BREAKING NEWS

तुर्किये और सीरिया में आए भीषण भूकंप में 6,200 से अधिक लोगों की मौत◾सुप्रीम कोर्ट में MCD मेयर चुनाव के लिए आप की याचिका पर बुधवार को होगी सुनवाई ◾युवा कांग्रेस ने अडाणी समूह के मामले को लेकर किया प्रदर्शन◾मनोज तिवारी : केजरीवाल मंदिर के पुजारियों के साथ अन्याय कर रहे हैं, इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा◾Bilkis Bano case: सुप्रीम कोर्ट ने दोषियों की सजा में छूट के खिलाफ याचिका पर जल्द सुनवाई का दिया आश्वासन◾अमित शाह बोले- नयी सहकारिता नीति बनने से देश में सहकारी आंदोलन मजबूत होगा◾'कांग्रेस की अडाणी से नजदीकी...', राहुल गांधी के बयानों पर भाजपा सांसद निशिकांत दुबे का पलटवार ◾ममता बनर्जी बोलीं- सिर्फ TMC ही ‘डबल इंजन’ सरकार को सत्ता से कर सकती है बाहर◾असम : बाल विवाह के खिलाफ कार्रवाई के बाद अब समय सीमा के अंदर आरोपपत्र दाखिल करने की बड़ी चुनौती ◾श्रद्धा वाकर हत्याकांड में अदालत ने चार्जशीट पर लिया संज्ञान, 21 को सुनवाई◾ UP Politics: राहुल गांधी का बड़ा आरोप, बोले- 'CM योगी धार्मिक नेता नहीं, बल्कि एक मामूली ठग, बीजेपी कर रही अधर्म'◾AgustaWestland Scam: सुप्रीम कोर्ट ने बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल को जमानत देने से इंकार किया◾CM हिमंत बोले- त्रिपुरा की क्षेत्रीय अखंडता से समझौता नहीं करेगी भाजपा◾झारखंड : मंडी शुल्क के खिलाफ अनाज व्यापारियों का आंदोलन, दुकानें और प्रतिष्ठान बंद रखने का निर्णय ◾गृह मंत्रालय का बड़ा ऐलान, 'देश के 31 जिलों में अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का प्रावधान'◾पुजारियों को वेतन देने की मांग को लेकर BJP ने केजरीवाल के घर के बाहर किया प्रदर्शन◾Chinchwad bypoll: नाना काटे होंगे एमवीए के उम्मीदवार, भाजपा ने अश्विनी जगताप को दिया चांस ◾आंध्रप्रदेश : आरपीआई नेता के कार्यालय में लगाई आग, दफ्तर पूरी तरह जलकर खाक◾रोडवेज बसों का बढ़ा किराया, अखिलेश यादव बोले- यूपी सरकार ‘‘इन्वेस्टर्स समिट’’ का खर्च जनता से चाहती है वसूलना◾HAL की आलोचना पर कर्नाटक BJP ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- माफी मांगें राहुल गांधी◾

Draupadi Murmu: द्रोपदी मुर्मू ने कहा- नागरिकों के कल्याण पर विशेष ध्यान दें अधिकारी

राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने औपचारिक रूप से कहा कि वह राष्ट्रीय महत्व की नीतियों को लागू करते समय नागरिकों के कल्याण का विशेष ध्यान रखें। 

द्रौपदी मुर्मू के सामने विपक्ष की एकता कैसे बिखरती गई - BBC News हिंदी

 मुर्मू ने बुधवार को उनसे मिलने आये भारतीय पुलिस सेवा, भारतीय डाक सेवा, भारतीय रेलवे लेखा सेवा तथा भारतीय राजस्व सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों और भारतीय रेडियो नियामक सेवा के अधिकारियों से मुलाकात के दौरान कहा कि उन्हें सर्वोच्च जिम्मेदारी वाले पदों के लिए चुना गया है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय महत्व की नीतियों को लागू करने और लोगों के भविष्य को आकार देने के संबंध में शासन प्रणाली को अधिकारियों की क्षमताओं पर विश्वास है इसलिए उनसे अपेक्षा की जाती है कि वह निर्णय लेते समय नागरिक-केंद्रित दृष्टिकोण अपनाएं। उन्होंने अधिकारियों को लक्ष्यों और कार्यों के बारे में जागरूक रहने की सलाह देते हुए कहा कि उन्हें अपने लक्ष्यों और उद्देश्यों को राष्ट्र के व्यापक लक्ष्यों के साथ अनुरूप बनाना चाहिए।

Draupadi Murmu will go to meet Brahma Kumaris for the first time after  becoming the President many ministers will also be with her - India Hindi  News - राष्ट्रपति बनने के बाद

राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘यह तकनीक का युग है। प्रशासन और शासन के क्षेत्र में नवाचार की अपार संभावनाएं हैं। शासन को अधिक से अधिक प्रभावी, त्वरित, पारदर्शी और जनता के लिए बनाने को लेकर तकनीक का उपयोग किया जा सकता है।’’ श्रीमती मुर्मू ने भारतीय राजस्व सेवा के प्रशिक्षु अधिकारियों से कहा कि उन्हें यह याद रखना चाहिए कि करदाताओं द्वारा कर कानूनों के अनुपालन को सुगम बनाना और कर चोरी के खिलाफ समग, विश्वसनीय निवारण में योगदान को लेकर उनकी दोहरी भूमिका है। करदाताओं के साथ संवाद को अधिक सम्मानजनक बनाया जाना चाहिए और कर भुगतान प्रणाली को स्वैच्छिक अनुपालन की ओर बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार की फेसलेस मूल्यांकन योजना का उद्देश्य शासन में अधिक पारदर्शिता लाना है।

Droupadi Murmu Profile: Know about the country s first tribal woman  president - India Hindi News - Draupadi murmu Profile: पार्षद से लेकर  राष्ट्रपति तक.... जानें द्रौपदी मुर्मू का अब तक का सफर

राष्ट्रपति ने भारतीय रेडियो नियामक सेवा के कार्यों का उल्लेख करते हुए इसे काफी महत्वपूर्ण सेवा बताया। इस सेवा की कुछ प्रमुख जिम्मेदारियां-स्पेक्ट्रम लाइसेंस का आवंटन, स्पेक्ट्रम नीलामी का आयोजन और जरूरी मंजूरी प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि डिजिटल माहौल में दूरसंचार नेटवर्क के विस्तार और डेटा सेवाओं की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए स्पेक्ट्रम तक पर्याप्त पहुंच जरूरी है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि भारतीय रेडियो नियामक सेवा के अधिकारी प्रासंगिक नीतियां बनाने और उन्हें लागू करने के लिए नए विचार तथा तकनीक लाएंगे।

राष्ट्रपति ने अधिकारियों को सलाह दी कि गरीब से गरीब व्यक्ति के हितों को ध्यान में रखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि चूंकि लोक नीति सामाजिक न्याय का उपकरण है, इसे देखते हुए लोक सेवक सामाजिक परिवर्तन के एजेंट हैं। राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने सार्वजनिक सेवा को अपने करियर के रूप में चुना है, इसलिए हमेशा याद रखें कि वह यहां देश की सेवा करने के लिए हैं।