकतंत्र में सक्रिय विपक्ष महत्वपूर्ण, संख्या को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं : PM मोदी ◾वर्ल्ड कप में भारत की पाकिस्तान पर सबसे बड़ी जीत, लगा बधाईयों का तांता, अमित शाह ने बताया एक और स्ट्राइक ◾IMA की हड़ताल में शामिल होंगे दिल्ली के अस्पताल, AIIMS ने किया किनारा ◾ममता आज सचिवालय में जूनियर डॉक्टरों से करेंगी बैठक◾विश्व कप 2019 Ind vs Pak : भारत ने पाकिस्तान को डकवर्थ लुइस नियम के तहत 89 रन से रौंदा◾IMA के आह्वान पर सोमवार को दिल्ली के कई अस्पतालों में नहीं होगा काम ◾सभी वर्गों को भरोसे में लेकर करेंगे सबका विकास : PM मोदी◾PM मोदी ने आतंकवाद के खिलाफ कूटनीतिक और रणनीतिक रिवायत को बदला : जितेन्द्र सिंह◾प्रणव मुखर्जी से मिले नीतीश कुमार◾बिहार में AES की रोकथाम और इलाज के लिए हरसंभाव सहायता देगा केंद्र : हर्षवर्द्धन◾कश्मीरी अलगाववादी नेताओं को विदेशों से मिला धन, निजी फायदे के लिए उसका किया इस्तेमाल : NIA◾Top 20 News - 16 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾एक राष्ट्र, एक चुनाव पर बात करने के लिए PM मोदी ने सभी दलों के प्रमुखों को किया आमंत्रित◾प्रदर्शनकारी डॉक्टरों ने कहा, CM जगह तय करें लेकिन बैठक खुले में होनी चाहिए ◾बिहार : मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से मरने वाले बच्चों का आंकड़ा पहुंचा 93 ◾नए चेहरों के साथ संसद में आए नई सोच, तभी बनेगा नया भारत : PM मोदी◾धर्मयात्रा नहीं राजनीति करने आए है उद्धव ठाकरे : इकबाल अंसारी◾

देश

अगले 2 महीनों में कांग्रेस को मिल जाएगा नया अध्यक्ष, गांधी परिवार का नहीं होगा सदस्य : सूत्र

साल 2019 के लोकसभा चुनाव में हार के बाद से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने पद से इस्तीफा देने की बात पर अड़े हुए हैं। वही , गांधी परिवार ने यह भी साफ किया है कि प्रियंका भी अध्यक्ष नहीं बनेंगी। 

आपको बता दे कि राहुल ने पिछली कार्यसमिति की बैठक में यह साफ कर दिया था कि इसमें प्रियंका गांधी को ना घसीटा जाए। वहीं , सोनिया गांधी अपने स्वास्थ्य को लेकर पहले ही पार्टी में अपनी सक्रियता कम कर चुकी हैं। 



ऐसे में कांग्रेस के बड़े सूत्रों का माने तो कांग्रेस का अगला अध्यक्ष गैर गांधी होगा और अगले दो महीने में नया अध्यक्ष चुन लिया जाएगा। अब कांग्रेस में वैसे नामों पर विचार किया जा रहा है जिसपर गांधी परिवार की भी मूक सहमति हो और वह बाकी कांग्रेस के वरिष्ट्र नेताओं को स्वीकार्य हो। 

आपको बता दे कि एक ओर राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा वापस न लेने पर अड़े रहने की स्थिति में पार्टी के सदस्य कांग्रेस के एक से ज्यादा कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने के अपने मॉडल को पेश करने की प्रक्रिया में जुट गए हैं।

पार्टी के नए उत्तराधिकारी के बारे में काफी मंथन के बाद पार्टी के सदस्यों के बीच इस बात पर सहमति बनी कि कांग्रेस के दो कार्यकारी अध्यक्ष होने चाहिए। उनमें से एक अगर दक्षिण भारत से हो तो पार्टी के लिए अच्छा होगा। वहीं एक प्रस्ताव यह भी है कि कार्यकारी अध्यक्ष अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों में से होने चाहिए।

पार्टी सूत्रों के अनुसार , इस संबंध में कुछ नाम प्रस्तावित किए गए हैं। इनमें अनुसूचित जाति के 2 नेता सुशील कुमार शिंदे और मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल हैं। वहीं इनके साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम भी युवा अध्यक्ष के तौर पर लिया गया है।

सूत्रों ने बताया कि नया सेट-अप संसद के बजट सत्र से पहले हो सकता है। 

इसके पहले पार्टी ने तीन कार्यकारी अध्यक्ष के लिए प्रस्ताव दिया था। कहा गया कि उत्तर, दक्षिण और पूर्वी भारत से एक-एक और अगर चौथा अध्यक्ष पश्चिम भारत से चुना जाए तो कोई हर्ज नहीं। 

सूत्रों ने यह भी बताया कि क्षेत्रीय नेता, जिन्होंने पार्टी नेतृत्व की राय में व कांग्रेस के अभियान में पूरा योगदान नहीं दिया, वह इसकी कीमत चुका सकते हैं। इनमें से एक राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी शामिल हैं। 

ज्ञात हो कि गहलोत के बेटे वैभव गहलोत की जोधपुर क्षेत्र से हार हुई थी। इस हार का ठीकरा उन्होंने राज्य कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट और राज्य के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट पर फोड़ा था। हालांकि सार्वजनिक तौर पर वह आपसी एकता बनाए नजर आते हैं।